Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Emergency Window - RailFans love it. Why? Go figure. - Anubharadwaj Maharshi

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Thu Mar 4 15:26:08 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Advanced Search
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 426988
Dec 03 2020 (15:28) गोंडा में सप्तक्रांति एक्सप्रेस के पहिए में लगी आग, बड़ा हादसा टला (m.jagran.com)
Major Accidents/Disruptions
NER/North Eastern
0 Followers
9830 views

News Entry# 426988  Blog Entry# 4800612   
  Past Edits
Dec 03 2020 (15:29)
Station Tag: Mankapur Junction/MUR added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 03 2020 (15:28)
Station Tag: Jhilahi/JLHI added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Mankapur Junction/MUR   Jhilahi/JLHI  
गोंडा, जेएनएन। देर रात झिलाही स्टेश्न से गुजर रही सप्तक्रांति एक्सप्रेस की चौथी बोगी का पहिया लाल हो गया। झिलाही प्वाइंट से इसकी सूचना मनकापुर को दी गई। यहां ट्रेन को रोक दिया गया। बोगी में सवार यात्रियों को दूसरे डिब्बे में शिफ्ट किया गया। इसके बाद ट्रेन आगे के लिए रवाना की गई। आरपीएफ के पोस्ट कमांडर मनकापुर ने बताया कि रात में 1.52 बजे डिब्बे का पहिया लाल होने की सूचना मिली।
इस पर ट्रेन को तत्काल मनकापुर स्टेशन पर रोक दिया गया। आग की सूचना से यात्रियों में भी अफरातफरी मच गई। अधिकारियों को मामले की सूचना दी गई। इसके बाद जंक्शन से मौके पर टीम गई। जांच पड़ताल के बाद ट्रेन से बोगी को अलग कर दिया गया। इसमें
...
more...
सवार 87 यात्रियों को दूसरे डिब्बे में शिफ्ट कर दिया गया। ट्रेन को सुबह सवा छह बजे रवाना किया गया। हालांकि, इस दौरान कोई बड़ी घटना नहीं हुई।
यत्रियों को हुई परेशानी
नई दिल्ली से मुजफ्फरपुर जा रही सप्तक्रांति ट्रेन के मनकापुर रेलवे स्टेशन पर खड़ी हो जाने से यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। चार घंटे के बाद ट्रेन को रवाना किया जा सका। खाद्य सामग्री व दूसरी चीजें न मिलने से लोग परेशान दिखे। इस दौरान कुछ यात्री ट्रेन से नीचे उतर आए। वह इधर-उधर घूमकर समय गुजारा। बच्चे बिलखते रहे। कुछ यात्री ट्रेन के रुकने का कारण पूछते रहे। चार घंटे तक रेल के अधिकारियों के फोन घनघनाते रहे। सुबह सवा छह बजे ट्रेन रवाना होने के बाद अधिकारियों ने राहत की सांस ली।
Go to Full Mobile site