Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Darjeeling Mail - উত্তরবঙ্গের ঐতিহ্য - Joydeep Roy

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Thu Jun 24 00:24:51 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 812582-0
Large Station Board;
Entry# 749617-0

CRV/Chureb (2 PFs)
چوُریب     चुरेब

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
National Highway 28, District- Sant Kabir Nagar
State: Uttar Pradesh

Elevation: 88 m above sea level
Zone: NER/North Eastern   Division: Lucknow NER

No Recent News for CRV/Chureb
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 6
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 26 News Items  next>>
May 27 (11:52) चुरेब रेल हादसा याद आते ही खड़े हो जाते हैं रोंगटे (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
4477 views

News Entry# 452889  Blog Entry# 4970591   
  Past Edits
May 27 2021 (11:52)
Station Tag: Chureb/CRV added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐/1366147

May 27 2021 (11:52)
Train Tag: Gorakhdham SF Express/12555 added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐/1366147
Stations:  Chureb/CRV  
26 मई 2014 को गोरखधाम सुपरफास्ट ट्रेन चुरेब स्टेशन के सिग्नल आउटर पर हादसे का शिकार हो गई थी। इस हादसे में एक माह की बच्ची सहित कुल 32 लोगों की जान गई थी। चालक दल के दो लोगों की भी मौत हुई थी। हादसे में कुल 158 लोग घायल भी हुए थे।
विकास उपाध्याय, संतकबीर नगर : कहते हैं कि वक्त बीतने के साथ जख्मों का दर्द कम हो जाता है, लेकिन चुरेब रेल हादसे के प्रत्यक्षदर्शियों को वह दिन आज भी याद आता है। दुर्घटना की याद आते ही रोंगटे खड़े हो जाते हैं। सात वर्ष बीतने के बाद भी जब उस हादसे की याद आती है तो सब कुछ वैसा ही मानस पटल चलचित्र की तरफ घूमने लगता है।
...
more...
26 मई 2014 को गोरखधाम सुपरफास्ट ट्रेन चुरेब स्टेशन के सिग्नल आउटर पर हादसे का शिकार हो गई थी। इस हादसे में एक माह की बच्ची सहित कुल 32 लोगों की जान गई थी। चालक दल के दो लोगों की भी मौत हुई थी। हादसे में कुल 158 लोग घायल भी हुए थे। गोरखधाम सुपरफास्ट ट्रेन दुर्घटना की बरसी पर जागरण संवाददाता से बात करते हुए मददगारों और दुर्घटना के शिकार लोगों ने सुनाई डर, खौफ और दर्दभरी दास्तान। उस ट्रेन में परिवार के साथ थे सवार कोरोना क‌र्फ्यू का हो रहा उल्लंघन, सड़कों पर भीड़ यह भी पढ़ें कौवाटार गांव के रहने वाले सुनील चतुर्वेदी ने बताया कि वह उसी ट्रेन में सवार थे। उनकी पत्नी राधा और उनके तीन बच्चों के साथ बहन सुनैना जिसकी गोद में छह महीने की बेटी भी थी। सभी उसी ट्रेन की बोगी संख्या केबी दो में सवार थे। बात करने के दौरान उन्होंने एक लंबी सांस लेते हुए कहा कि भगवान की असीम अनुकंपा है जो हम सभी बच गए थे। हमारे सामने ही मर गया एक व्यक्ति चुरेब के राहुल गुप्ता बताते हैं कि दुर्घटना के समय वह घर में सफाई का काम कर रहे थे। बहुत तेज आवाज हुई। बाहर निकला तो पता चला कि ट्रेन लड़ गई है। मौके पर पहुंचा तो हर तरफ चीख पुकार मची थी। हम लोगों ने बोगी में फंसे एक व्यक्ति जो खून से लथपथ था, को निकालना चाहा तो पता चला कि उसका एक हाथ कट चुका है। थोड़ी ही देर में हम लोगों के सामने ही उसकी मौत हो गई। चुरेब चौराहे पर मिठाई की दुकान चलाने वाले कृष्ण गोपाल बताते हैं कि जब यह हादसा हुआ तो वह अपने दुकान पर मिठाई बना रहे थे। दर्जनों की संख्या में हम लोग तत्काल मौके पर पहुंचे। लोग इतने डरे थे कि हाथ जोड़कर मदद की गुहार लगा रहे थे। हम लोगों ने करीब 15 लोगों को क्षतिग्रस्त बोगी से निकालकर इलाज के लिए अस्पताल भेजा। चुरेब के ही आकाश त्रिपाठी कहते हैं कि जब ट्रेन दुर्घटना हुई तो वह करीब 15 वर्ष के थे। चौराहे से दर्जनों की संख्या में लोग मदद के लिए जा रहे थे। लोगों के साथ वह भी मदद करने के लिए दुर्घटना स्थल पर पहुंचा। वहां की स्थिति देखकर पहले तो है डर गया, लेकिन लोगों की चीख पुकार सुनकर वह मदद में जुट गया। ईश्वर ऐसा मंजर कभी न दिखाएं खिरीडीहा गांव के राम नारायण कहते हैं कि हादसे के कुछ ही मिनट बाद ही वह मौके पर पहुंच गए थे। वहां का भयावह मंजर आज भी कभी-कभी सपने में दिखाई देता है। घायल लोगों की चीख पुकार आज भी कानों में महसूस होती है। भगवान से यही प्रार्थना है कि ऐसा कभी भी और कहीं भी ना हो। एक ही परिवार के नौ लोगों की हुई थी मौत नेपाल के लुंबिनी का एक परिवार बहराइच मेले से वापस घर जा रहा था। गोंडा स्टेशन से परिवार के 17 लोग ट्रेन के जनरल बोगी में बैठ गए। हादसे के बाद मात्र आठ लोगों की ही जान बची। नौ लोगों की इस दुर्घटना में मौत हो गई। जिसमें एक तीन माह की बच्ची भी थी। हादसे के बाद बचे हुए लोग अपनों की तलाश में इधर-उधर भटक रहे थे। रोते रहे, चिल्लाते रहे और अपनों को खोजते रहे। उग्र ग्रामीणों ने स्टेशन में लगा दी थी आग दुर्घटना के तत्काल बाद आसपास के गांव से सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण राहत बचाव कार्य में जुट गए थे। ग्रामीणों ने स्टेशन पर पहुंच कर राहत बचाव कार्य में बाधा डाल रही पहले से खड़ी मालगाड़ी को हटाने के लिए स्टेशन मास्टर से कहा, लेकिन मालगाड़ी के ड्राइवर के फरार होने की वजह से मालगाड़ी को आगे नहीं बढ़ाया जा सकता था। जिस बात से उग्र होकर ग्रामीणों ने पथराव शुरू कर दिया। पथराव होते ही स्टेशन के सभी कर्मचारी स्टेशन छोड़कर भाग गए। जिसके बाद उग्र ग्रामीणों ने स्टेशन में तोड़फोड़ करके आग लगा दी थी।शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप
विकास उपाध्याय, संतकबीर नगर : कहते हैं कि वक्त बीतने के साथ जख्मों का दर्द कम हो जाता है, लेकिन चुरेब रेल हादसे के प्रत्यक्षदर्शियों को वह दिन आज भी याद आता है। दुर्घटना की याद आते ही रोंगटे खड़े हो जाते हैं। सात वर्ष बीतने के बाद भी जब उस हादसे की याद आती है तो सब कुछ वैसा ही मानस पटल चलचित्र की तरफ घूमने लगता है।
Nov 30 2018 (07:48) चुरेब के पास टूटी पटरी, कासन पर चलाई जा रही ट्रेनें (www.livehindustan.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
11230 views

News Entry# 370358  Blog Entry# 4054535   
  Past Edits
Nov 30 2018 (07:48)
Station Tag: Chureb/CRV added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739
Stations:  Chureb/CRV  
चुरेब रेलवे स्टेशन के पास टूटी पटरी से ट्रेनों का आवागमन हो रहा है। कासन पर ट्रेनें चलाई जा रही हैं। बुधवार को दिन में बकरी चरा रहे लोगों ने टूटी पटरी देखकर मामले की जानकारी दी। सूचना के बाद जिम्मेदार मौके पर पहुंचे। जिम्मेदारों ने वैकल्पिक व्यवस्थाकर मरम्मत का काम नही कराया। पटरी को क्लैप के सहारे बांधकर जिम्मेदार अगले दिन आकर मरम्मत का काम करने की बात कहकर बेपरवाह बन गए। रेल प्रशासन अपने यात्रियों को बेहतर सुविधा देने का दावा करता है। उसके बाद भी अधिकारियों और कर्मचारियों को यात्रियों से कोई लेना देना नही है। 28 नवंबर को दिन में लगभग 12 बजे के आसपास चुरेब रेलवे स्टेशन के पोल संख्या 546/10 और 11 के बीच में रेल पटरी टूटे होने की जानकारी बकरी चराने वालों ने स्टेशन पर दिया। सूचना के बाद अधिकारी और कर्मचारी मौके पर पहुंचकर निरीक्षण किए। इसके बाद पटरी को क्लैंप के सहारे...
more...
बांधकर वैकल्पिक काम करने के बाद कासन पर ट्रेन चलाने की मंजूरी दे दी।इसके साथ ही अगले दिन आकर पटरी सही करने की बात कहकर वहां से रवाना हो गए। रेलवे से जुडे़ सूत्रों की मानें तो कर्मचारियों ने सेड्यूल चेंज होने की बात कहकर काम करने से मना कर दिया। स्टेशन अधीक्षक ऋषिकेश ने बताया कि 13:55 बजे से ही डाउन लाइन पर ट्रेन कासन पर चल रहीं हैं। मामले की जानकारी उच्चाधिकारियों को दे दी गई है। सेक्शन इंजीनियर शशि भूषण वर्मा ने बताया कि इस समय चार्ज किसी और के पास है। जबकि सेक्शन इंजीनियर आशुतोष श्रीवास्तव ने बताया कि मामले की जानकारी हुई है। कर्मचारियों को काम पर लगाया गया था, मौके पर पहुंचकर देखने के बाद भी सही जबाब दिया जा सकेगा।
Nov 29 2018 (22:11) लापरवाही : टूटी पटरी से ट्रेनों की हो रही आवाजाही कांटे (epaper.livehindustan.com)
Major Accidents/Disruptions
NER/North Eastern
0 Followers
11890 views

News Entry# 370312  Blog Entry# 4054041   
  Past Edits
Nov 29 2018 (22:11)
Station Tag: Chureb/CRV added by ♤The Silent Traveller ♧♤*^~/206964
Stations:  Chureb/CRV  
| हिन्दुस्तान संवाद** - 29 Nov 2018Image ViewAAA
.
चुरेब रेलवे स्टेशन के पास टूटी पटरी से ट्रेनों का आवागमन हो रहा है। कासन पर ट्रेनें चलाई जा रही हैं। बुधवार को दिन में बकरी चरा रहे लोगों ने टूटी पटरी देखकर मामले की जानकारी दी। सूचना के बाद जिम्मेदार मौके पर पहुंचे। जिम्मेदारों ने पटरी को क्लैप के सहारे बांध दिया और अगले दिन मरम्मत की बात कह चले गए। .
28
...
more...
नवंबर को दिन में लगभग 12 बजे के आसपास आम लोगों ने चुरेब रेलवे स्टेशन के पोल संख्या 546/10 और 11 के बीच में रेल पटरी टूटे होने की जानकारी स्टेशन पर दी। सूचना के पर पहुंचे अधिकारियों ने पटरी को क्लैंप के सहारे बांधकर वैकल्पिक काम करने के बाद कासन पर ट्रेन चलाने की मंजूरी दे दी। इसके साथ ही अगले दिन आकर पटरी सही करने की बात कहकर वहां से रवाना हो गए। .
.
चुरेब स्टेशन के पोल संख्या 546/10 और 11 के बीच टूटी रेल पटरी ' हिन्दुस्तान .
Sep 30 2018 (12:47) यार्ड में खड़ी मालगाड़ी से चुराते थे चीनी, सीआइबी ने पकड़ा (www.jagran.com)
Crime/Accidents
NER/North Eastern
0 Followers
11552 views

News Entry# 361874  Blog Entry# 3854194   
  Past Edits
Sep 30 2018 (12:48)
Station Tag: Chureb/CRV added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739
Stations:  Chureb/CRV  
गोरखपुर, (जेएनएन) :  रेलवे सुरक्षा बल की सीआइबी टीम ने चुरेब स्टेशन से तीन लोगों को गिरफ्तार कर यार्ड में खड़ी मालगाडिय़ों से चीनी व आदि सामान चुराने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। चुरेब में खड़ी मालगाड़ी से 25 सितंबर को 36 बोरा चीनी गायब हो गया थी। सीआइबी गोरखपुर के प्रभारी निरीक्षक मुकेश कुमार सिंह, बस्ती पोस्ट के प्रभारी निरीक्षक नरेंद्र यादव इस मामले की जांच में जुटे थे। टीम ने चुरेब स्टेशन पर संदेह के आधार पर तीन को पकड़ लिया। पूछताछ में पता चला कि वे गिरोह बनाकर यार्ड में खड़ी मालगाडिय़ों से सामान चुराते हैं। उनकी निशानदेही पर 34 बोरा चीनी बरामद की गई। पकड़े गए कृष्ण कुमार त्रिपाठी निवासी मडैया, वार्ड नंबर 4 थाना कोतवाली खलीलाबाद ने बताया कि उसकी किराना की दुकान है। दुकान पर ही वह चीनी और अन्य सामानों की खपत करता है। आरपीएफ पोस्ट बस्ती ने कृष्ण कुमार के अलावा...
more...
पकड़े गए राम कुमार निवासी मोती चौराहा खलीलाबाद और अंकित राय निवासी बुद्धा काला थाना कोतवाली खलीलाबाद के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इनके पास से आटो रिक्शा और बाइक भी बरामद की है।
Nov 21 2016 (18:20) गोरखधाम और मालगाड़ी में टक्कर की दुर्घटनाओं ने जो जख्म दिए हैं उसे लोग आज तक नहीं भुला पाए हैं। (epaper.livehindustan.com)
Major Accidents/Disruptions
NER/North Eastern

News Entry# 286309   
  Past Edits
Nov 21 2016 (6:20PM)
Station Tag: Chureb/CRV added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Nov 21 2016 (6:20PM)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Nov 21 2016 (6:20PM)
Train Tag: Lucknow - Barauni Express/15204 added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Nov 21 2016 (6:20PM)
Train Tag: Gorakhdham SF Express/12556 added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964
गोरखपुर वरिष्ठ संवाददातासंतकबीरनगर के पास चुरेब में गोरखधाम और मालगाड़ी में टक्कर की घटना हो या फिर नंदानगर के पास कृषक और बरौनी एक्सप्रेस के बीच भिड़ंत। दोनों दुर्घटनाओं ने जो जख्म दिए हैं उसे लोग आज तक नहीं भुला पाए हैं। 26 मई 2014 को गोरखधाम एक्सप्रेस की चुरेब में खड़ी मालगाड़ी से इतनी जोर से टक्कर हुई कि 25 यात्रियों की मौत हो गई। 50 से ज्यादा यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इस हादसे ने 25 से ज्यादा परिवारों को ऐसा जख्म दिया जो आज तक हरे हैं। अभी इस हादसे दर्द लोग भुला भी नहीं पाए थे कि ठीक चार महीने बाद ही 30 सितम्बर 2014 को नंदानगर में कृषक और बरौनी एक्सप्रेस में भी जोरदार टक्कर हो गई। इस टक्कर में भी 12 लोगों मौत हो गई जबकि 46 यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए थे। एक नवंबर 2009 को गोरखपुर से अयोध्या...
more...
आ रही पैसेंजर ट्रेन नवाबगंज और टिकरी हॉल्ट स्टेशन के बीच चकरसूलपुर गांव के पास मानवरहित रेलवे क्रॉसिंग पर एक ट्रक से टकरा गई थी। इस घटना में 14 लोगों की मृत्यु हो गई और करीब 100 से अधिक लोग घायल हो गए थे।
Page#    Showing 1 to 20 of 26 News Items  next>>

Go to Full Mobile site