Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

यमला-पगला-ट्रेन का-दिवाना - कार्तिक

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Fri Oct 30 19:13:30 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Advanced Search

News Posts by Anupam Enosh Sarkar

Page#    Showing 1 to 5 of 13000 news entries  next>>
प्रयागराज, जेएनएन। कोरोना वायरस के इस संक्रमण काल मेंं ट्रेन मेंं यात्रा करने वाले यात्रियों की संंख्या सीमित ही है। क्‍योंकि बेहद जरूरी होने पर ही लोग यात्रा कर रहे हैं। प्रयागराज जंक्शन पर यात्रियों की गैरमौजूदगी में भी पंखे फर्राटा भर रहे हैं। इससे बेवजह बिजली की खपत हो रही है।
दरअसल, सीट आरक्षित करने के बाद ही ट्रेन में यात्रा करने की अनुमति दी गई है। इसलिए प्लेटफार्मों पर भी सन्नाटा है। लेकिन, प्रयागराज जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर एक पर लगे पंखे चल रहे हैं। एक तरफ शहर के लोग स्मार्ट मीटर लगने से अधिक बिजली का बिल आने की शिकायत कर रहे हैं। बिजली के बिल को लेकर पूरे शहर में हाहाकार मचा है। वहीं, रेलवे में अनायास बिजली
...
more...
की खपत की जा रही है। कोरोना से बचाव के लिए रेलवे स्टेशन के प्रवेश द्वार से प्लेटफार्म तक बैरीकेडिंग कर व्यवस्था चुस्त और दुरुस्त की गई है। ताकि कोई अनायास न घूमे। लेकिन, यात्री नहीं होने के बावजूद कई पंखे भी चलाए जा रहे हैं।
Today (18:00) Indian Railway: किसान स्पेशल ट्रेन, देशभर के किसानों का रुझान लेकिन ताजनगरी में हो रहा ये हाल (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
0 Followers
1743 views

News Entry# 423218  Blog Entry# 4762720   
  Past Edits
Oct 30 2020 (18:00)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Agra Cantt./AGC  
आगरा, जागरण संवाददाता। अनलाक में किसानों को सीधे अपनी फसल को दूसरे शहर की मंडी तक पहुंचाने के लिए रेलवे ने किसान स्पेशल ट्रेन का संचालन शुरू किया। आगरा में भी एक किसान स्पेशल ट्रेन का ठहराव है। सप्ताह में एक बार आने वाली किसान स्पेशल ट्रेन को आगरा से अभी तक कोई बुकिंग नहीं मिली है। रेलवे ने नौ सितंबर से आंध्र प्रदेश के अनंतपुर से नई दिल्ली तक किसान एक्सप्रेस ट्रेन का संचालन शुरू किया था। इस ट्रेन को खासतौर पर किसानों के लिए चलाया गया। इसमें किसान को अपनी फसल ले जाने की सुविधा है। इस ट्रेन का ठहराव आगरा रेल मंडल के धौलपुर और आगरा कैंट स्टेशन पर भी किया गया, जिससे यहां के किसान भी अपनी फसल काे ट्रेन से ले जाकर सीधे मंडी में पहुंचा सके। ट्रेन हर रविवार काे आगरा आती है। पिछले छह सप्ताह में ट्रेन कैंट स्टेशन पर रुकी तो है, लेकिन अभी...
more...
तक यहां से किसी भी किसान ने बुकिंग नहीं कराई है। ट्रेन से कोई अपनी फसल लेकर नहीं गया है। आगरा रेल मंडल के पीआरओ एसके श्रीवास्तव ने बताया कि किसान स्पेशल ट्रेन में आगरा से कोई बुकिंग नहीं हुई है। हर सप्ताह रविवार को कैंट स्टेशन पर ट्रेन आती है। 
आंध्र प्रदेश से आ रहे फल-सब्जी
रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि किसान स्पेशल ट्रेन में आंधप्रदेश से अधिकांश बुकिंग हो रही है। वहां से किसान अपनी फसल को दिल्ली की आजादपुर मंडी ले जा रहे हैं। अधिकांश किसान फल लेकर आ रहे हैं। ट्रेन चलने से उन्हें सीधे अपना माल मंडी में ले जाने में आसानी हुई है। अगर आगरा का कोई किसान अपनी फसल ले जाने के लिए बुकिंग कराना चाहता है तो वो स्टेशन पर पार्सल बुकिंग कार्यालय में संपर्क कर सकता है।
लखनऊ, जेएनएन। UPMRC Update: उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशेन लिमिटेड (यूपीएमआरसी) ने नार्थ साउथ कॉरिडोर के 23 किमी मेट्रो. रूट पर यात्रियों की सुविधा के लिए चार और मेट्रो स्टेशनों पर कियास्क लगाने की तैयारी की थी। अभी तक यह लगने का काम शुरू नहीं हुआ है। वहीं त्योहारी सीजन के दौरान मेट्रो में यात्रियों का ग्राफ जरूर बढ़ने लगा है। 

मेट्रो अफसरों के मुताबिक,  हजरतगंज मेट्रो स्टेशन की तर्ज पर चारबाग, विश्वविद्यालय व मुंशी पुलिया मेट्रो स्टेशन कियास्क लगाए जाने थे। अगर कियास्क लगते तो मेट्रो यात्री रैपिडो का लाभ ले
...
more...
सकते थे। जो एंड्रायड फोन इस्तेमाल नहीं करते। कियास्क पर कार्यरत कर्मी अपने फोन से पहले यात्री द्वारा बताए गए रूट के लिए रैपिडो बुक करते। फिलहाल मेट्रो का दावा है कि यह व्यवस्था जल्द ही कराई जाएगी। एमडी के मुताबिक अगर यात्री के पास एंड्रायड फोन है तो एप डाउनलोड करवाकर उसे रैपिडो बाइक बुक कराने का तरीका भी बताया जाएगा। 



यूपीएमआरसी के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने बताया कि यात्रियों की सुविधा के लिए यह कदम उठाया गया है। वर्तमान में फीडर कनेक्टिविटी की तर्ज पर रैपिडो काम करेगी। नार्थ साउथ कॉरिडोर के 21 मेट्रो स्टेशनों के आसपास चार सौ रैपिडो बाइक मौजूद रहेंगे। यात्री इनका सुबह छह बजे से रात दस बजे तक लाभ ले सकेंगे। उन्होंने बताया कि रजिस्टर्ड गो स्मार्ट कार्ड यूजर्स फ्लैट 40 फीसद तक की छूट लाभ उठा सकते हैं। हालांकि इसके लिए गो स्मार्ट कार्ड जो लखनऊ मेट्रो में डेढ लाख के आसपास है, उन्हें पहले लखनऊ मेट्रो एप पर अपने कार्डको रजिस्टर करवाना होगा। यूपीएमआरसी एमडी के मुताबिक यात्री की सुरक्षा व संरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाएगा।
भागलपुर, जेएनएन। Bihar Election 2020: जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव की तारीख नजदीक आ रही है, वैसे-वैसे लोग भी जीत-हार का आकलन करने लगे हैं। गांव, शहर, चौक-चौराहा से लेकर स्टेशनों पर भी चुनावी चर्चाएं होने लगी है। इस बीच शुक्रवार को स्टेशन पर ट्रेन का इंतजार करने वाले यात्री समय काटने के लिए चुनावी चर्चा करते दिखे। यात्रियों ने प्रतिक्षालय और प्लेटफॉर्म पर ही राज्य का अगला मुख्यमंत्री को तय कर दिया। सुबह के 9.30 बजे थे, एक नंबर प्लेटफॉर्म पर भागलपुर से आनंद विहार टर्मिनल जाने वाली विक्रमशिला कोविड स्पेशल के आने की उद्घोषणा हो रही है। इस ट्रेन से सफर करने वाले यात्री वेटिंग हॉल और प्लेटफॉर्म पर ट्रेन का इंतजार कर रहे हैं।
चुनावी चर्चा छिड़ते ही कूद पड़े दूसरे यात्री भी
...
more...

इंतजार के दौरान मित्र के साथ बैठे राजेश कुमार ने विधानसभा चुनाव का चर्चा छेड़ दिया, बस क्या था। प्लेटफॉर्म और वेटिंग हॉल में बैठे दूसरे यात्री भी इस चुनावी बहस में कूद गए। यात्री चुनावी चर्चा में अपनी-अपनी बात रखने लगे। इस बीच रामानुज ने एनडीए की कार्यकाल में हुए कार्यों पर बात करने लगे, इस पर दूसरे यात्री सुकेश ने यूपीए की कार्यकाल की सराहना करने लगे और इस बार महागठबंधन को ज्यादा सीटें आने की दलील देने लगे, फिर क्या था दोनों दलों के समर्थक में जोरदार बहस शुरू हो गई। दोनों को शांत कराते हुए झुंड में बैठे यात्री रामपुकार ने कहा कि जनता सब जानती है। किसे वोट करना है या नहीं वह तो मतदान का दिन ही तय करेगा। इस बीच घड़ी का कांटा 10 पर पहुंच गया और ट्रेन भी प्लेटफॉर्म पर प्लेस हो रही थी। विक्रमशिला एक्सप्रेस निर्धारित समय 11.15 बजे आनंद विहार टर्मिनल के लिए खुल गई। सभी यात्री अपने-अपने कोच में आरक्षित सीट पर बैठ गए। दरअसल ये स्थिति हर रोज की है। हर रोज स्‍टेशन पर इसी तरह चुनाव की चर्चा होते रहती है।
Today (16:23) शाहजहांपुर से पीलीभीत के बीच ट्रेन से पहले चली टीएमटी दिसंबर से लोगों के लिए चलेगी ट्रेन (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NR/Northern
0 Followers
2015 views

News Entry# 423208  Blog Entry# 4762638   
  Past Edits
Oct 30 2020 (16:23)
Station Tag: Tanakpur/TPU added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Oct 30 2020 (16:23)
Station Tag: Pilibhit Junction/PBE added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Oct 30 2020 (16:23)
Station Tag: Shahjahanpur/SPN added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Oct 30 2020 (16:23)
Station Tag: Bisalpur/BSUR added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Oct 30 2020 (16:23)
Station Tag: Shahbaznagar/SZN added by Anupam Enosh Sarkar/401739
शाहजहांपुर जेएनएन : पूर्वोत्तर रेलवे लाइन पर पहली बार 100 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से ट्रेन चलने जा रही है। जिसका परीक्षण लखनऊ के संरक्षा आयुक्त, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी निर्माण व मंडल रेल प्रबंधक स्वयं करेंगे। लेकिन इससे पहले टीएमटी (ट्रैक रिन्यूवल मशीन) को शहबाजनगर तक भेजा गया है। ताकि ट्रैक मेंटीनेंस में किसी तरह की कोई कमी न रह जाए। शाहजहांपुर से पीलीभीत तक 84 किमी रेल लाइन को ब्राडगेज में बदला गया है। पहले चरण में पीलीभीत से बीसलपुर तक काम पूरा कराया गया। जबकि दूसरे चरण में बीसलपुर से शाहजहांपुर तक रेल पटरी बिछाई गई। इस ट्रैक पर दिसंबर में ट्रेनों का संचालन प्रस्तावित है। ऐसे में लखनऊ के पूर्वोत्तर रेलवे के संरक्षा आयुक्त मोहम्मद लतीफ, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी निर्माण आरके यादव, डीआरएम आशुतोष पंत शुक्रवार को बीसलपुर से ढकिया तिवारी व एक नवंबर को ढकिया तिवारी से शहबाजनगर तक स्पेशल ट्रेन से गति का परीक्षण करेंगे। इसके बाद ब्राडगेज...
more...
लाइन का उद्घाटन करने की तिथि भी तय की जाएगी। ट्रैक रिन्यूवल मशीन से किसी तरह का फाल्ट न मिलने का दावा किया जा रहा है।
70 से 80 किमी प्रति घंटेे थी रफ्तार
शाहजहांपुर से पीलीभीत तक ट्रेन की गति 100 किमी प्रति घंटा रहेगी। जबकि इससे पहले महज 70 से 80 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से ट्रेनें चलाई जा रही थी। संरक्षा आयुक्त की स्पेशल ट्रेन भी 100 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से परीक्षण करेगी।
इन कार्यों को भी कराया जा रहा पूरा
इलेक्ट्रिक से संबंधित कार्यों के अलावा स्लीपर के नीचे पत्थर की पैकिंग, अंडरपास पर टीनशेड डालने व रेल कर्मचारियों के आवास के अधूरे मेंटीनेंस पूरा कराने का काम भी तेज गति से चल रहा है।
31 मई 2018 को बंद हो गया था संचालन
शाहजहांपुर से पीलीभीत व टनकपुर तक चलने वाली ट्रेनों का संचालन 31 मई 2018 को बंद कर दिया गया था। तब से इस मार्ग पर सिर्फ रोडवेज व डग्गामार ही एक मात्र विकल्प है। ट्रेनों का संचालन शुरू होने से यात्रियों को काफी सहूलियत मिलने लगेगी।
Page#    13000 news entries  next>>

Go to Full Mobile site