Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

No Alcohol No Drugs - the only addiction is Railfanning, to escape the negativity of the world. - Keshav Singh

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sat Jan 23 05:20:49 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search

BAU/Burhanpur (2 PFs)
بُرہانپور     बुरहानपुर

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Lalbagh, Burhanpur
State: Madhya Pradesh

Elevation: 267 m above sea level
Zone: CR/Central   Division: Bhusaval

No Recent News for BAU/Burhanpur
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 82
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 3.4/5 (24 votes)
cleanliness - average (3)
porters/escalators - average (3)
food - average (3)
transportation - good (3)
lodging - good (3)
railfanning - good (3)
sightseeing - excellent (3)
safety - good (3)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 27 News Items  next>>
रेलवे ने दिसंबर की शुरुआत से कई ट्रेनों का समय बदल दिया है। इससे यात्रियों को काफी परेशानी हो रही है। पहले से जिन यात्रियों ने रिजर्वेशन करा रखा है, उन्हें ट्रेन का समय बदलने की जानकारी समय पर नहीं मिल पा रही है। 1 दिसंबर से रेलवे ने ट्रेनों के समय में परिवर्तन किया है।
इसमें कई ट्रेनों का समय तो 10 से 12 घंटे तक बदला है। समय बदलने की जानकारी नहीं होने से यात्री पुराने समय पर ही स्टेशन पहुंच रहे हैं लेकिन तब तक ट्रेन जा चुकी होती है। कई यात्रियों ने स्टेशन पर इसकी लिखित शिकायत की है।
इन
...
more...
ट्रेनों का बदला समय - 02618 अप हजरत निजामुद्दीन-एर्नाकुलम विशेष ट्रेन रात 9.53 बजे {01062 अप दरभंगा-लोकमान्य तिलक टर्मिनस विशेष ट्रेन शाम 4.08 बजे {01094 अप वाराणसी-मुंबई विशेष ट्रेन रात 2.38 बजे {03201 अप पटना-लोकमान्य तिलक टर्मिनस विशेष ट्रेन रात 12.10 बजे {03202 डाउन लोकमान्य तिलक टर्मिनस-पटना विशेष ट्रेन रात 11.03 बजे {09046/09148 अप छपरा-भागलपुर-सूरत विशेष ट्रेन सुबह 8.43 बजे {01061 डाउन लोकमान्य तिलक टर्मिनस-जयनगर विशेष ट्रेन शाम 7.48 बजे {05646 अप गुवाहाटी-लोकमान्य तिलक टर्मिनस विशेष ट्रेन सुबह 9.03 बजे {05645 डाउन लोकमान्य तिलक टर्मिनस-गुवाहाटी विशेष ट्रेन शाम 3.43 बजे {01071 डाउन लोकमान्य तिलक टर्मिनस-वाराणसी विशेष रात 9.46 बजे।
बुरहानपुर. खंडवा लोकसभा क्षेत्र से पांचवीं बार सांसद नंदकुमारसिंह चैहान के गृह जिले में ही तीन यात्री ट्रेनों की सुविधा छिन गई है, लेकिन सांसद ने कोई पहल नहीं की। जबकि सांसद न होते हुए वर्ष 2009-10 में बुरहानपुर निवासी ठाकुर महेंद्र सिंह ने प्रयास कर बुरहानपुर में मंगला एक्सप्रेस ट्रेन का स्टॉपेज कराया था। इस ट्रेन का आज भी बुरहानपुर में नियमित स्टॉपेज है। तब सांसद न होने के बावजूद यह सौगात मिलने पर बुरहानपुर के लोगों ने पूर्व सांसद महेंद्र सिंह का स्वागत भी किया था। परंतु वर्तमान में खंडवा संसदीय क्षेत्र से सांसद नंदकुमारसिंह चैहान रेलवे बोर्ड दिल्ली के सदस्य होने के अलावा भुसावल मंडल में होने वाली बैठकों में भी सांसद के बतौर शामिल होते हैं, लेकिन पिछले दिनों हुई बैठक में भी वह काशी एक्सप्रेस का स्टॉपेज नेपानगर स्टेशन पर दोबारा शुरू कराने मेें सफल नहीं हो पाए। अब एक दिसंबर से कामायनी और महानगरी एक्सप्रेस...
more...
ट्रेनों का स्टॉपेज भी यहां खत्म हो गया।सांसद और अन्य जनप्रतिनिधियों की उदासीनता से नगर के लोगों में जबरदस्त आक्रोश है। काशी और कामायनी एक्सप्रेस ट्रेनों से शहर का व्यापार भी काफी हद तक चलता है, लेकिन पहले काशी और बाद में कामायनी एक्सप्रेस ट्रेन बंद हो गई। लॉक डाउन के दौरान से ही बंद पठानकोट और झेलम एक्सप्रेस भी अब तक शुरू नहीं की गई है। ऐसे में अब नेपानगर में केवल दो ही ट्रेनें रूक रही है। जिसमें कुशीनगर और जनता एक्सप्रेस शामिल है।सांसद को लिखा पत्रमध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी आईटी और सोशल मीडिया सेल के प्रदेश महासचिव धीरज करोसिया तीन ट्रेनों के स्टॉपेज बंद होने पर सांसद नंदकुमारसिंह चैहान को पत्र भेजा। इसमें कहा कि संसद सदस्य के रूप में आपका एक लंबा कार्यकाल रहा है और आप मध्यप्रदेश सहित देश के अनुभवी और बड़े राजनेताओं में शुमार हैं, लेकिन इसके बावजूद आपके संसदीय क्षेत्र में नेपानगर से प्रमुख ट्रेनों का स्टॉपेज बंद हो गया है, जिसमें काशी एक्सप्रेस, महानगरी और कामायनी एक्सप्रेस प्रमुख हैं। इन ट्रेनों का स्टॉपेज उस समय बंद हुआ है, जबकि आप सेंट्रल रेलवे बोर्ड के प्रमुख हैं। बावजूद इसके नेपानगर के साथ ये अन्याय हो रहा है। इससे नेपानगर की जनता को परेशानियां हो रही है और नेपानगर के जनमानस में आपकी छवि एक निष्क्रिय सांसद के रूप में बन रही है। इसलिए इस जनहित से जुड़ी समस्या को शीघ्र हल करने की कृपा करें।डीआरएम के नाम स्टेशन प्रबंधक को सौंपा ज्ञापनट्रेनों के स्टॉपेज बंद किए जाने से आहत आम लोगों, कांग्रेस नेताओं ने मंगलवार दोपहर स्टेशन पहुंचकर डीआरएम के नाम एक ज्ञापन स्टेशन प्रबंधक आसाराम नागवंशी को सौंपा। इसमें कहा गया कि नगर से यह सुविधा छिन जाने से व्यापार, व्यवसाय पर सीधा असर पड़ेगा। इससे पहले काशी एक्सप्रेस बंद की गई। झेलम एक्सप्रेस को भी बंद किया गया। अब कामायनी और महानगरी ट्रेन की सुविधा भी छीन ली गई। जबकि ट्रेनें दूसरे छोटे स्टेशनों पर रूक रही है। इस दौरान कांग्रेस नेता सोहन सैनीए विनोद पाटिल, एसके दास सहित अन्य मौजूद थे।ट्रेनों के स्टॉपेज बंद ही करना था तो क्यों हो रहे करोड़ों के विकास कार्यट्रेनों के स्टॉपेज बंद होने से आमजन में जबरदस्त नाराजगी है। व्यापारी वर्ग भी खफ ा है। सोशल मीडिया पर भी इसका विरोध देखा जा रहा है। लोगों का कहना है कि जब नेपानगर रेलवे स्टेशनन पर स्टापेज बंद ही किए जाने थे तो यहां करोडों के विकास कार्य क्यों कराए जा रहे हैं।
बुरहानपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि) यात्रियों को राहत पहुंचाने के लिए जहां रेलवे ने कई विशेष ट्रेनें चलाई हैं, वहीं इनके हाल्ट और समय में भी परिवर्तन किया है। बुरहानपुर में ठहराव वाली करीब 24 ट्रेनों में से 17 ट्रेनें शुरू हो चुकी हैं। सोमवार को जारी आदेश के मुताबिक छह विशेष ट्रेनों के समय और हाल्ट में परिवर्तन किया गया है। इनमें लोकमान्य तिलक टर्मिनस से पाटलीपुत्र दैनिक, लोकमान्य तिलक टर्मिनस से प्रयागराज द्वि-साप्ताहिक, लोकमान्य तिलक टर्मिनस से प्रयागराज द्वि-साप्ताहिक, लोकमान्य तिलक टर्मिनस से लखनऊ साप्ताहिक, लोकमान्य तिलक टर्मिनस से हरिद्वार द्वि-साप्ताहिक और पुणे से दानापुर दैनिक ट्रेनें शामिल हैं। हालांकि इनमें से सिर्फ दो ट्रेनों का ठहराव बुरहानपुर में दिया गया है, जबकि शेष ट्रेनें जलगांव, भुसावल अथवा इटारसी से पकड़नी होंगी।
लोकमान्य
...
more...
तिलक टर्मिनस से पाटलीपुत्र दैनिक विशेष
-यह विशेष ट्रेन 02141 और 02142 के नाम से एक दिसंबर से चलेंगी। लोकमान्य तिलक टर्मिनस से रात 11.35 बजे और पाटलीपुत्र से सुबह 10.55 पर ट्रेनें रवाना होंगी। इस ट्रेनों का ठहराव ठाणे, कल्याण, नासिक रोड, मनमाड़, जलगांव (केवल 02141), भुसावल, इटारसी, जबलपुर, सतना, प्रयागराज छिवकी, दीनदयाल जंक्शन, जमानिया, बक्सर, आरा और दानापुर में होगा।
लोकमान्य तिलक टर्मिनस से प्रयागराज द्वि साप्ताहिक विशेष
-यह ट्रेन 02293 और 02294 के नाम से क्रमशः एक दिसंबर और चार दिसंबर से चलेंगी। लोकमान्य तिलक टर्मिनस से हर मंगलवार और शनिवार को शाम 5.25 बजे और प्रयागराज जंक्शन से हर सोमवार और शुक्रवार शाम 7.20 बजे छूटेंगी। इन ट्रेनों का ठहराव भुसावल, इटारसी, जबलपुर और सतना में होगा।
लोकमान्य तिलक टर्मिनस से प्रयागराज जंक्शन द्वि-साप्ताहिक विशेष
-यह ट्रेन 02129 और 02130 नंबरों के साथ क्रमशः एक और दो दिसंबर से चलेंगी। लोकमान्य तिलक टर्मिनस से प्रत्येक रविवार और मंगलवार को सुबह 6 बजे और प्रयागराज जंक्शन से प्रत्येक सोमवार और बुधवार शाम 6.30 बजे छूटेगी। इन ट्रेनों का ठहराव ठाणे, कल्याण, नासिक रोड, मनमाड़, भुसावल, बुरहानपुर, खंडवा, हरदा, टिमरनी, इटारसी, हबीबगंज, भोपाल, बीना, ललितपुर, झांसी, मऊरानीपुर, हरपालपुर, महोबा, बांदा, अटारा, चित्रकूट धाम और मानिकपुर में होगा।
लोकमान्य तिलक टर्मिनस से लखनऊ साप्ताहिक विशेष
-यह ट्रेन 02121 और 02122 नाम से क्रमशः पांच और छह दिसंबर से चलेंगी। लोकमान्य तिलक टर्मिनस सेहर शनिवार दोपहर 1.40 बजे और हर रविवार लखनऊ से शाम 4.10 बजे रवाना होगी। इनका हाल्ट ठाणे, कल्याण, नासिक रोड, जलगांव, भुसावल, हबीबगंज, झांसी, ऊरई और कानपुर में होगा।
लोकमान्य तिलक टर्मिनस से हरिद्वार द्वि साप्ताहिक विशेष
-यह ट्रेन 02171 और 02172 नाम से क्रमशः तीन दिसंबर और एक दिसंबर से चलेंगी। लोकमान्य तिलक टर्मिनस से हर सोमवार और गुरुवार सुबह 7.55 बजे और हर शुक्रवार व मंगलवार हरिद्वार से शाम 5.30 बजे रवाना होगी। इनका ठहराव कल्याण, नासिक रोड, भुसावल, भोपाल, झांसी, आगरा छावनी, हजरत निजामुद्दीन, मेरठ शहर, टापरी जंक्शन और रुड़की में होगा।
पुणे से दानापुर दैनिक विशेष
-यह ट्रेन 02149 और 02150 नाम से एक दिसंबर से चलेगी। पुणे से रोजाना रात 9.05 बजे और दानापुर से रात 11.10 बजे रवाना होगी। इन ट्रेनों का ठहराव दौंड, कॉर्ड अहमदनगर बेलापुर, कोपरगांव, मनमाड़, भुसावल, बुरहानपुर, खंडवा, इटारसी, जबलपुर, कटनी, मैहर, सतना, प्रयागराज छिवकी, मिर्जापुर, दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, बक्सर और आरा में होगा।
Aug 12 2020 (07:21) 'किसान रेल' बदल देगी हजारों किसानों की जिंदगी, होंगे ये बड़े फायदे (www.amarujala.com)
0 Followers
66701 views

News Entry# 416224  Blog Entry# 4685895   
  Past Edits
Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Danapur/DNR added by UP Sampark Kranti/2083092

Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Buxar/BXR added by UP Sampark Kranti/2083092

Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Pt. DD Upadhyaya Junction (Mughalsarai)/DDU added by UP Sampark Kranti/2083092

Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Prayagraj Chheoki Junction/PCOI added by UP Sampark Kranti/2083092

Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Manikpur Junction/MKP added by UP Sampark Kranti/2083092

Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Satna Junction/STA added by UP Sampark Kranti/2083092

Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Jabalpur Junction/JBP added by UP Sampark Kranti/2083092

Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Itarsi Junction/ET added by UP Sampark Kranti/2083092

Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Khandwa Junction/KNW added by UP Sampark Kranti/2083092

Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Burhanpur/BAU added by UP Sampark Kranti/2083092

Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Bhusaval Junction/BSL added by UP Sampark Kranti/2083092

Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Manmad Junction/MMR added by UP Sampark Kranti/2083092

Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Nashik Road/NK added by UP Sampark Kranti/2083092

Aug 12 2020 (07:22)
Station Tag: Devlali/DVL added by UP Sampark Kranti/2083092
भारत की पहली ‘किसान रेल’ कृषि विकास और भारतीय रेल के इतिहास में नई इबारत लिखने जा रही है। देश की इस पहली किसान स्पेशल पार्सल रेल के कारण अगर 50 फीसदी उपज का भी ट्रांसपोर्टेशन किया जाता है तो इससे लगभग 45 करोड़ रुपये की हानि को रोका जा सकेगा। सुपर फास्ट गति से चलने वाली  यह ट्रेन सप्ताह में दो बार शुक्रवार और सोमवार को महाराष्ट्र के देवलाली से बिहार के दानापुर तक और वापसी में बिहार से महाराष्ट्र तक चल रही है।विज्ञापनकिसान रेल के चलने से इस इलाके में पैदा होने वाली फल और सब्जी की उपज का 50 फीसदी बचाया जा सकेगा। कृषि कल्याण मंत्रालय के मुताबिक इस रेल के चलने से किसानों की राह आसान होगी और उनकी उपज नष्ट होने से बचेगी  एवं उन्हें सही कीमत मिल सकेगी। इससे उनकी आय को 2022 तक दोगुना करने का लक्ष्य को प्राप्त करने में भी आसानी होगी।  देश में...
more...
अपनी तरह की यह पहली ट्रेन शुक्रवार को पहली बार रवाना हुई। पूरी तरह से यात्रियों रहित किसानों के लिए चलने वाली इस ट्रेन में फल-सब्जियां, मछली-मांस, दूध और जल्द खराब होने वाली खाद्द सामग्री की ढुलाई की जाएगी।  इसके अलावा हर साल इस मौसम में होने वाली प्याज की फसल की किल्लत से भी निजात मिलेगी। बता दें कि नासिक इस मौसम में सबसे ज्यादा प्याज का उत्पादन करता है।लेकिन मजबूत परिवहन के साधन न होने के कारण लगभग 50 फीसदी उपज सड़ कर चली जाती है। अब किसान रेल के चलते यह प्याज आसानी से यूपी, बिहार समेत अन्य राज्यों तक पहुंच सकेगा।सप्ताह में दो बार यह ट्रेन 64 घंटे में 33,38 किलोमीटर का सफर तय करेगी।  वातानूकुलित डिब्बों के कारण इसमें रखे सामान जल्द खराब होने से भी बचेंगे। साथ ही इनकी निर्बाध आपूर्ति में भी सहायता मिलेगी।चार राज्यों से होकर गुजरने वाली ट्रेन बिहार, मध्य प्रदेश , यूपी और महाराष्ट्र जाएगी। जहां इसका पहला पड़ाव नासिक रोड इसके बाद मनमांड, भुस्सावल, बुहानपुर, खंडवा इटारसी, जबलपुर, सतना, माणिकपुर,  प्रयागराज चौकी और पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन और बक्सर स्टेशनों से होते हुए अपने गंतव्य पर पहुंचेगी।रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्रेन के संचालन को एतिहासिक करार दिया था उन्होंने कहा था कि यह रेल खेती करने वाली आय को दोगुना करने में न केवल मदद करेगी बल्कि इसकी मदद से खाद्द पदार्थों की निर्बाध आपूर्ति  भी सुनिश्चित होगी। उन्होंने कहा था कि  1853 में शुरु हुई पहली रेलगाड़ी से किसान रेल तक का सफर भारतीय रेल के शानदार सफर की कहानी बंया करता है।आइसीएआर सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट हार्वेस्ट इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी सीआईपीएचईटी ने 9 अगस्त 2016 को एक रिपोर्ट जारी की थी।  इसके मुताबिक हर साल तकरीबन 92 हजार के खाद्द पदार्थ खराब हो जाते हैं। इसमें  दूध, मीट, मछली, अंडा, अनाज, फल, सब्जी, आदि खाद्य उत्पादों की बात करें तो इसमें से देश भर में हर साल औसतन 40,811 करोड़ रुपए के खाद्य उत्पाद खराब हो जाते हैं।  इसमें सबसे अधिक 1235 करोड़ रुपये के मीट, 4315 करोड़ की समुद्री मछली और 4409 करोड़ के दूध और उससे बने उत्पाद एवं 3877 करोड़ की दालें शामिल हैं। परिवहन से लेकर कोल्ड स्टोरेज, बारिश पानी, गर्मी और मौसमी मार के चलते होने वाली हानि शामिल है। जो अब इस ट्रेन के चलने से एक अनुमान के मुताबिक खासी कम हो जाएगी। केंद्र सरकार की योजना इसी तरह की और ट्रेन चलाने की है। किसान इसके लिए पहले से बुकिंग करा सकेंगे।
May 24 2020 (07:04) आज बिहार के दरभंगा जाएगी श्रमिक स्पेशल ट्रेन, 1600 लोग जाएंगे (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
18618 views

News Entry# 408988  Blog Entry# 4635800   
  Past Edits
May 24 2020 (07:05)
Station Tag: Danapur/DNR added by Adittyaa Sharma^~/1421836

May 24 2020 (07:05)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Adittyaa Sharma^~/1421836

May 24 2020 (07:05)
Station Tag: Prayagraj Junction (Allahabad)/PRYJ added by Adittyaa Sharma^~/1421836

May 24 2020 (07:05)
Station Tag: Satna Junction/STA added by Adittyaa Sharma^~/1421836

May 24 2020 (07:05)
Station Tag: Darbhanga Junction/DBG added by Adittyaa Sharma^~/1421836

May 24 2020 (07:05)
Station Tag: Burhanpur/BAU added by Adittyaa Sharma^~/1421836

May 24 2020 (07:05)
Station Tag: HabibGanj/HBJ added by Adittyaa Sharma^~/1421836

May 24 2020 (07:05)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma^~/1421836
- तेलंगाना से हबीबगंज पहुंचे, लेकिन दो दिन से बुरहानपुर के लिए नहीं मिल रहा साधन
भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। बिहार के लिए रविवार को एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन जाएगी। इसमें 1600 लोग जाएंगे। यह ट्रेन दोपहर में 3 बजे जाएगी। इसके पूर्व हबीबगंज से बिहार के अररिया स्टेशन के लिए भी ट्रेन जा चुकी है। उसमें भी जबरदस्त भीड़ थी।
कोलार एसडीएम राजेश गुप्ता ने बताया कि यह श्रमिक स्पेशल ट्रेन सतना, प्रयागराज, बनारस, दानापुर होते हुए दरभंगा जाएगी। इनमें जाने वाले मजदूर, छात्र व अन्य लोगों की सूची पूर्व से ही तैयार
...
more...
कर ली है। सभी के लिए खानपान की व्यवस्था की है। अतिरिक्त टेंट भी लगाया गया है।
- तेलंगाना से हबीबगंज पहुंचे, लेकिन दो दिन से बुरहानपुर के लिए नहीं मिल रहा साधन
दो मजदूर परिवार तेलंगाना से किसी तरह हबीबगंज रेलवे स्टेशन पहुंचे हैं। अब इन्हें बुरहानपुर जाने के लिए साधन नहीं मिल रहा है। ये स्टेशन परिसर में लगे टेंट में मदद की आस लगाए बैठें हैं। ये दो दिन पहले श्रमिक स्पेशल ट्रेन से आए हैं। इनके साथ बच्चे भी हैं। प्रशासन इन्हें खाना-पानी मुहैया करवा रहा है। जल्द ही अपने जिले बुरहानपुर भेजने का आश्वासन भी दे रहे हैं।
Page#    Showing 1 to 20 of 27 News Items  next>>

Go to Full Mobile site