Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

WAP-7 - तेरे जैसा यार कहाँ , कहाँ ऐसा याराना , याद करेगी दुनियां तेरा मेरा अफसाना. - Arjun Rai

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Fri Jan 15 23:08:47 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
no description available
Entry# 4606670-0

BHUA/Bhua (2 PFs)
بھوآ     भुआ

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Bhua Station Rd, Bhua, Uttar Pradesh 285001
State: Uttar Pradesh

Elevation: 147 m above sea level
Zone: NCR/North Central   Division: Jhansi

No Recent News for BHUA/Bhua
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 4
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 8 of 8 News Items  
Nov 20 2020 (08:10) पनवेल गोरखपुर के इंजन से टकराया पत्थर, बड़ा हादसा टला (m.livehindustan.com)
Major Accidents/Disruptions
NCR/North Central
0 Followers
4563 views

News Entry# 425311  Blog Entry# 4784581   
  Past Edits
Nov 20 2020 (08:11)
Station Tag: Bhua/BHUA added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Bhua/BHUA  
उरई। हिन्दुस्तान संवादभुआ यार्ड में गुरुवार को चालक की सूझबूझ से एक बार फिर बड़ा हादसा होने से टल गया। दरअसल बताया गया है कि मवेशियों का झुंड की वजह से चकरेल का पत्थर पनवेल गोरखरपुर के इंजन से टकरा गया। सूचना मिलने के बाद हरकत में आई आरपीएफ टीम इंस्पेक्टर के साथ मौके पर पहुंची और पूरे मामले की जांच पड़ताल की। इंस्पेक्टर ने बताया कि घबराने वाली कोई बात नहीं हैं। लिखा पढ़ी कर विभागीय कार्रवाई की गई है। चालक के बयान को भी दर्ज किया गया है। वहीं, पूरे घटनाक्रम से आलाधिकारियों को भी अवगत करा दिया गया है।गुरुवार को उस समय आरपीएफ थाने में हड़कंप मच गया, जब पता चला कि भुआ स्टेशन के यार्ड में पनवेल गोरखरपुर के इंजन से कोई पत्थर टकरा गया है। यह खबर सुनते ही इंस्पेक्टर मुकेश गुप्ता के कान खडे़ हो गए और वह आनन फानन में फौरन ही एएसआई किशन...
more...
लाल, रामप्रताप आदि के साथ मौके पर पहुंचे और पूरे मामले की गहनता से जांच पड़ताल की गई। इंस्पेक्टर ने बताया कि पायलट ने जब उन्हें सूचना दी तो वह मौके पर पहुंचे और तहकीकात की। इस दौरान जो पत्थर मिला, वह चकरेल का बताया जा रहा है। अभी तक की जो जांच पड़़ताल की गई हैं, उससे तो यही बात सामने आई है। फिर भी छानबीन चल रही है।बताया गया है कि करीब 15 दिन के भीतर सर्किल क्षेत्र में पनवेल गोरखपुर के इंजन से टकराए पत्थर की घटना दूसरी है। इसके पहले एट के आसपास परीक्षा स्पेशल टे्रन का इंजन भी पत्थर से टकरा गया था। इस मामले में भी आरपीएफ को काफी माथा पच्ची करना पड़ा था।दरअसल आरपीएफ को ही ऐसा कोई सुराग नहीं मिला था, जिससे पत्थर टकराने का पता चल सके। जबकि पायलट ने इस बात की पुष्टि की थी।इंस्पेक्टर मुकेश गुप्ता ने बताया कि लाइन किनारे किसी तरह की कोई पत्थर आदि की घटना न होने पाए, इसको लेकर आरपीएफ लगातार लोगों को जागरूक कर रही है। उन्हें इस दौरान यह भी बताया जा रहा है कि वह इस तरह की हरकत न करेें। यदि करते हुए पकडे़ गए तो उनकी खैर नहीं होगी। कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
Sep 15 2020 (07:42) छुट्टा पशुओं के कारण तीन ट्रेनें रोकी गईं, राप्ती सागर से दो कटे (www.google.co.in)
Crime/Accidents
NCR/North Central
0 Followers
11568 views

News Entry# 418406  Blog Entry# 4715882   
  Past Edits
Sep 15 2020 (07:43)
Station Tag: Bhua/BHUA added by Pankaj/1718748

Sep 15 2020 (07:43)
Station Tag: Orai/ORAI added by Pankaj/1718748

Sep 15 2020 (07:43)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by Pankaj/1718748

Sep 15 2020 (07:43)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Pankaj/1718748

Sep 15 2020 (07:43)
Train Tag: Gorakhpur - Yesvantpur COVID - 19 SF Special/02591 added by Pankaj/1718748
उरई। झांसी-कानपुर रेलवे ट्रैक पर उरई भुआ सेक्शन में अन्ना मवेशियों की धमाचौकड़ी ने तीन ट्रेनों का रास्ता रोक लिया। यही नहीं गोरखपुर से यशवंतपुर जाने वाली राप्तीसागर से कटकर दो मवेशियों की मौत हो गई। ...
more...
सोमवार की सुबह 10.24 बजे झांसी से कानपुर की ओर जाने वाली मालगाड़ी के सामने अन्ना मवेशियों का झुंड आ गया। इसके चलते चालक ने अजनारी रोड रेलवे क्रासिंग नंबर 180 के पास ट्रेन रोक दी। छह मिनट ट्रेन खड़ी रही। इसके बाद 11.27 बजे उरई से झांसी की ओर जा रहे टावर वैगन (ओएचई मरम्मत करने वाली मशीन) के सामने भी अन्ना मवेशियों का झुंड रिनियां रेलवे क्रासिंग के पास आ गया। इस पर टावर वैगन पांच मिनट खड़ी रही। इसके बाद शाम 5.29 बजे गोरखपुर से यशवंतपुर जाने वाली राप्तीसागर एक्सप्रेस से रिनियां रेलवे क्रासिंग नंबर 179 के पास दो अन्ना मवेशियों की टकराकर मौत हो गई। चालक आरके सिंह ने इसकी जानकारी भुआ स्टेशन पर ड्यूटी पर तैनात स्टेशन मास्टर पृथ्वीराज सिंह और कंट्रोल रूम को दी।
Sep 15 2020 (07:34) मालगाड़ी के इंजन में फंसा उल्लू (www.google.co.in)
Major Accidents/Disruptions
NCR/North Central
0 Followers
12406 views

News Entry# 418403  Blog Entry# 4715878   
  Past Edits
Sep 15 2020 (07:34)
Station Tag: Sarsoki/SSKI added by Pankaj/1718748

Sep 15 2020 (07:34)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Pankaj/1718748

Sep 15 2020 (07:34)
Station Tag: Bhua/BHUA added by Pankaj/1718748

Sep 15 2020 (07:34)
Station Tag: Orai/ORAI added by Pankaj/1718748

Sep 15 2020 (07:34)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by Pankaj/1718748
झांसी। मालगाड़ी के इंजन के पिंटो में उल्लू फंसने से रविवार की रात उरई व भुआ स्टेशन के बीच गाड़ी आधे घंटे तक खड़ी रही। बाद में दूसरे पिंटो की मदद से मालगाड़ी को झांसी तक लाया गया। झांसी में जांच के दौरान खराबी के कारण का पता लग सका। ...
more...

रविवार की रात एक खाली मालगाड़ी उरई से झांसी आ रही थी। भुआ स्टेशन के निकट इंजन का पिंटो टूट गया। इससे इंजन को ओएचई लाइन से करंट मिलना बंद हो गया। करंट न मिलने से मालगाड़ी मौके पर खड़ी हो गई। चालक व सह चालक ने इंजन से उतरने के बाद ओएचई लाइन की जांच की, लेकिन उनको कोई फाल्ट तारों में नजर नहीं आया। इस कार्य में करीब आधे घंटे का वक्त लग गया। चूंकि, उस वक्त अगले दो घंटे तक कानपुर झांसी ट्रैक पर कोई दूसरी गाड़ी नहीं थी, इस कारण यातायात बाधित नहीं हुआ। बाद में दूसरे पिंटो की मदद से मालगाड़ी को झांसी तक लाया गया। झांसी में जब खराब पिंटो की जांच की गई तो उसमें उल्लू फंसा पाया गया। इंजन में दो पिंटो रहते हैं, जिनमें एक की मदद से ओवर हैड इलेक्ट्रिक लाइन से करंट लेकर इंजन को चलाया जाता है। एक के खराब होने पर दूसरी पिंटो की मदद ली जाती है।
Sep 11 2020 (01:07) फुटओवर ब्रिज का निर्माण तेज, इसी साल पूरा होगा काम, जिले में शुरू तैयारियां (www.google.co.in)
New Facilities/Technology
NCR/North Central
0 Followers
48842 views

News Entry# 418096  Blog Entry# 4712032   
  Past Edits
Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Bhimsen Junction/BZM added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Lalitpur Junction/LAR added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Khajuraho/KURJ added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Dholpur Junction/DHO added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Bina Junction/BINA added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Babina/BAB added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Mau Ranipur/MRPR added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Chaunrah/CNH added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Malasa/MLS added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Pokhrayan/PHN added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Malasa/MLS added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Bhua/BHUA added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Parauna/PRN added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Sarsoki/SSKI added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Nandkhas/NDK added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Orai/ORAI added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Kanpur Central/CNB added by Pankaj/1718748

Sep 11 2020 (01:07)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by Pankaj/1718748
इसमें मंडल रेल प्रबंधक माथुर द्वारा गत माह अगस्त की उपलब्धियां, नई परियोजनाओं एवं प्रगतिशील कार्यों की जानकारी पॉवर पॉइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से दी गई। प्रेस वार्ता में बड़ी संख्या में पत्रकारों द्वारा भागीदारी की गई तथा विभिन्न मुद्दों पर सकारात्मक चर्चा हुई।
इसमें मंडल रेल प्रबंधक माथुर द्वारा गत माह अगस्त की उपलब्धियां, नई परियोजनाओं एवं प्रगतिशील कार्यों की जानकारी पॉवर पॉइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से दी गई। प्रेस वार्ता में बड़ी संख्या में पत्रकारों द्वारा भागीदारी की गई तथा विभिन्न मुद्दों पर सकारात्मक चर्चा हुई।
झाँसी-कानपुर
...
more...
का दोहरीकरण का कार्य पूर्ण सोशल मीडिया से
झाँसी  मंडल रेल प्रबंधक, झांसी मंडल, उत्तर मध्य रेलवे संदीप माथुर द्वारा वेबेक्स के माध्यम से बुधवार, 9 सितंबर को ऑनलाइन प्रेसवार्ता आयोजित की गई। इसमें मंडल रेल प्रबंधक माथुर द्वारा गत माह अगस्त की उपलब्धियां, नई परियोजनाओं एवं प्रगतिशील कार्यों की जानकारी पॉवर पॉइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से दी गई। प्रेस वार्ता में बड़ी संख्या में पत्रकारों द्वारा भागीदारी की गई तथा विभिन्न मुद्दों पर सकारात्मक चर्चा हुई।
दो अपर मंडल रेल प्रबंधक
मंडल रेल प्रबंधक मंडल ने बताया कि अब मंडल में दो अपर मंडल रेल प्रबंधक हैं, जिनसे इन्फ्रास्ट्रक्चर तथा ऑपरेशन सम्बंधित कार्यों की और बेहतर रूप से मोनिटरिंग हो सकेगी। उन्होंने झाँसी–कानपुर खंड पर दोहरीकरण, बीना-धौलपुर खंड पर तीसरी लाइन तथा महोबा-खजुराहो खंड के विद्युतीकरण के बारे में बताया। मंडल रेल प्रबंधक ने बताया झाँसी से कानपूर खंड का दोहरीकरण कार्य पूर्ण करने का लक्ष्य दिसम्बर रखा गया है। मार्च 2021 तक झाँसी-कानपुर खंड पर नंद्खास-परौना खंड, भुआ-उरई-ससौकी तथा, चौराहा- पुखराया–मलासा का कार्य पूर्ण कर लिया जायेगा।
मऊरानीपुर स्टेशन पर मैकेनिकल इंटरलॉकिंग प्रणाली
उन्होंने कहा कि मंडल द्वारा रानीपुर रोड तथा रोरा पर नवीनतम तकनीकी युक्त इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग का अधिकतर कार्य लॉकडाउन अवधि में ही पूर्ण कर लिया गया था, जिसको अंतिम रूप माह जुलाई-अगस्त में दिया गया। उन्होंने बताया की झाँसी-प्रयागराज खंड में केवल मऊरानीपुर ही एक मात्र स्टेशन रह गया है, जिसमें वर्तमान में मैकेनिकल इंटरलॉकिंग प्रणाली पर कार्य किया जा रहा है, इसी वर्ष माह अक्टूबर में मऊरानीपुर स्टेशन को भी इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग युक्त कर दिया जायेगा तदुपरांत पूरे झाँसी-प्रयागराज खंड पर बिना किसी रुकावट के सभी गाड़ियाँ 110 किमी की गति से संचालित की जा सकेंगी।
झाँसी-बीना खंड पर तीसरी लाइन की पहली इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग के संस्थापन का कार्य बिजौली स्टेशन पर पूर्ण कर लिया गया है। तत्पश्चात खजराहा एवं माह अक्टूबर तक बबीना स्टेशन पर तीसरी लाइन की इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग का कार्य पूर्ण लिया जायेगा। नवम्बर–दिसम्बर में CRS की अनुमोदन के उपरान्त झाँसी-बबीना 25 किमी खंड पर तीसरी लाइन प्रारंभ होने की संभावना है, जिससे रेल संचालन और सुगम हो सकेगा।
मालगाड़ियों की रफ्तार दोगुना
बबीना से ललितपुर के मध्य दो बड़े पुलों पर कार्य चल रहा है। इनके पूर्ण होते ही झाँसी-ललितपुर खंड पर तीसरी लाइन सम्बंधित मूल कार्य लगभग पूर्ण हो जायेंगे। माल गाड़ियों की रफ़्तार को औसत गति को दोगुना कर दिया गया है। इसके साथ-साथ मिशन रफ़्तार के अंतर्गत मंडल के बीना-झाँसी-धौलपुर खंड पर अब 130 किमी की अधिकतम गति से ट्रेन का संचालन किया जा रहा है। उन्होंने अतिरिक्त सूचना देते हुए बताया कि दिनांक 12 सितम्बर से पूर्व में संचालित ट्रेनों के अतिरिक्त 40 जोड़ी ट्रेनों का संचालन किया जायेगा। जिनमें से 05 जोड़ी अतिरिक्त विशेष गाड़ियां झांसी मंडल से गुजरेगी/ प्रारंभ होंगी। सभी रेलगाड़ियां पूर्णत: आरक्षित ट्रेन होंगी।
माल लदान को वर्ष 2024 तक दोगुना करने का लक्ष्य
मंडल रेल प्रबंधक ने कहा कि भारतीय रेल माल लदान को साल 2024 तक दोगुना करने के महत्वाकांक्षी लक्ष्य पर काम कर रही है। इसे प्राप्त करने के लिए भारतीय रेल गैर थोक वस्तुओं के परिवहन में बड़े पैमाने पर प्रवेश करने के साथ-साथ कोयला, पीओएल, स्टील, सीमेंट, लौह अयस्क, खाद्यान्न, उर्वरक जैसी पारंपरिक वस्तुओं की ढुलाई में अपनी हिस्सेदारी को बढ़ाने के लिये प्रयास कर रही है। नान बल्क या ग़ैर थोक सामग्रियां  मुख्यतः सड़क मार्ग से परिवहित होती है,  और इस वृहद क्षेत्र में रेलवे के लिए बड़ा अवसर है जिसे एक उपयुक्त व्यवसायिक  मॉडल को अपनाकर अपने पक्ष में किया जा सकता है। रेल के माध्यम से इन वस्तुओं का परिवहन न केवल सस्ता होगा, बल्कि पर्यावरण के अनुकूल भी होगा।
मंडल को 1.8 करोड़ का राजस्व मिला
अगस्त में ही मंडल के रायरू माल गोदाम से बंगलादेश के लिए O2 रैक लोड किये गए हैं, जिससे मंडल को 1.8 करोड़ का राजस्व प्राप्त हुआ है । मंडल के द्वारा किये जा रहे विशेष प्रयासों से कोविड के दौरान हुई लदान में कमी को पूर्ण किया जा रहा है तथा पिछले वर्ष की तुलना में बेहतर प्रदर्शन हेतु मंडल आगे बढ़ रहा है।
गोदामों के विकास हेतु प्रथम चरण में रायरू, दतिया तथा भीमसेन माल गोदाम को चिन्हित किया गया है, इन माल गोदाम में उजाले का स्तर बढाने, पीने के पानी की उचित व्यवस्था तथा साज सज्जा किया गया मर्चेंट रूम की व्यवस्था की जा रही है। इस प्रेस वार्ता में अपर मंडल रेल प्रबंधक अमित सेंगर तथा वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक नवीन दीक्षित उपस्थित रहे।
झांसी। खजुराहो रेलवे स्टेशन को हर प्रमुख ट्रैक से जोड़ने की तैयारी चल रही है। यहां से हर तरफ के लिए यात्रियों को ट्रेन उपलब्ध होगी। इसके लिए खजुराहो स्टेशन को टर्मिनल (संबंधित ट्रैक का अंतिम स्टेशन) की तरह विकसित किया जाएगा। यहां पर सुविधाएं बढ़ेंगी। ब्लू प्रिंट तैयार कर स्वीकृति के लिए मुख्यालय भेज दिया गया है। बुधवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये आयोजित पत्रकार वार्ता में डीआरएम संदीप माथुर ने उक्त जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अभी खजुराहो से दिल्ली, भोपाल, प्रयागराज की तरफ ट्रेनें उपलब्ध हैं। जल्द ही सतना रूट पर भी खजुराहो से ट्रेन चलाने की तैयारी है। खजुराहो स्टेशन से ज्यादा से ज्यादा ट्रेनें चल सकें, इसके लिए यहां पर प्लेटफार्मों की संख्या बढ़ाने, वाशिंग साइडिंग बनाने, यार्ड बढ़ा करने, यात्री सुविधाएं बढ़ाने का खाका तैयार कर लिया गया है।
झांसी
...
more...
से बबीना तक तीसरी रेल लाइन को दिसंबर तक चालू कर लिया जाएगा। इस महीने मेें खजराहा और झांसी में तीसरी रेल लाइन पर इलेक्ट्रानिक इंटरलॉकिंग और प्वाइंट को जोड़ने का काम पूरा हो जाएगाअक्तूबर में बबीना में ये कार्य कर लिया जाएगा। नवंबर में रेल संरक्षा आयुक्त का निरीक्षण होगा।
झांसी- मानिकपुर ट्रैक पर मऊरानीपुर स्टेशन पर ही इलेक्ट्रानिक इंटरलॉकिंग का काम बाकी बचा है, जिसे जल्द पूरा किया जा रहा है। सीपरी बाजार ओवरब्रिज पर अक्तूबर के पहले सप्ताह से गार्डर रखने का काम शुरू हो जाएगा।
झांसी- कानपुर दोहरीकरण का कार्य दिसंबर 2021 तक पूरा करने का लक्ष्य है। चिरगांव से नंदखास और भुआ से सरसोसी के बीच का ट्रैक जनवरी से चालू होगा। चौरा- पुखरायां- मलासा स्टेशन के बीच मार्च तक ट्रैक चालू होगा।
उन्होंने बताया कि बांग्लादेश के लिए पार्सल व कंटेनर भेजने का काम शुरू कर दिया गया है।ये होता टर्मिनल ये वो स्टेशन होता है जहां से आगे रास्ता नहीं होता है। मतलब ट्रैक का अंतिम स्टेशन। यहां से ट्रेन सिर्फ एक ही दिशा में जा सकती है। यानी जिधर से आई हो, उधर ही वापस। अभी देश में 27 टर्मिनल रेलवे स्टेशन हैं। छत्रपति शिवाजी टर्मिनल और लोकमान्य टर्मिनल देश के सबसे बड़े टर्मिनल स्टेशन हैं। टर्मिनल को टर्मिनस भी कहते हैं।
Page#    Showing 1 to 8 of 8 News Items  

Go to Full Mobile site