Medium; Side View; Large TB; EOG/SLR; Moving Straight;
Entry# 5083844-0
Medium; Side View; Small TB; UnReserved;
Entry# 5083844-0

05911/Haldighati Passenger Special
ہلدیگھاٹی پسنجر سپیشل     हल्दीघाटी पैसेंजर विशेष

RTM/Ratlam Junction --> AF/Agra Fort

Availability Calendar
Search RTM to AF
Return# 05912
PDF Download
Latest News
(You need to double-check/verify this info yourself)
CC : SL – 3, GS – 9, SLR/D – 2 = TOTAL 14 Coaches ; Partially Unreserved : Only SL coaches are reserved
Mon Oct 18, 2021 (10:50AM)
Pantry/Catering
???
Updated: Oct 14 (10:19) by RamganjMandi^~
Dep:
Arr:
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
punctuality - n/a (0)
food - n/a (0)
ticket avbl - n/a (0)
u/r coach - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
safety - n/a (0)
Loco
ICF Rake

Rake/Coach Position

KOTA
First Departure: Sun Oct 03, 2021 from RTM/Ratlam Junction
News
PNR
Forum
Time-Table
Availability
Fare Chart
Map
Arr/Dep History
Trips
Gallery
ΣChains
X/O
Timeline
Train Pics
Tips

Train News

Page#    4 News Items  
मंदसौर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले भर में रेल सुविधाओं को लेकर लोगों का संघर्ष जारी है। अधिकांश जगह की समस्या प्रमुख ट्रेनों के स्टापेज नहीं होना है। इसके लिए मल्हाोरगढ़ में रविवार को रेल रोका संघर्ष समिति की बैठक भी हुई है। इसमें उदयपुर-रतलाम का स्टापेज सहित अन्य मांगों को लेकर पांच अक्टूबर को मल्हारगढ़ बंद रखने का निर्णय किया गया है। सुवासरा तो कैबिनेट मंत्री हरदीपसिंह डंग का गृह नगर होने के बाद भी सभी प्रमुख ट्रेनों के स्टापेज के लिए तरस रहा है। शामगढ़ व गरोठ में भी यही हाल है।
जिले से दो प्रमुख रेलमार्ग दिल्ली-मुंबई व इंदौर-अजमेर निकलते हैं। दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर सुवासरा, शामगढ़ व गरोठ प्रमुख स्टेशन हैं तो इंदौर-अजमेर रेलमार्ग पर दलौदा, मंदसौर, पिपलियामंडी व मल्हारगढ़
...
more...
हैं। दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर मेल एक्सप्रेस ट्रेनों की अच्छी खासी संख्या है पर सुवासरा, गरोठ में इक्का -दुक्का ट्रेनों के ही स्टापेज हैं। शामगढ़ में भी कई ट्रेनें नहीं रुक रही हैं। इसको लेकर ही अब जगह-जगह लोगों में आक्रोश बढ़ रहा है। और अब आंदोलन की रूपरेखा तक बन रही है।
जनप्रतिनिधियों का घेराव करेंगे, धरना आंदोलन कर लिखेंगे पोस्टकार्ड
मल्हारगढ़। रविवार शाम को रेल रोको संघर्ष समिति की बैठक नप सभागृह में हुई। इसमें सभी ने रतलाम-उदयपुर एक्सप्रेस के स्टापेज को लेकर चर्चा की। तथा पांच अक्टूबर को रैली निकालकर नगर बंद का निर्णय किया। इसके बाद चरणबद्ध आंदोलन के तहत जनप्रतिनिधियों का घेराव, धरना प्रदर्शन व पोस्टकार्ड लिखे जाएंगे। रेल रोको संघर्ष समिति की बैठक में लोगों ने कहा कि पहले ही रेलवे स्टेशन की स्थिति खराब है, अगर अभी नहीं जागे तो रेलवे स्टेशन भवन केवल देखने के लिए रह जाएगा। मल्हारगढ़ में रेलवे स्टेशन के विस्तार के लिए ट्रेनों का स्टापेज जरूरी है। बैठक में लोगों ने कहा कि जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के कारण रेलवे स्टेशन की यह स्थिति हुई है। ट्रेनों के स्टापेज बंद हो रहे हैं। रेल रोको संघर्ष समिति द्वारा जनप्रतिनिधियों का घेराव किया जाने का प्रस्ताव भी पास किया गया। बैठक में समिति संरक्षक मांगीलाल भाना, मोहनसेन कछावा, विजेश मालेचा, अध्यक्ष अशोक दक, सचिव संदीप विजयवर्गीय, उपाध्यक्ष मजीद खान पठान, विमल मोदी, कोषाध्यक्ष भरत फरक्या, सहसचिव अनिल परिहार, जगदीश लील, मीडिया प्रभारी सतीश दरिंग, दरबारसिंह, मनोहर जैन व सदस्यों को कार्यकारिणी में लिया गया।
यह मांगें तय हुई बैठक में
- मल्हारगढ़ में रतलाम-उदयपुर व जयपुर-भोपाल ट्रेन का स्टापेज किया जाए।
- रेलवे स्टेशन पर यात्रियों के लिए वेटिंग रूम भी बनाया जाए।
- रेलवे स्टेशन पर बने काका गाडगिल पार्क का पूर्ण जीर्णोद्धार किया जाए।
सुवासरा की उपेक्षा कर रहे हैं जनप्रतिनिधि, आश्वासन तक ही सीमित
सुवासरा। नगर के रेलवे स्टेशन पर कोविड काल के बाद वर्षों से संचालित ट्रेनों के स्टापेज भी खत्म कर दिए हैं। इस कारण नगर सहित तहसील से जुड़े लगभग एक लाख से अधिक लोगों को रेल यात्रा करने में परेशानी हो रही है। जबकि समीपवर्ती चौमहला और शामगढ़ में कई ट्रेनों के स्टापेज यथावत हैं। विधानसभा क्षेत्र मुख्यालय के साथ ही दिल्ली-मुंबई रेल लाइन पर जिला मुख्यालय का सबसे नजदीकी स्टेशन होने के बाद भी जनता को रेल सुविधाएं नहीं मिल रही हैं। इस समस्या को लेकर कैबिनेट मंत्री हरदीपसिंह डंग और सांसद सुधीर गुप्ता दोनों ही गंभीर नहीं हैं। गत दिनों सासंद सुधीर गुप्ता दिल्ली से मंदसौर जाते समय अलसुबह सुवासरा आए थे। यहां भाजपा के वरिष्ठ नेता ने भी उनके सामने नाराजगी जताई तो तब सांसद ने भी कहा था कि मेरे प्रयास जारी हैं। रेल मंत्री से भी चर्चा हो चुकी है। शीघ्र ही समस्या हल होगी।
यह हैं सुवासरा की प्रमुख मांगें
- 1980 से सुवासरा- मंदसौर रेल लाइन की मांग की जा रही है। वर्ष 2015 में पश्चिम मध्य रेलवे के अधिकारियों ने सर्वे भी कर लिया था। अब रेल मंत्रालय से जल्द राशि स्वीकृत कराई जाए।
- ट्रेन 02955- 02956 जयपुर- मुंबई गणगौर एक्सप्रेस, 02459- 02460 जोधपुर-इंदौर रणथंभौर एक्सप्रेस, 09037- 38-39-40 अवध एक्सप्रेस, 08245-08246 बिलासपुर- बीकानेर एक्सप्रेस ट्रेनों का स्टापेज पूर्वानुसार सुवासरा स्टेशन पर किया जाए।
मंदसौर-नीमच में रेल सुविधाएं बढ़़ाई जाएं
मंदसौर। रतलाम डीआरएम कार्यालय में हुई बैठक में सांसद प्रतिनिधि राजदीप परवाल ने संसदीय क्षेत्र की रेल सुविधाओं से जुड़ी मांगों को रखा। सांसद का पत्र भी डीआरएम विनीत गुप्ता को सौंपा गया। इसमें ट्रेन 09711 जयपुर-भोपाल एक्सप्रेस का पिपलियामंडी, 04801 जोधपुर-इंदौर एक्सप्रेस का दलौदा एवं पिपलियामंडी, 09329 इंदौर-उदयपुर एक्सप्रेस का पिपलियामंडी एवं जावद रोड, 09327 उदयपुर-रतलाम एक्सप्रेस के मल्हारगढ़ एवं ट्रेन 07019 जयपुर-हैदराबाद एक्सप्रेस ट्रेन के जावरा में बंद हुए स्टापेज को पुन प्रारंभ करने के अलावा मंडल द्वारा प्रस्ताव बनाकर पश्चिम रेलवे व रेलवे बोर्ड को भेजने की बात कही। इसके साथ ही ट्रेन 01125 ग्वालियर-रतलाम एवं 01126 भिंड-रतलाम एक्सप्रेस तथा 04309 देहरादून-उज्जैन एक्सप्रेस का विस्तार रतलाम होकर नीमच तक किया जाए।
मेमू को उज्जैन से नीमच तक चलाया जाए
प्रस्तावित उज्जैन-चित्तौड़ मेमू ट्रेन सुबह उज्जैन से चलाना प्रस्तावित है। पर इसे सुबह चित्तौड़ से प्रारंभ करना चाहिए। और शाम उज्जैन से चित्तौड़ चले। इससे लोगों को ज्यादा सुविधा होगी।
इन ट्रेनों के फेरे बढ़ाए जाएं
-साप्ताहिक इंदौर-बीकानेर महामना एक्सप्रेस एवं इंदौर-दिल्ली सरायरोहिल्ला एक्सप्रेस के फेरे बढ़ाना चाहिए।
-ट्रेन 09327 रतलाम-उदयपुर एक्सप्रेस में भी अनारक्षित श्रेणी में टिकट दिए जाएं।
- पहले महू-रतलाम डेमू सुबह 9ः20 बजे रतलाम आने के बाद नए नंबर से रतलाम-चित्तौड़ तक संचालित थी। इसे फिर से चलाई जाए।
-इंदौर-जम्मूतवी एक्सप्रेस सहित लंबी दूरी की कुछ ट्रेनों को मंदसौर-नीमच होकर चलाने का प्रस्ताव पश्चिम रेलवे के माध्यम से रेलवे बोर्ड को भेजा जाए।
- पहले ट्रेन 05911 रतलाम-जमनाब्रिज पैसेंजर का मंदसौर में पांच मिनट का स्टापेज था। इसे अभी दो मिनट का कर दिया गया है। माल लदान नहीं होने से व्यापारी परेशान हैं व रेलवे को भी राजस्व का नुकसान हो रहा है। ट्रेन का मंदसौर व नीमच में पांच-पांच मिनट का स्टापेज किया जाए।
Oct 01 (20:20) पहले दिन 30 यात्री गए मंदसौर-कोटा एक्सप्रेस में (www.naidunia.com)
New/Special Trains
WR/Western
0 Followers
20193 views

News Entry# 466466  Blog Entry# 5082475   
  Past Edits
Oct 01 2021 (20:20)
Station Tag: Yamuna Bridge Agra/JAB added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 01 2021 (20:20)
Station Tag: Agra Fort/AF added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 01 2021 (20:20)
Station Tag: Ratlam Junction/RTM added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 01 2021 (20:20)
Station Tag: Udaipur City/UDZ added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 01 2021 (20:20)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 01 2021 (20:20)
Station Tag: Mandsor/MDS added by Adittyaa Sharma/1421836
Posted by: AdittyaaSharma^~ 29948 news posts
मंदसौर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। मार्च 2020 में कोरोना की पहली लहर के दौरान बंद की गई ट्रेनें शुक्रवार से पटरी पर आ गई। शुक्रवार को कोटा-मंदसौर एक्स प्रेस प्रारंभ हो गई है। वहीं अब दो अक्टू बर को आगरा फोर्ट-रतलाम भी आएगी। और इसी दिन शाम को रतलाम-उदयपुर भी प्रारंभ हो जाएगी। 3 अक्टूबर से सुबह रतलाम-आगराफोर्ट भी प्रारंभ हो जाएगी। आगरा फोर्ट पैसेंजर ट्रेन के टिकट खिड़की पर मिलने से यात्रियों को भी काफी आसानी होगी। इससे छोटे स्टेशन से सफर करने वालों को भी फायदा मिलेगा। अब मंदसौर-नीमच जिले के लिए दिन व रात में कोटा के लिए तीन ट्रेन हो गई। उदयपुर के लिए भी सुबह-शाम दो ट्रेनें मिलेंगी।
लंबे समय बाद कोटा-मंदसौर एक्स प्रेस शुक्रवार को फिर से प्रारंभ
...
more...
हो गई। इसमें लगभग 40 से अधिक यात्री मंदसौर आए और लगभग 30 यात्री मंदसौर से सवार हुए है। अब धीरे-धीरे जैसे-जैसे लोगों को पता लगता जाएगा। इसमें यात्रियों की संख्या भी बढ़ जाएगी। शुक्रवार को ट्रेन निर्धारित समय सुबह 10ः30 बजे मंदसौर आई और सुबह 11ः35 बजे कोटा के लिए रवाना भी हो गई। अब दो अक्टूबर को चित्तौड़-रतलाम रेलखंड की प्रमुख पैसेंजर ट्रेन आगरा फोर्ट-रतलाम भी प्रारंभ हो जाएगी। यह दोपहर 1ः20 बजे मंदसौर पहुंचेगी। शाम लगभग 6 बजे रतलाम-उदयपुर एक्सप्रेस भी प्रारंभ हो जाएगी। आगरा फोर्ट मार्च 20 से ही बंद थी। पैसेंजर ट्रेन चलने से सबसे ज्यादा फायदा पिपलियामंडी, मल्हारगढ़, दलौदा, कचनारा, हर्कियाखाल जैसे छोटे स्टेशनों से जुड़े ग्रामीणों को होगा जो बसों में महंगा किराया देकर भी धक्के खा रहे हैं।
05912 जमनाब्रिज-रतलाम
ट्रेन सुबह 5ः15 बजे कोटा पहुंचेगी। यहां से बूंदी, मांडलगढ़, बस्सी होते हुए 11 बजे चित्तौड़, 11ः42 बजे निम्बाहेड़ा, 11ः46 बजे जावद रोड, 11ः56 बजे बिसलवास कलां, दोप. 12ः33 बजे नीमच, 12ः52 बजे हर्कियाखाल, 1ः04 बजे मल्हारगढ़, 1ः14 बजे पिपलियामंडी, 1ः29 बजे मंदसौर, 1ः57 बजे दलौदा, 2ः13 बजे कचनारा होते हुए 3ः45 बजे रतलाम पहुंचेगी।
05911 रतलाम-आगरा फोर्ट 3 अक्टूबर से चलेगी
ट्रेन रतलाम से 3 अक्टूबर को सुबह 8ः45 बजे चलेगी जो सुबह 10 बजे कचनारा, 10ः13 बजे दलौदा, 10ः28 बजे मंदसौर, 10ः49 बजे पिपलियामंडी, 11ः01 बजे मल्हारगढ, 11ः15 बजे हर्कियाखाल, 11ः33 बजे नीमच, 11ः51 बजे बिसलवास कलां, दोप. 12ः09 बजे जावद रोड, 12ः20 बजे निम्बाहेड़ा, 1ः50 बजे चित्तौड़ व शाम 7ः15 बजे कोटा होते हुए 4 अक्टूबर की सुबह 4ः40 बजे आगरा फोर्ट पहुंचेगी।
09327 रतलाम-उदयपुर एक्सप्रेस 2 अक्टूबर से चलेगी
ट्रेन रतलाम से 2 अक्टू्‌बर को शाम 4ः45 बजे चलेगी जो 5ः03 बजे जावरा, 5ः38 बजे दलौदा, 5ः51 बजे मंदसौर, 6ः10 बजे पिपलियामंडी, 7ः11 बजे नीमच, 7ः34 बजे जावद रोड, 7ः47 बजे निम्बाहेड़ा, रात 8ः35 बजे चित्तौड़ होते हुए 11ः45 बजे उदयपुर पहुंचेगी।
09328 उदयपुर-रतलाम एक्सप्रेस 2 अक्टूबर से चलेगी
2 अक्टूबर की रात 1ः30 बजे ट्रेन उदयपुर से चलेगी। वहां से मावली, कपासन होते हुए रात 3ः40 बजे चित्तौड़, सुबह 4ः15 बजे निम्बाहेड़ा, 4ः28 बजे जावद रोड, 4ः46 बजे नीमच, 5ः33 बजे पिपलियामंडी, 5ः47 बजे मंदसौर, 6ः04 बजे दलौदा होते हुए सुबह 8 बजे रतलाम पहुंचेगी।
रतलाम, वंदेमातरम् न्यूज।कोविड के दौरान बंद की गई यमुना ब्रिज-रतलाम व उदयपुर-रतलाम ट्रेन का रेलवे ने दोबारा परिचालन शुरू करने जा फैसला लिया है।पश्चिम रेलवे रतलाम मंडल के रतलाम से यमुना ब्रिज तक परिचालित की जाने वाली गाड़ी संख्‍या 05912/05911 यमुना ब्रिज-रतलाम आगरा फोर्ट पैसेंजर स्‍पेशल ट्रेन को पुन: आरंभ करने से यात्रियों को भारी राहत मिलेगी।गाड़ी संख्‍या 05912 यमुना ब्रिज-रतलाम स्‍पेशल ट्रेन 01 अक्‍टूबर से अगली सूचना तक प्रतिदिन यमुना ब्रिज से शाम 06.15 बजे चलेगी। यह दोपहर 03.45 बजे रतलाम पहुंचेगी। वापसी में गाड़ी संख्‍या 05911 रतलाम-आगरा फोर्ट स्‍पेशल ट्रेन 03 अक्‍टूबर से चलेगी। यह रतलाम से सुबह 08.45 बजे रवाना होगी व दूसरे दिन सुबह 04.40 बजे आगरा फोर्ट पहुंचेगी।उदयपुर रतलाम उदयपुर स्पेशल चलेगीइसी तरह पश्चिम रेलवे रतलाम मंडल के रतलाम से उदयपुर तक परिचालित की जाने वाली गाड़ी संख्‍या 09327/09328 उदयपुर-रतलाम-उदयपुर पैसेंजर स्‍पेशल ट्रेन को पुन: आरंभ किया जा रहा है।गाड़ी संख्‍या 09327 उदयपुर-रतलाम स्‍पेशल ट्रेन, 03...
more...
अक्‍टूबर से प्रतिदिन उदयपुर से रात 1.30 बजे चलकर सुबह 08.00 बजे रतलाम पहुंचेगी। वापसी में गाड़ी संख्‍या 09328 रतलाम-उदयपुर स्‍पेशल ट्रेन 02 अक्‍टूबर से अगली सूचना तक चलेगी। यह रतलाम से शाम 04.45 बजे रवाना होगी।कोटा-मंदसौर-कोटा पैसेंजर का भी पुन: परिचालनपश्चिम रेलवे रतलाम मंडल के मंदसौर से कोटा के मध्‍य चलने वाली गाड़ी संख्‍या 09816/09815 कोटा-मंदसौर-कोटा पैसेंजर स्‍पेशल एक्‍सप्रेस को 01 अक्‍टूबर।से अगले आदेश तक परिालन किया जाएगा।
मंदसौर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। मार्च 2020 में कोरोना की पहली लहर के दौरान बंद की गई ट्रेनें अब एक व दो अक्टूबर से फिर पटरी पर दौड़ने लगेंगी। इससे छोटे स्टेशन से सफर करने वालों को भी फायदा मिलेगा। पश्चिम मध्य रेलवे ने आगरा फोर्ट-रतलाम, मंदसौर-कोटा एक्सप्रेस व रतलाम-उदयपुर एक्सप्रेस का टाइम टेबल जारी कर दिया है। इससे अब मंदसौर-नीमच जिले के लिए कोटा की दिन व रात में तीन ट्रेन हो जाएंगी। वहीं उदयपुर के लिए भी सुबह-शाम दो ट्रेनें मिलेंगी। सभी ट्रेनें इलेक्ट्रिक इंजिन से चलने से गति भी बढ़ाई गई है और समय भी कम लगेगा।
रतलाम-चित्तौड़ रेलखंड पर पैसेंजर ट्रेनें डेमू और आगराफोर्ट-रतलाम ही थी। आगरा फोर्ट मार्च 20 के बाद से बंद ही है। अब यह लगभग
...
more...
19 माह बाद चलेगी। डेमू भी अभी कुछ समय पहले चलना शुरू हो गई है। पैसेंजर ट्रेन चलने से सबसे ज्यादा फायदा पिपलियामंडी, मल्हारगढ़, दलौदा, कचनारा, हर्कियाखाल जैसे छोटे स्टेशनों से जुड़े ग्रामीणों को होगा जो बसों में महंगा किराया देकर भी धक्के खा रहे हैं। पश्चिम मध्य रेलवे के कोटा मंडल ने आगराफोर्ट-रतलाम, रतलाम-उदयपुर व मंदसौर कोटा की समय-सारिणी भी जारी कर दी है।
05912 जमनाब्रिज-आगरा फोर्ट 1 अक्टूबर से चलेगी, 2 को मंदसौर आएगी
ट्रेन जमनाब्रिज(आगरा) से 1 अक्टूबर को शाम 6ः15 बजे चलेगी। जो 2 अक्टूबर को सुबह 5ः15 बजे कोटा पहुंचेगी। यहां से बूंदी, मांडलगढ़, बस्सी होते हुए 11 बजे चित्तौेड़, 11ः42 बजे निम्बाोहेड़ा, 11ः46 बजे जावद रोड, 11ः56 बजे बिसलवास कलां, दोप. 12ः33 बजे नीमच, 12ः52 बजे हर्कियाखाल, 1ः04 बजे मल्हा रगढ़, 1ः14 बजे पिपलियामंडी, 1ः29 बजे मंदसौर, 1ः57 बजे दलौदा, 2ः13 बजे कचनारा होते हुए 3ः45 बजे रतलाम पहुंचेगी।
05911 रतलाम-आगरा फोर्ट 3 अक्टूबर से चलेगी
ट्रेन रतलाम से 3 अक्टूबर को सुबह 8ः45 बजे चलेगी जो सुबह 10 बजे कचनारा, 10ः13 बजे दलौदा, 10ः28 बजे मंदसौर, 10ः49 बजे पिपलियामंडी, 11ः01 बजे मल्हारगढ, 11ः15 बजे हर्कियाखाल, 11ः33 बजे नीमच, 11ः51 बजे बिसलवास कला, दोप. 12.09 बजे जावद रोड, 12ः20 बजे निम्बोहेडा, 1ः50 बजे चित्तौड़ व शाम 7ः15 बजे कोटा होते हुए 4 अक्टूबर की सुबह 4ः40 बजे आगरा फोर्ट पहुंचेगी।
09327 रतलाम-उदयपुर एक्सप्रेस 2 अक्टूबर से चलेगी,
ट्रेन रतलाम से 2 अक्टू्‌बर को शाम 4ः45 बजे चलेगी जो 5ः03 बजे जावरा, 5ः38 बजे दलौदा, 5ः51 बजे मंदसौर, 6ः10 बजे पिपलियामंडी, 7ः11 बजे नीमच, 7ः34 बजे जावद रोड, 7ः47 बजे निम्बोहेडा, रात 8ः35 बजे चित्तौड़ होते हुए 11ः45 बजे उदयपुर पहुंचेगी।
09328 उदयपुर-रतलाम एक्सप्रेस 2 अक्टूबर से चलेगी
2 अक्टूबर की रात 1ः30 बजे ट्रेन उदयपुर से चलेगी। वहां से मावली, कपासन होते हुए रात 3ः40 बजे चित्तौड़, सुबह 4ः15 बजे निम्बाहेड़ा, 4ः28 बजे जावद रोड, 4ः46 बजे नीमच, 5ः33 बजे पिपलियामंडी, 5ः47 बजे मंदसौर, 6ः04 बजे दलौदा होते हुए सुबह 8 बजे रतलाम पहुंचेगी।
-09816 कोटा-मंदसौर स्पेशल एक्सप्रेस 1 अक्टूबर से चलेगी
ट्रेन कोटा से 1 अक्टूबर को सुबह 4ः45 बजे चलेगी। जो 5ः18 बजे बूंदी, 6.08 बजे श्यामपुरा, 6ः26 बजे मांडलगढ़, 6ः48 बजे परासली, 7.08 बजे बस्सी , 7ः50 बजे चित्तौेड़, 8ः25 बजे निम्बाहेड़ा, 8ः48 बजे नीमच होते हुए सुबह 10ः30 बजे मंदसौर आएगी।
-09815 मंदसौर-कोटा स्पेशल एक्सप्रेस 1 अक्टूबर से चलेगी
ट्रेन मंदसौर से 1 अक्टूबर को सुबह 11ः35 बजे चलेगी जो दोप.12ः01 बजे नीमच, 12ः35 बजे निम्बोहेडा, 1ः15 बजे चित्तौड़, दोप. 2ः23 बजे बस्सी5, 2ः38 बजे परासली, 2ः58 बजे मांडलगढ़, 3ः15 बजे श्यामपुरा, 4ः03 बजे बूंदी होते हुए शाम 5 बजे कोटा पहुंचेगी।
रतलाम-उदयपुर का मल्हारगढ़ स्टापेज बंद करने से आक्रोश
मल्हारगढ़(नईदुनिया न्यूज)। मल्हारगढ़ क्षेत्र की रेलवे के मामले में जनप्रतिनिधियों द्वारा लगातार उपेक्षा की जा रही है। वहीं जिन ट्रेनों का पहले मल्हारगढ़ में स्टापेज था वह भी समाप्त किया जा रहा है। पश्चिम मध्य रेलवे द्वारा 2 अक्टूबर से रतलाम-उदयपुर ट्रेन प्रारंभ की जा रही है पर समय सारणी में उसका मल्हारगढ़ में स्टापेज हटा दिया गया है। इससे लोगों में आक्रोश है। पहले रतलाम-उदयपुर ट्रेन शाम लगभग 6ः30 बजे लगभग मल्हारगढ़ आती थी। और उदयपुर-रतलाम ट्रेन सुबह 5ः15 बजे लगभग मल्हारगढ़ आती थी। पर अब रतलाम-उदयपुर ट्रेन का मल्हारगढ़ स्टापेज समाप्त कर दिया गया है। पिपलियामंडी के बाद सीधे नीमच रूकेगी। या तो 11 किमी दूर पिपलियामंडी या 25 किमी नीमच जाकर ट्रेन में बैठ सकेंगे।
आर्थिक नुकसान साथ समय भी बर्बाद
-रतलाम-उदयपुर ट्रेन में कई यात्री अपडाउन भी करते हैं वही स्वास्थ्य उपचार के लिए उदयपुर जाते थे। चित्तौड़गढ़,निम्बाहेड़ा,जावरा, रतलाम,उदयपुर के लिए निजी बसों से यात्रा करने से आर्थिक नुकसान होगा। वर्तमान में केवल अलसुबह मंदसौर-उदयपुर, रतलाम-भीलवाड़ा डेमू व रात में मंदसौर-कोटा ट्रेन का ठहराव मल्हारगढ़ में हैं। इसके अलावा किसी ट्रेन का स्टापेज मल्हारगढ़ में नहीं है।
क्या कहते हैं परेशान लोग
-मल्हारगढ़ की रेलवे को लेकर स्थिति खराब है। रेलवे में सुविधाओं का विस्तार होना चाहिए। लेकिन सुविधा कम हो रही है। रतलाम-उदयपुर का जल्द स्टापेज होना चाहिएं।-मांगीलाल भाना ,मल्हारगढ़
-रतलाम उदयपुर ट्रेन का स्टापेज मल्हारगढ़ में होना चाहिए। कई लोग डेली सफर कर सकते हैं वही उदयपुर में इलाज करवाने जाते हैं जनता के खिलवाड़ नहीं होना चाहिए।-राजेश भाना मल्हारगढ
-ट्रेन के स्टापेज समाप्त होने से डेली अपडाउन करने वाले व यात्रियो को भी परेशानी आएगी।व ट्रेन से मरीज भी उदयपुर जाते हैं ट्रेन का स्टापेज रुकना चाहिएं।-विकास पाटीदार मल्हारगढ़
-पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन ने अपने कार्यकाल में मल्हारगढ़ में रतलाम-उदयपुर ट्रेन का स्टापेज कराया था। अब स्टापेज खत्म हो रहा है यह सांसद सुधीर गुप्ता की निष्क्रियता के कारण हुआ है स्टापेज नहीं होगा तो हम आंदोलन करेंगे।- विजेश मालेचा, नगर अध्यक्ष, कांग्रेस मल्हारगढ़
-2 अक्टूबर से प्रारंभ हो रही रतलाम-उदयपुर एक्सप्रेस ट्रेन के मल्हारगढ़ में स्टापेज नहीं होने की जानकारी मिली है इस संबंध में सांसद सुधीर गुप्ता से चर्चा कर मल्हारगढ़ में स्टापेज कराने का प्रयास करेंगे।- आशीष विजयवर्गीय, नगर अध्यक्ष, भाजपा मल्हारगढ़
Page#    4 News Items  

Go to Full Mobile site