Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

For RailFans, Platform Announcements are more musical than Bollywood songs. - Prince Maan

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Fri Sep 20 03:05:28 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Stream
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 390810
  
Sep 12 (10:09) सुशासन एक्सप्रेस के लिए सत्रह एलएचबी कोच आए, जल्द होंगे शुरू (www.patrika.com)
New Facilities/Technology
NCR/North Central
0 Followers
3569 views

News Entry# 390810  Blog Entry# 4425254   
  Past Edits
Sep 12 2019 (10:10)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by 5 Years IRI~/779488

Sep 12 2019 (10:10)
Train Tag: Sushasan Express/11111 added by 5 Years IRI~/779488
Trains:  Sushasan Express/11111  
Stations:  Gwalior Junction/GWL  
ग्वालियर. ट्रेनों में यात्रियों को सभी सुविधाएं मिल सकें। इसके लिए रेलवे अब झांसी मंडल के ग्वालियर से चलने वाली सुशासन एक्सप्रेस में नए डिजाइन के एलएचबी लिंक हॉफमेन बुश कोच लगाने जा रही है। इन कोचों की विशेषता है कि पटरियों पर दौड़ते समय अंदर बैठे यात्रियों को ट्रेन के चलने की आवाज बहुत कम आती है। इसमें पावर ब्रेक भी लगाए गए हैं। इसके लिए एसी कोच पहले ही आ चुके हैं। अब एसी और स्लीपर कोच मिलाकर सत्रह कोच रेल डिब्बा कारखाना रायबरेली से तैयार होकर आ गए हैं। ट्रेन में आकर्षण नलों के साथ गेट और सीटें भी आधुनिक तरीके की लगाई गई हैं। रेलवे सूत्रों की माने तो एलएचबी कोच वाली इस ट्रेन को 14 सितंबर से चलाया जाएगा। झांसी मंडल में ग्वालियर से चलने वाली चंबल एक्सप्रेस के बाद अब यह दूसरी ट्रेन होगी। जिसमें एलएचबी को लगाए गए हैं। ग्वालियर से चंबल एक्सप्रेस को...
more...
दिसंबर 2018 में शुरू किया गया था।क्या होता है एलएचबीरिसर्च डिजाइन्स एंड स्टैंडर्ड ऑर्गनाइजेशन आरडीएसओ ने करीब दस साल पहले ऐसे कोच बनाए थे। जो आपस में टकरा न सकें। इन्हे लिंक हॉफमेन बुश एलएचबी कोच नाम दिया गया। इन टक्कर रोधी कोच का आलमनगर में सफर परीक्षण किया था। उसके बाद कोचों के डिजाइन में सुधार भी किया। एलएचबी कोचों और सीबीसी कपलिंग होने से ट्रेन के कोचों के पलटने और एक दूसरे पर चढऩे की गुंजाइश नहीं रहती है।जनरेटर कार का इंतजारसुशासन एक्सप्रेस में लगने के लिए एसी और स्लीपर कोच आ चुके हैं। इसमें अब ट्रेन के पीछे लगने वाले दो में से एक जनरेटर कार कोच का इंतजार है। इसके आने के बाद यह पूरी तैयार हो जाएगी। इसके बाद ग्वालियर से इस ट्रेन को चलाया जाएगा।सुशासन एक्सप्रेस के लिए एलएचबी स्लीपर और एसी कोचआ चुके हैं। इन कोचों के साथ ट्रेन को कब चलाया जाना है इसका फैसला मुख्यालय से होगा। संभवत: यह ट्रेन शनिवार से चल सकती है। मनोज कुमार सिंह, पीआरओ झांसी मंडल

1 Public Posts - Thu Sep 12, 2019

  

  

  

  

  
Go to Full Mobile site