Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

TKD WDP-4B "प्रतीक" - रंग ऐसा कि हर किसी को प्यार हो जाए - Anubhav Kashyap

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Mon Mar 1 13:26:55 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 1621657-0

HBG/Howbagh Jabalpur (2 PFs)
هاوباگ جبل پور     हाऊबाग जबलपुर

Track: Single Diesel-Line

Show ALL Trains
Howbagh Railway Station, Gorakhpur, Jabalpur
State: Madhya Pradesh

Elevation: 404 m above sea level
Zone: SECR/South East Central   Division: Nagpur

No Recent News for HBG/Howbagh Jabalpur
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 0
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 2.8/5 (8 votes)
cleanliness - good (1)
porters/escalators - poor (1)
food - average (1)
transportation - poor (1)
lodging - average (1)
railfanning - good (1)
sightseeing - excellent (1)
safety - average (1)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 28 News Items  next>>
Feb 11 (22:18) हाऊबाग स्टेशन: लौटेगा पुराना गौरव, हटकर दिखेगा कोचिंग कॉम्प्लैक्स (www.bhaskarhindi.com)
Commentary/Human Interest
WCR/West Central
0 Followers
3741 views

News Entry# 438501  Blog Entry# 4874225   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
Stations:  Howbagh Jabalpur/HBG  
मदन महल टर्मिनल की टर्मिनेट ट्रेनों के लिए करीब 10 एकड़ में विकसित होगा कोचिग यार्ड, होने लगीं तैयारियाँ
डिजिटल डेस्क जबलपुर । करीब 140 साल पुराने रेलवे के नैरोगेज लाइन के स्वर्णिम इतिहास को समेटे हाऊबाग रेलवे स्टेशन एक बार फिर अपने पुराने गौरव को हासिल करने जा रहा है। रेल मंत्रालय ने हाऊबाग रेलवे स्टेशन की भूमि पर कोचिंग कॉम्प्लैक्स बनाने के प्रस्ताव को हरी झंडी दिखा दी है, जिसके आधार पर इस बार के केन्द्रीय बजट में करीब 10 एकड़ में बनने वाले कोचिंग कॉम्प्लैक्स के लिए 15 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। इसी राशि से आने वाले वर्षों में वीरान हाऊबाग रेलवे स्टेशन परिसर में एक बार फिर रौनक लौटेगी।  सभी को इसका फायदा भी मिलेगा।
...
more...

होगा ट्रेनों का रख-रखाव
-  बताया जा रहा है कि रेलवे के प्लान में  मदन महल स्टेशन को 120 करोड़ रुपए की लागत से टर्मिनल के रूप में विकसित किया जा रहा है, कोचिंग कॉम्प्लैक्स इसी योजना का हिस्सा है। आने वाले दो वर्षों में जब मदन महल स्टेशन टर्मिनल बन जाएगा, तब मदन महल रेलवे स्टेशन पर टर्मिनेट होने वाली ट्रेनों को खड़ा रखने और उनके रख-रखाव व मरम्मत आदि के लिए हाऊबाग के कोचिंग कॉम्प्लैक्स भेजा जाएगा। छोटी लाइन के सुनहरे दौर की यादें...
- हाऊबाग रेलवे स्टेशन रेलवे के प्रारंभिक काल के संघर्ष और सफलता का सुनहरा इतिहास अपने आगोश में समेटे हुए खामोश खड़ा है। आज भले ही यहाँ सन्नाटा और खामोशी चौबीसों घंटे पसरी हुई नजर आती है लेकिन अभी कुछ साल पहले की बात है, जब वर्ष 2015 के पहले तक यहाँ सुबह और शाम कई छोटी लाइन की गाडिय़ों की छुक-छुक की आवाजें फिजाओं में मीठा सा अहसास घोल देती थीं, सँकरी पटरी पर चलने वाली छोटी लाइन की ट्रेन के हिचकोले घर के झूले का अहसास कराती थी, छोटे-छोटे स्टेशनों पर बिकने वाली खाद्य सामग्री की खुशबू जी-ललचा देती थी, पेड़-पहाड़ और झरनों के करीब से होकर गुजरने वाली छोटी लाइन की सतपुड़ा एक्सप्रेस हरियाली से जीवन में बहार ले आती थी, लेकिन 1 अक्टूबर 2015 को  नैरोगेज लाइन बंद होने के बाद हाऊबाग की रौनक छिन गई और रेलवे के स्वर्णिम इतिहास की आभा पर समय की गर्त पड़ गई। 
इन प्रस्तावों की भी खूब रही चर्चा... इससे पहले यहाँ पश्चिम मध्य रेलवे का महाप्रबंधक कार्यालय बनाने की योजना बनाई थी, लेकिन प्रस्ताव फाइलों में गुम हो गया। उसके बाद  से हाऊबाग की भूमि पर टाटा मैमोरियल द्वारा कैंसर हॉस्पिटल बनाने को लेकर भी चर्चाएँ चल रही हैं। नैरोगेज लाइन के इतिहास को जीवित रखने के लिए यहाँ रेल म्यूजियम बनाने की भी योजना है, लेकिन अभी कुछ तय नहीं है।
Jan 17 (11:53) जबलपुर में हाऊबाग रेलवे स्टेशन की जमीन में खुल सकता है टाटा का कैंसर हॉस्पिटल (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
10753 views

News Entry# 433683  Blog Entry# 4847784   
  Past Edits
Jan 17 2021 (11:54)
Station Tag: Howbagh Jabalpur/HBG added by Adittyaa Sharma/1421836

Jan 17 2021 (11:54)
Station Tag: Jabalpur Junction/JBP added by Adittyaa Sharma/1421836
अतुल शुक्ला, जबलपुर। सब कुछ अच्छा रहा तो जल्दी शहर में टाटा का कैंसर हॉस्पिटल खुलेगा। टाटा प्रबंधन की ओर से एक टीम ने हॉस्पिटल खोलने के लिए जबलपुर आकर रेलवे की खाली जमीन का निरीक्षण किया है। दरअसल रेलवे बोर्ड और टाटा अस्पताल प्रबंधन की संयुक्त टीम ने पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर स्थित मुख्य रेलवे हॉस्पिटल और उसके आसपास खाली जमीन का निरीक्षण किया है। प्रबंधन टीम को हाऊबाग रेलवे स्टेशन में खाली पड़ी जमीन भी दिखाई गई सूत्रों के मुताबिक यह जमीन टाटा प्रबंधन को बहुत पसंद आई है जिसके बाद वह यहां अस्पताल खोलने से पहले नियम और प्रक्रिया को पूरा करने में जुट गया है।
मुख्य रेल हॉस्पिटल की बिल्डिंग भी टाटा अपने अधिकार में ले सकता
...
more...
है इसके लिए रेलवे बोर्ड और मुख्य रेल अस्पताल प्रबंधन की टीम के साथ बैठक भी की गई है। यह बात सामने आने के बाद पश्चिम मध्य रेलवे के मजदूर संघ ने इस निर्णय से पहले ही अपना विरोध जताया है।
मजदूर संघ के महामंत्री अशोक शर्मा ने बताया कि रेलवे इस बहाने रेल अस्पतालों का निजीकरण करने जा रही है, जो कि किसी भी स्थिति में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। यूनियन इसके विरोध में उग्र प्रदर्शन करेगी, जरूरत पड़ा तो रेल भी रोक सकती है। वहीं दूसरी और एम्पलाई यूनियन ने पूरे नियम और दस्तावेजों को समझने के बाद यह निर्णय लिया है कि इससे रेल कर्मचारियों के स्वास्थ्य संबंधित हितों की रक्षा होगी।
वर्जन,
टाटा का कैंसर हॉस्पिटल खोलने के लिए जो टीम जबलपुर आई थी, उससे हाऊबाग रेलवे स्टेशन स्थित रेलवे की खाली जमीन को दिखाया गया है । टीम को यदि वह जमीन अस्पताल खोलने के लिए पसंद आती है तो रेलवे नियम अनुसार आगे की प्रक्रिया की जाएगी ।
संजय विश्वास, डीआरएम जबलपुर रेल मंडल
Nov 20 2020 (12:05) Jabalpur Railway News: रेलवे ने अपनी जमीन में होटल खोलने मंगवाए आवेदन, अभी तक निर्णय नहीं (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
10389 views

News Entry# 425340  Blog Entry# 4784779   
  Past Edits
Nov 20 2020 (12:06)
Station Tag: Madan Mahal/MML added by Adittyaa Sharma/1421836

Nov 20 2020 (12:06)
Station Tag: Howbagh Jabalpur/HBG added by Adittyaa Sharma/1421836

Nov 20 2020 (12:06)
Station Tag: HabibGanj/HBJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Nov 20 2020 (12:05)
Station Tag: Jabalpur Junction/JBP added by Adittyaa Sharma/1421836
जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि।
रेलवे अब अपनी जमीन भी किराए पर दे रहा है। जबलपुर रेल मंडल ने कोरोनाकाल के पहले ही इस पर काम शुरू कर दिया था। उसने जबलपुर समेत मंडल की सीमा में आने वाले कई बड़े स्टेशन के आस-पास खाली पड़ी जमीन चिन्हित की, ताकि इसे लीज पर देकर अपनी आज बढ़ा सके। इसके लिए रेलवे ने आवेदन मंगवाए, लेकिन यह आवेदन अब धूल खा रहे हैं। कइयों ने आवेदन के साथ एडवांस राशि भी रेलवे को भुगतान कर दी, लेकिन महीनों बाद भी इस पर निर्णय नहीं लिया जा सकता है कि रेलवे इसे लीज पर देगा या नहीं।
यह
...
more...
थी रेलवे की तैयारी:
जबलपुर रेलवे स्टेशन के सर्कुलेशन एरिया से लेकर हाउबाग स्टेशन, हाउबाग गेस्ट हाउस, मदनमहल रेलवे स्टेशन के आस-पास की जमीन का कमर्शियल उपयोग करने के लिए रेलवे ने इसे चिहिन्त किया। शहर के कई इंवेस्टर ने इसके उपयोग के लिए आवेदन मांगे। कइयों ने इसका कमर्शियल उपयोग करने एक से बढ़कर एक आइडिया दिया। इस आइडिया का प्रस्ताव तैयार कर स्वीकृति लेने मंडल से पश्चिम मध्य रेलवे जोन को भेजा। जोन से यह प्रस्ताव रेलवे बोर्ड गया, लेकिन 6 माह बाद भी स्वीकृति नहीं मिली।
आरएलडीए लेगा इस पर निर्णय:
खबर है कि रेलवे अब यह काम आरएलडीए यानी रेलवे लैंड डेवलपर अथारिटी के जिम्मे सौंपेगा। रेलवे बोर्ड इस पर मंथन कर रहा है। हालांकि जमीन के साथ अब रेलवे स्टेशन को भी निजी हाथों में सौंपने की तैयारी शुरू हो गई है। हालांकि जबलपुर, भोपाल और कोटा रेलवे स्टेशन को निजी हाथों में देने के लिए तीन साल पहले प्रस्ताव तैयार किया था, लेकिन कोई इंवेस्टर न मिलने से यह काम ठंडे बस्ते में चला गया। एक बार फिर इसकी तैयारी शुरू हो गई है।
इन काम को निजी कंपनी से कराने की तैयारी:
- ट्रेनों में बेडरोल सप्लाई
- रेलवे ट्रैक की सफाई
- निजी ट्रेनों का संचालन
- हबीबगंज रेलवे स्टेशन
- ट्रेनों की सफाई-धुलाई
Sep 04 2020 (06:32) रेलवे की जमीन पर तान दी बाउंड्रीवाल और मकान, अब हटेंगे (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
31148 views

News Entry# 417537  Blog Entry# 4704170   
  Past Edits
Sep 04 2020 (06:33)
Station Tag: Satna Junction/STA added by TATA JAT Express Will Run Independently/1421836

Sep 04 2020 (06:33)
Station Tag: Katni Junction/KTE added by TATA JAT Express Will Run Independently/1421836

Sep 04 2020 (06:33)
Station Tag: Pipariya/PPI added by TATA JAT Express Will Run Independently/1421836

Sep 04 2020 (06:33)
Station Tag: Adhartal/ADTL added by TATA JAT Express Will Run Independently/1421836

Sep 04 2020 (06:33)
Station Tag: Gwarighat/GRG added by TATA JAT Express Will Run Independently/1421836

Sep 04 2020 (06:33)
Station Tag: Kachhpura/KEQ added by TATA JAT Express Will Run Independently/1421836

Sep 04 2020 (06:33)
Station Tag: Howbagh Jabalpur/HBG added by TATA JAT Express Will Run Independently/1421836

Sep 04 2020 (06:33)
Station Tag: Madan Mahal/MML added by TATA JAT Express Will Run Independently/1421836

Sep 04 2020 (06:33)
Station Tag: Jabalpur Junction/JBP added by TATA JAT Express Will Run Independently/1421836
जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि
रेलवे की जमीन पर सालों से जमे कब्जे हटाने में अब रेलवे को ही पसीना छूट रहा है। हालात यह है कि जबलपुर रेल मंडल की सीमा में तकरीबन 100 से बड़े अतिक्रमण हैं। इन्हें हटाने के प्रयास तो हुए, लेकिन सिर्फ फाइलों तक। जबलपुर रेलवे स्टेशन समेत मदनमहल, कछपुरा, हाऊबाग से लेकर ग्वारीघाट रेल लाइन और अधारताल से गुजरने वाली रेल लाइन के आसपास मकान, बाउंड्री बनाकर कब्जा कर लिया है। सबसे ज्यादा अतिक्रमण जबलपुर के हाऊबाग से ग्वारीघाट रेलवे स्टेशन की रेलवे लाइन के आस-पास हैं। यहां पर कई बिल्डर ने रेलवे की जमीन पर ही कब्जा जमा लिया है। रेलवे द्वारा इन्हें कई बार नोटिस भी दिया गया, लेकिन राजनेता और पैसा, दोनों के दम पर
...
more...
इन अतिक्रमण को जबलपुर रेल मंडल का इंजीनियरिंग विभाग नहीं हटा सका।
100 से ज्यादा नोटिस, नहीं बनी बात :
जबलपुर रेल मंडल की सीमा में जबलपुर, सतना, कटनी, नरसिंहपुर, पिपरिया, गाडरवारा, सागर, दमोह जैसे मुख्य स्टेशन और इसके आस-पास स्थित रेलवे की जमीन पर सबसे ज्यादा कब्जे हैं। इन्हें हटाने के लिए जबलपुर रेल मंडल का इंजीनियरिग विभाग ने अतिक्रमणकारियों को कई बार नोटिस दिया, लेकिन कभी राजनेता तो कभी स्थानीय प्रशासन के हस्तक्षेप के कारण इन्हें नहीं हटा सका। इंजीनियरिंग विभाग के मुताबिक उसने तकरीबन 100 से ज्यादा अतिक्रमणकारियों को नोटिस जारी किए हैं, लेकिन इन्हें हटाने के प्रयास नाकाफी रहे हैं।
जिम्मेदार ही मिले अतिक्रमणकारियों से
रेलवे की जमीन पर अतिक्रमण होने की मुख्यतौर पर कई ऐसी बड़ी वजह हैं। इनमें मुख्य तौर पर जमीन की सही ढंग से देखरेख न होना है। दरअसल रेलवे जमीन की देख-रेख का जिम्मा रेल मंडल के इंजीनियरिंग विभाग के संपदा अधिकारी के पास होता है। जबलपुर मंडल में पांच संपदा अधिकारी हैं, जिन्हें क्षेत्र के हिसाब से जिम्मेदारी दी है, लेकिन इन अधिकारियों की अनदेखी और इंजीनियरिंग विभाग के निचले अधिकारियों की सह पर रेलवे की जमीन पर कब्जा हो जाता है। वहीं रेलवे विजलेंस भी इसे मामलों पर कार्रवाई करने से बचती है।
यहां सबसे ज्यादा कब्जे :
- जबलपुर मुख्य रेलवे स्टेशन से कछपुरा के बीच
- हाऊबाग रेलवे स्टेशन से ग्वारीघाट रेलवे ट्रैक
- सतना रेलवे स्टेशन के आस-पास की जमीन
- पिपरिया रेलवे स्टेशन की जमीन
- कटनी रेलवे स्टेशन के आस-पास की जमीन
दो तरह के अतिक्रमण :
रेलवे के मुताबिक उसकी जमीन पर दो तरह के अतिक्रमण होते हैं। इनमें एक हार्ड और दूसरा सॉफ्ट अतिक्रमण है। हार्ड अतिक्रमण में सबसे ज्यादा बिल्डर होते हैं, जो रेलवे की जमीन पर बिल्डिंग या अन्य निर्माण कार्य करते हैं। वहीं सॉफ्ट अतिक्रमण में झोपड़ी, दुकान या अन्य छोटे कच्चे निर्माण होते हैं। जबलपुर रेल मंडल में दोनों तरह के अतिक्रमण हैं।
यह आती है परेशानी :
- मदनमहल रेलवे स्टेशन के आस-पास आरपीएफ ने अतिक्रमण हटाए, लेकिन क्षेत्रीय नेताओं के दबाव में पीछे हटना पड़ा।
- हाऊबाग से ग्वारीघाट रेल लाइन पर बिल्डर ने कब्जे किए, नोटिस दिया, पर शासकीय रिकॉर्ड में छेड़छाड़ कर बच गए।
- जिला प्रशासन और राजनीतिक दबाव की वजह से अब तक मंडल के 100 से ज्यादा अतिक्रमण नहीं हट सके।
...............
रेलवे की जमीन पर जमे अतिक्रमण हटाने के लिए नोटिस समेत अन्य सभी कार्रवाई की जा रही हैं, लेकिन इसके लिए जरूरी है कि जिला प्रशाासन और राजनीतिक दबाव न हो।
-संजय विश्वास, डीआरएम, जबलपुर रेल मंडल
Feb 10 2020 (05:47) हाऊबाग में एक साथ 12 ट्रेनों की सफाई करने की है योजना, बजट से फिरा पानी (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
10388 views

News Entry# 400781  Blog Entry# 4561527   
  Past Edits
Feb 10 2020 (05:47)
Station Tag: Howbagh Jabalpur/HBG added by Adittyaa Sharma^~/1421836

Feb 10 2020 (05:47)
Station Tag: Jabalpur Junction/JBP added by Adittyaa Sharma^~/1421836
जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि
रेलवे के ए वन श्रेणी में आने वाले जबलपुर रेलवे स्टेशन को रेल हब बनाने की तैयारी शुरू हो गई है। एक ओर मुख्य रेलवे स्टेशन को आधुनिक बनाया जा रहा है तो वहीं मदनमहल स्टेशन का विस्तार कर टर्मिनल बनाने का काम चल रहा है। इधर, हाऊबाग रेलवे स्टेशन की खाली जमीन पर कोचिंग कॉम्प्लेक्स के लिए इस बार बजट में प्रावधान भी कर दिया गया है, लेकिन बजट में महज मदनमहल और हाऊबाग, दोनों के लिए सिर्फ 5 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है, जिससे योजना फिर एक साल पीछे हो गई है।
छोटा
...
more...
पड़ने लगा जबलपुर कोचिंग डिपो
मुख्य रेलवे स्टेशन से लगे जबलपुर कोचिंग डिपो में अभी 6 पिट लाइन है। एक से दो पिट लाइन में खराब कोच को खड़ा किया जाता है। एक पिट लाइन में कोच की मरम्मत होती है तो वहीं एक पिट लाइन को इंजन बदलने के लिए खाली रखा जाता है। ट्रेनों की सफाई-धुलाई के लिए सिर्फ दो पिट बचती हैं। जबलपुर से रवाना होने वाली नियमित और स्पेशल ट्रेनों की संख्या बढ़ी है, जिससे यह डिपो अब छोटा पड़ने लगा है। इसलिए हाऊबाग स्टेशन की खाली जमीन पर जल्द से जल्द कोचिंग कॉम्प्लेक्स बनाने का दबाव बढ़ गया ह।
कोचिंग कॉम्प्लेक्स की यह है योजना
- हाऊबाग रेलवे स्टेशन में तकरीबन 30 एकड़ जमीन खाली है, जो शहर के बीच में है।
- यहां पर कोचिंग कॉम्प्लेक्स बनाकर ट्रेनों की धुलाई-सफाई से लेकर मरम्मत का काम होगा।
- इसके अलावा ट्रेनों के खाली रैक को यहां खड़ा किया जाएगा, इसके लिए पिट लाइन होगी।
- एक वक्त में कम से कम 12 ट्रेनों की सफाई-धुलाई से लेकर मरम्मत होगी।
- इसके साथ ही 10 से 12 ट्रेनों के रैक को भी यहां खड़ा किया जाएगा।
कछपुरा में कोचिंग कॉम्प्लेक्स बनाने पर मंथन
पश्चिम मध्य रेलवे को इस बार बजट में तकरीबन 15 हजार करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है, लेकिन मदनमहल और हाऊबाग के लिए महज 5 करोड़ रुपए ही मिले हैं। इसमें से तकरीबन ढाई करोड़ ही हाऊबाग में कोचिंग कॉम्प्लेक्स बनाने के लिए मिलेंगे। वर्तमान में यहां न तो रेल लाइन है और न ही स्टेशन। चारों तरफ सिर्फ बंजर जमीन है। इतने बजट में कोचिंग कॉम्प्लेक्स का काम भी मुश्किल होगा। जबलपुर रेल मंडल अब कछपुरा में कोचिंग कॉम्प्लेक्स बनाने पर मंथन कर रहा है, इसकी वजह यहां पर पहले से रेल लाइन और स्टेशन होना है।


Page#    Showing 1 to 20 of 28 News Items  next>>

Go to Full Mobile site