Large TB;
Entry# 4821930-0

03403/Vananchal COVID - 19 Special
ونانچل کووڈ - ۱۹ سپیشل     वनांचल कोविड - १९ विशेष

RNC/Ranchi Junction --> BGP/Bhagalpur Junction

Availability Calendar
Search RNC to BGP
Return# 03404
PDF Download
Latest News
(You need to double-check/verify this info yourself)
AC-2 Tier-1, AC-3 Tier-1, Sleeper Class-5, General 2nd Class-5 & GSLRD-2=14 coaches.
Wed Nov 25, 2020 (09:04AM)
Pantry/Catering
✕ Pantry Car
✕ On-board Catering
✕ E-Catering
Updated: Jan 05 (08:54) by JigyasuSinghRF^~
Dep:
Arr:
RSA - Rake Sharing
No RSA - Two Dedicated Rakes with PM at BGP
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
punctuality - n/a (0)
food - n/a (0)
ticket avbl - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
safety - n/a (0)
ICF Rake

Rake/Coach Position

  0
  L
  1
DL1
  2
 D1
  3
 D2
  4
 S1
  5
 S2
  6
 S3
  7
 S4
  8
 S5
  9
 B1
 10
 A1
 11
 D3
 12
 D4
 13
 D5
 14
DL2
 UDL
First Departure: Wed Dec 02, 2020 from RNC/Ranchi Junction
News
PNR
Forum
Time-Table
Availability
Fare Chart
Map
Arr/Dep History
Trips
Gallery
ΣChains
X/O
Timeline
Train Pics
Tips

Train News

Page#    32 News Items  next>>
गंगा-दामोदर एक्सप्रेस ट्रेन का किराया अधिक है और बिहार जानेवाले यात्री कम किराए वाली ट्रेन ढूंढ़ रहे हैं। यात्रियों का साफ कहना है कि एक तो ज्‍यादा किराया उस पर डाकघर थाना पिन कोड जैसे डिटेल्‍स पूछे जा रहे हैं जो आम यात्रियों के लिए परेशानी सबब है।
धनबाद, जेएनएन। अगले महीने 28 और 29 मार्च को होली है। होली की भीड़ अभी से ही ट्रेनों में दिखने लगी है। खास तौर पर दिल्‍ली, मुंबई, गुजरात समेत बड़े शहरों से लौटने वाली ट्रेनों में अब सीट मिलना मुश्किल है। यही हाल बिहार जानेवाली ट्रेनों में है। हटिया से गोरखपुर जानवाली मौर्य एक्‍सप्रेस 26 मार्च तक भर चुकी हैं। सेकेंड सीटिंग से थर्ड एसी तक जगह नहीं बचे हैं। पर धनबाद से पटना जानेवाली
...
more...
गंगा-दामोदर एक्‍सप्रेस पूरी खाली है। पहले जहां होली को लेकर महीनों पहले पूरी ट्रेन हाउसफुल हो जाती थी। इस बार यात्रियों की तवज्‍जो नहीं मिल रही है।
टिकट के लिए बताना पड़ रहा पिन कोड
गंगा-दामोदर एक्सप्रेस ट्रेन का किराया अधिक है और बिहार जानेवाले यात्री कम किराए वाली ट्रेन ढूंढ़ रहे हैं। यात्रियों का साफ कहना है कि एक तो ज्‍यादा किराया, उस पर डाकघर, थाना, पिन कोड जैसे डिटेल्‍स पूछे जा रहे हैं जो आम यात्रियों के लिए परेशानी सबब है। आम यात्री पहले टिकट लेकर परिवार के साथ जनरल में चढ़ जाते थे और आसानी से पहुंच जाते थे। अब उन्‍हें भी गंतव्‍य का पूरा पता, किस राज्‍य में जा रहे हैं, किस थाना क्षेत्र में जाएंगे, डाकघर क्‍या है और पिन कोड भी बताना पड़ रहा है। गांव के लोगों को रेलवे की नई व्‍यवस्‍था रास नहीं आ रही है। ट्रेन के बजाय बसों से सफर करना पसंद कर रहे हैं। 
यात्री नहीं मिलने पर भी नहीं घटा किराया, तत्‍काल भी बंद
महंगे किराए के कारण गंगा-दामोदर एक्‍सप्रेस को पहले से ही यात्री नहीं मिल रहे हैं। दुर्गा पूजा और छठ के बाद ट्रेन लगभग खाली ही चल रही है। बावजूद रेलवे इस ट्रेन को स्‍पेशल बनाकर फेरे बढ़ा रही है। पहले दिसंबा, फिर जनवरी और अब मार्च तक एक्‍सटेंशन मिला पर किराए में संशोधन नहीं हुआ। अधिक किराए के कारण रेलवे ने इस ट्रेन में तत्‍काल कोटे की बुकिंग भी बंद कर दी। हालांकि रेलवे का दावा है कि किराए में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है। यही हाल वनांचल, रक्‍सौल-हैदराबाद साप्‍ताहिक जैसी लोकप्रिय ट्रेनों का है।
इन ट्रेनों में करा सकते हैं होली की बुकिंग
03403 रांची भागलपुर वनांचल एक्‍सप्रेस में होली से पहले यानी 26 मार्च से स्‍लीपर और थर्ड एसी में कुछ सीटें खाली हैं।
03329 धनबाद पटना गंगा-दामोदर एक्‍सप्रेस सेकेंड सीटिंग से फर्स्‍ट एसी तक लगभग 90 फीसद सीटें खाली।




धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन के महत्वपूर्ण स्टेशन कतरासगढ़ को रेलवे ने अब चौथा झटका दे दिया है। पहले जहां लंबी दूरी और झारखंड-बिहार को जोड़ने वाली तीन जोड़ी ट्रेनों का ठहराव कतरास से हटा लिया गया वहीं अब धनबाद-रांची इंटरसिटी एक्सप्रेस भी इस लिस्ट में शामिल हो गई है।
जागरण संवाददाता, धनबाद : धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन के महत्वपूर्ण स्टेशन कतरासगढ़ को रेलवे ने अब चौथा झटका दे दिया है। पहले जहां लंबी दूरी और झारखंड-बिहार को जोड़ने वाली तीन जोड़ी ट्रेनों का ठहराव कतरास से हटा लिया गया, वहीं अब धनबाद-रांची इंटरसिटी एक्सप्रेस भी इस लिस्ट में शामिल हो गई है। इंटरसिटी चौथी ट्रेन है, जो अब अब कतरासगढ़ स्टेशन पर नहीं रुकेगी। 15 जनवरी से धनबाद से चलने वाली रांची इंटरसिटी एक्सप्रेस
...
more...
का ठहराव धनबाद के बाद सीधे चंद्रपुरा में दिया गया है। इससे पहले इंटरसिटी न सिर्फ कतरासगढ़ बल्कि फुलारीटांड़ में भी रुकती थी। अब इन दोनों स्टेशनों से ठहराव हटा लिया गया है। यानी धनबाद-चंद्रपुरा के बीच के स्टेशनों के यात्रियों को अब कई ट्रेनों की सुविधा से महरूम रहना होगा। सुबह रांची जाने के लिए कतरास से धनबाद या चंद्रपुरा जाना होगा। बढ़ रही आबादी घट रही ट्रेन
आंकड़ों पर गौर करें तो सिर्फ कतरास शहर की आबादी 2001 में लगभग 52 हजार थी। तकरीबन 20 वर्षों में आबादी लगभग दो गुनी हो गई है। लगातार बढ़ती आबादी के बाद भी ट्रेन बढ़ने के बजाय ठहराव हटाकर सुविधाएं छीनी जा रही हैं। अगर यही हाल रहा तो धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन बंदी के दौरान शुरू हए आंदोलन का एक फिर आगाज हो सकता है। वहीं इस ट्रेन में सफर करने के लिए अब यात्रियों को रिजर्वेशन कराना होगा। साथ ही ट्रेन में एक एसी कार भी जोड़ा गया है। अब तक कौन-कौन सी ट्रेन का हटा ठहराव
08619-08620 रांची-दुमका इंटरसिटी
03403-03404 रांची-भागलपुर वनांचल एक्सप्रेस
09607-09608 कोलकाता-अजमेर-मदार एक्सप्रेस
03303-03304 धनबाद-रांची इंटरसिटी
200 साल से ज्यादा पुराना शहर है कतरास। कतरी नदी के तट पर बसा यह शहर अपने गर्भ में सुनहरे अतीत को समेटे हुए है। कभी राजा-रजवाड़ों की नगरी रहे इस शहर में मनोकामना पूरी करने वाली मां लिलोरी का सैंकड़ों साल पुराना धाम भी है।
धनबाद, जेएनएन:  200 साल से ज्यादा पुराना शहर है कतरास। कतरी नदी के तट पर बसा यह शहर अपने गर्भ में सुनहरे अतीत को समेटे हुए है। कभी राजा-रजवाड़ों की नगरी रहे इस शहर में मनोकामना पूरी करने वाली मां लिलोरी का सैंकड़ों साल पुराना धाम भी है। मां के इस मंदिर में झारखंड, बिहार, पश्चिम बंगाल और उत्तर प्रदेश से भी श्रद्धालु पहुंचते हैं। पर न जाने क्यों रेलवे इस गौरवशाली शहर से रूठ
...
more...
गई है। पहले जहां लंबी दूरी और झारखंड-बिहार को जोड़ने वाली ट्रेनों का ठहराव कतरास से हटा लिया गया, वहीं अब धनबाद-रांची इंटरसिटी एक्सप्रेस भी इस लिस्ट में शामिल हो गई है। इंटरसिटी चौथी ट्रेन है जो अब अब कतरासगढ़ स्टेशन पर नहीं रुकेगी। 
सुबह रांची जाने के लिए धनबाद या चंद्रपुरा पहुंचना होगा 
15 जनवरी से धनबाद से चलने वाली इंटरसिटी एक्सप्रेस का ठहराव यहां के बाद सीधे चंद्रपुरा में दिया गया है। इससे पहले इंटरसिटी न सिर्फ कतरासगढ़ बल्कि फुलारीटांड़ में भी रुकती थी। अब इन दोनों स्टेशनों से ठहराव हटा लिया गया है। यानी धनबाद-चंद्रपुरा के बीच के स्टेशनों के यात्रियों को अब कई ट्रेनों की सुविधा से महरूम रहना होगा। सुबह रांची जाने के लिए कतरास से धनबाद या चंद्रपुरा जाना होगा। 
बढ़ रही आबादी घट रही ट्रेन 
आंकड़ों पर गौर करें तो सिर्फ कतरास शहर की आबादी 2001 में लगभग 52 हजार थी। तकरीबन 20 वर्षों में आबादी लगभग दो गुनी हो गई है। लगातार बढ़ती आबादी के बाद भी ट्रेन बढ़ने के बजाय ठहराव हटाकर सुविधाएं छीनी जा रही हैं। अगर यही हाल रहा तो धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन बंदी के दौरान शुरू हए आंदोलन का एक फिर आगाज होगा।  
अब तक कौन-कौन सी ट्रेन का हटा ठहराव 
08619-08620 रांची-दुमका इंटरसिटी
03403-03404 रांची-भागलपुर वनांचल एक्सप्रेस 
09607-09608 कोलकाता-अजमेर-मदार एक्सप्रेस 
03303-03304 धनबाद-रांची इंटरसिटी
200 साल से ज्यादा पुराना शहर है कतरास। कतरी नदी के तट पर बसा यह शहर अपने गर्भ में सुनहरे अतीत को समेटे हुए है। कभी राजा-रजवाड़ों की नगरी रहे इस शहर में मनोकामना पूरी करने वाली मां लिलोरी का सैंकड़ों साल पुराना धाम भी है।
धनबाद, जेएनएन:  200 साल से ज्यादा पुराना शहर है कतरास। कतरी नदी के तट पर बसा यह शहर अपने गर्भ में सुनहरे अतीत को समेटे हुए है। कभी राजा-रजवाड़ों की नगरी रहे इस शहर में मनोकामना पूरी करने वाली मां लिलोरी का सैंकड़ों साल पुराना धाम भी है। मां के इस मंदिर में झारखंड, बिहार, पश्चिम बंगाल और उत्तर प्रदेश से भी श्रद्धालु पहुंचते हैं। पर न जाने क्यों रेलवे इस गौरवशाली शहर से रूठ
...
more...
गई है। पहले जहां लंबी दूरी और झारखंड-बिहार को जोड़ने वाली ट्रेनों का ठहराव कतरास से हटा लिया गया, वहीं अब धनबाद-रांची इंटरसिटी एक्सप्रेस भी इस लिस्ट में शामिल हो गई है। इंटरसिटी चौथी ट्रेन है जो अब अब कतरासगढ़ स्टेशन पर नहीं रुकेगी। 
सुबह रांची जाने के लिए धनबाद या चंद्रपुरा पहुंचना होगा 
15 जनवरी से धनबाद से चलने वाली इंटरसिटी एक्सप्रेस का ठहराव यहां के बाद सीधे चंद्रपुरा में दिया गया है। इससे पहले इंटरसिटी न सिर्फ कतरासगढ़ बल्कि फुलारीटांड़ में भी रुकती थी। अब इन दोनों स्टेशनों से ठहराव हटा लिया गया है। यानी धनबाद-चंद्रपुरा के बीच के स्टेशनों के यात्रियों को अब कई ट्रेनों की सुविधा से महरूम रहना होगा। सुबह रांची जाने के लिए कतरास से धनबाद या चंद्रपुरा जाना होगा। 
बढ़ रही आबादी घट रही ट्रेन 
आंकड़ों पर गौर करें तो सिर्फ कतरास शहर की आबादी 2001 में लगभग 52 हजार थी। तकरीबन 20 वर्षों में आबादी लगभग दो गुनी हो गई है। लगातार बढ़ती आबादी के बाद भी ट्रेन बढ़ने के बजाय ठहराव हटाकर सुविधाएं छीनी जा रही हैं। अगर यही हाल रहा तो धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन बंदी के दौरान शुरू हए आंदोलन का एक फिर आगाज होगा।  
अब तक कौन-कौन सी ट्रेन का हटा ठहराव 
08619-08620 रांची-दुमका इंटरसिटी
03403-03404 रांची-भागलपुर वनांचल एक्सप्रेस 
09607-09608 कोलकाता-अजमेर-मदार एक्सप्रेस 
03303-03304 धनबाद-रांची इंटरसिटी
Jan 10 (07:18) धनबाद के नजदीक कुसुंडा में मालगाड़ी बेपटरी, रांची लाइन की सभी ट्रेनें डायवर्ट (www.jagran.com)
Major Accidents/Disruptions
ECR/East Central
0 Followers
7780 views

News Entry# 432674  Blog Entry# 4839798   
  Past Edits
Jan 10 2021 (07:19)
Station Tag: Netaji SC Bose Junction Gomoh/GMO added by ANIKET/1490219

Jan 10 2021 (07:19)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by ANIKET/1490219

Jan 10 2021 (07:19)
Station Tag: Kusunda Junction/KDS added by ANIKET/1490219

Jan 10 2021 (07:19)
Train Tag: Vananchal COVID - 19 Special/03403 added by ANIKET/1490219

Jan 10 2021 (07:19)
Train Tag: Ranchi - Dumka InterCity Special/08619 added by ANIKET/1490219

Jan 10 2021 (07:19)
Train Tag: Shaktipunj COVID - 19 Special/01447 added by ANIKET/1490219

Jan 10 2021 (07:19)
Train Tag: Maurya Festival Special/05027 added by ANIKET/1490219
Posted by: ELSG~ 1250 news posts
धनबाद से कुसुंडा की ओर जा रही 58 वैगन वाली मालगाड़ी के आठ डिब्बे पटरी से उतर गए। धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन के कुसुंडा- बांसजोड़ा के बीच मालगाड़ी दुर्घटनाग्रस्त होने से अप और डाउन दोनों रेल लाइन प्रभावित हो गए। इस वजह से ट्रेनों का परिचालन प्रभावित हो गया। धनबाद-रांची लाइन की सभी ट्रेनें डायवर्ट कर दी गई है। इससे रेल यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।  धनबाद और चंद्रपुरा (DC Line) में कुसुंडा के बीच मालगाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हुई है। यह घटना करीब 7:30 के बीच घटी। घटना के बाद रेलवे ने डीसी लाइन होकर चलने वाली सभी ट्रेनों को डायवर्ट कर दिया। हटिया गोरखपुर मौर्य एक्सप्रेस, रांची भागलपुर वनांचल एक्सप्रेस, रांची दुमका इंटरसिटी, जबलपुर हावड़ा शक्तिपुंज एक्सप्रेस को डीसी लाइन के बजाय गोमो से धनबाद होकर चलाया गया। अप और डाउन दोनों लाइन प्रभावित होने की वजह से देर रात लौटने वाली ट्रेनें भी धनबाद से गोमो होकर ही...
more...
चलेंगी। सावधान !
रेलवे की ओर से जारी सूचना के मुताबिक मालगाड़ी बेपटरी होने की घटना रात के तकरीबन 7:30 बजे के आसपास की है। घटना के कारण का पता  नहीं चल पाया है। धनबाद और गोमो से दुर्घटना राहत यान घटनास्थल पर पहुंच चुके हैं। धनबाद से रेल अधिकारियों की टीम भी पहुंची है और राहत कार्य शुरू करा दिया है।अलसुबह तक परिचालन सामान्य होने की संभावना है। डीआरएम आशीष बंसल ने इस मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं।
Page#    32 News Items  next>>

Go to Full Mobile site