Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Did you know that the Ganga & Kaveri rivers are connected? ... by Mysore Varanasi Express - Vishwanath Joshi

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Tue Jan 28 02:49:54 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Stream
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 396195
  
पलपल संवाददाता, जबलपुर. इन दिनों पूरे देश में लोगों पर महिलाओं की सुरक्षा पर जमकर उबाल है. संसद से सड़क तक प्रदर्शन हो रहे हैं और महिला सुरक्षा के लिए कड़े उपाय करने की मांग की जा रही है, वहीं दूसरी तरफ महिलाओं से छेडख़ानी के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहा है. ऐसा ही मामला पश्चिम मध्य रेलवे मुख्यालय जबलपुर में सामने आया है, जहां पर पिछले चार दिनों से जमकर हंगामा बरपा हुआ है. यहां के एकाउंट विभाग के एक सेक्शन अधिकारी पर सहकर्मी महिला ने छेडख़ानी का गंभीर आरोप लगाया, जिसके बाद प्रशासन ने उसका तबादला भोपाल मंडल कर दिया, जिस पर मजदूर संघ गरमा गया, उसने तबादला रुकवाने के लिए जमकर प्रदर्शन कर दिया, प्रशासन बैकफुट पर आया और तबादला रोक दिया, फिर क्या था आज गुरूवार 5 दिसम्बर को पमरे मुख्यालय की महिला कर्मी बड़ी संख्या में जमा हुई और एडीशनल जीएम (एजीएम) के...
more...
पास पहुंच गई. अब मामले की जांच विशाखा कमेटी को सौंप दी गई है.
पमरे मुख्यालय के एकाउंट विभाग में सोमवार 2 दिसम्बर की दोपहर में उस समय जमकर अफरा-तफरी मच गई, जब वहां पर पदस्थ सेक्शन आफीसर मनमोहन पाण्डे के खिलाफ उनकी सहकर्मी ने छेडख़ानी का आरोप लगा दिया और घटना की जानकारी लेखा विभाग के आला अधिकारियों को दी. इस दौरान वहां पर जमकर वाद-विवाद भी हुआ. महिला कर्मी की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए मनमोहन पाण्डे का तबादला भोपाल मंडल कर दिया गया.
समर्थन में आया मजदूर संघ
इस मामले में उस समय नया मोड़ ले लिया, जब पश्चिम मध्य रेलवे मजदूर संघ छेडख़ानी के आरोपी मनमोहन पाण्डे के समर्थन में सामने आ गया, यह इसलिए की वह मजदूर संघ का ऑफिस बेरर है. संघ के पदाधिकारियों ने मंगलवार को पमरे के एफएएंडसीएओ के खिलाफ नारेबाजी व प्रदर्शन किया. उसके बाद बुधवार को भी मुख्यालय में नारेबाजी व प्रदर्शन करते हुए मनमोहन पाण्डे के तबादले पर रोक लगाने की मांग की. संघ का कहना था कि पांडे मजदूर संघ का प्रतिनिधि है, उसका तबादला बगैर मजदूर संघ से पूछे नहीं किया जाना चाहिए. साथ ही किसी महिला कर्मी के आरोप पर तुरंत ही तबादला जैसे आदेश नहीं दिये जाने चाहिए. पूरे मामले की जांच की जाए.
पमरे प्रशासन बैकफुट पर तबादला रोका
वहीं पमरे प्रशासन बैकफुट पर आया और सेक्शन अधिकारी के भोपाल मंडल के तबादले को स्टे कर दिया, लेकिन उसे दूसरे सेक्शन भेजते हुए, पूरे मामले को विशाखा कमेटी को सौंप दिया है.
महिला कर्मियों ने किया प्रदर्शन, एजीएम से मिलीं
वहीं छेडख़ानी के आरोपी मनमोहन पाण्डे का तबादला रोकने के खिलाफ आज गुरूवार 5 दिसम्बर को पमरे मुख्यालय की महिला कर्मी लामबंद हो गईं और दोपहर में पमरे के एजीएम शोभन चौधुरी से मिली और आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की. एजीएम ने भी भरोसा दिया है कि जांच कमेटी जांच करके अपनी रिपोर्ट देगी, उसके बाद कार्रवाई होगी.
आरोपी का कम्प्यूटर सीज, जांच
बताया जाता है कि आरोपी सेक्शन आफीसर पांडे के कम्प्यूटर को प्रशासन ने सीज करते हुए उसकी जांच शुरू कर दी है. सूत्रों की माने तो उस कम्प्यूटर में कई आपत्तिजनक वीडियो मिले हैं. वहीं सीसीटीवी फुटेज की भी जांच की जा रही है, ताकि यह स्पष्ट किया जा सके कि महिला कर्मी ने जो आरोप लगाये हैं, उसमें कितनी सत्यता है.
पूर्व में भी महिला ने की थी शिकायत
बताया जाता है कि महिला कर्मी ने पूर्व में भी पांडे के खिलाफ आपत्तिजनक व्यवहार करने, छेडख़ानी आदि की कई लिखित शिकायतें प्रशासन को दी थी, किंतु संघ का पदाधिकारी होने के कारण कोई कार्रवाई नहीं की गई, जिसके बाद 2 दिसम्बर को छेडख़ानी की पराकाष्ठा सामने आई.
इनका कहना...
- मजदूर संघ की यही मांग है कि आरोप पर किसी भी कर्मचारी का सीधे तबादला नहीं किया जाना चाहिए. पूरे मामले की निष्पक्षता से जांच की जाए, जांच में जो दोषी पाया जाए, तब कार्रवाई की जाना चाहिए.
- सतीश कुमार, प्रवक्ता, पश्चिम मध्य रेलवे मजदूर संघ, जबलपुर.
Go to Full Mobile site