Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

संपूर्ण क्रान्ति है तो जहां है

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Wed Oct 28 06:10:04 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Advanced Search
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 394791
Nov 12 2019 (20:40) जेनरल बोगी में भी यात्रियों को नहीं मिल रही सीटें (www.livehindustan.com)
0 Followers
3207 views

News Entry# 394791  Blog Entry# 4486491   
  Past Edits
Nov 12 2019 (20:41)
Station Tag: Bhagalpur Junction/BGP added by jeetendrapoddar~/1561784

Nov 12 2019 (20:41)
Station Tag: Munger (Monghyr)/MGR added by jeetendrapoddar~/1561784

Nov 12 2019 (20:41)
Station Tag: Jamalpur Junction/JMP added by jeetendrapoddar~/1561784
छठ के बाद ट्रेनों में भीड़ जारी है। न सिर्फ आरक्षण टिकट के लिए वेटिंग है बल्कि जेनरल बोगियों में वेटिंग लिस्ट बन रही है। जेनरल बोगी के कई यात्री ऐसे हैं जो एक दिन नहीं चढ़ पा रहे हैं तो अगले दिन या अगली ट्रेन के लिए इंतजार कर रहे हैं। विक्रमशिला एक्सप्रेस छूट जाने के बाद रात में फरक्का एक्सप्रेस की जेनरल बोगी तक यात्री चढ़ने की कोशिश करते हैं।जेनरल बोगी में चढ़ने आये यात्रियों की मानें तो स्लीपर क्लास में आरक्षण नहीं मिलने के कारण उनमें से अधिकांश लोग जेनरल बोगी का रुख कर रहे हैं। यात्रियों की परेशानी यह है कि एक ट्रेन में नहीं चढ़ पाने पर अगली ट्रेन की गारंटी नहीं रहती है, इसलिए वो टिकट वापस करना पड़ता है। फिर दूसरी ट्रेन के आने से पहले टिकट लेना पड़ता है। रविवार की रात स्टेशन के पोर्टिको में बड़ी संख्या में यात्री आराम करते दिखे।इनमें...
more...
से कुछ यात्रियों ने बताया कि सुबह विक्रमशिला एक्सप्रेस ट्रेन में चढ़ नहीं पाए इसलिए फरक्का एक्सप्रेस का इंतजार कर रहे हैं। अगर फरक्का में भी जगह नहीं मिलेगी तो सुबह फिर विक्रमशिला एक्सप्रेस के लिए लाइन में लगेंगे। ऐसे कई यात्री थे जो विक्रमशिला एक्सप्रेस में चढ़ नहीं पाए और पूरे दिन स्टेशन पर ही रुके रहे। यात्रियों ने बताया कि वेलोग खाना लेकर घर से निकले हैं। आज भी घर का खाना खा लिया फिर ट्रेन में सत्तू खा लेंगे। इन यात्रियों में अधिकांश मजदूर वर्ग के लोग थे।
Go to Full Mobile site