Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Sri Jagannath Express is as good as Abada Prasad - Brandon Buffard

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Thu Jun 24 06:06:48 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 466722-0
no description available
Entry# 2239904-0
Small Station Board;
Entry# 1173412-0

SVA/Suwasra (2 PFs)
     सुवासरा

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
MDR 45, Suwasra , Dist - Mandsaur
State: Madhya Pradesh

Elevation: 455 m above sea level
Zone: WCR/West Central   Division: Kota

No Recent News for SVA/Suwasra
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 30
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 4.3/5 (23 votes)
cleanliness - excellent (3)
porters/escalators - excellent (2)
food - good (3)
transportation - excellent (3)
lodging - good (3)
railfanning - good (3)
sightseeing - excellent (3)
safety - good (3)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 17 of 17 News Items  
Feb 07 (14:08) रेलवे:आरक्षित टिकट से यात्रा, रेलवे फिर भी नहीं बढ़ा रहा बुकिंग विंडो (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
WCR/West Central
0 Followers
63610 views

News Entry# 437628  Blog Entry# 4869474   
  Past Edits
Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Antah/ATH added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Bayana Junction/BXN added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Chhabra Gugor/CAG added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Bundi/BUDI added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Indargarh/IDGH added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Lakheri/LKE added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Morak/MKX added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Jhalawar City/JLWC added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Suwasra/SVA added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Mahidpur Road/MEP added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Chau Mahla/CMU added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Shamgarh/SGZ added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Bhawani Mandi/BWM added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 07 2021 (14:08)
Station Tag: Ramganj Mandi Junction/RMA added by Anupam Enosh Sarkar/401739
कोराना काल में स्पेशल ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है जिसमें यात्री केवल आरक्षित टिकट लेकर ही यात्रा कर रहे हैं , लेकिन रेलवे कई मध्यम श्रेणी के स्टेशनों पर बुकिंग विंडो नहीं बढ़ा रहा है। इसके कारण कोटा रेल मंडल के कई मध्यम श्रेणी के स्टेशनों पर यात्रियों की लंबी कतार लग जाती है। जिससे यात्रियों को आरक्षित टिकट लेने में समय लगता है।
दिल्ली मुंबई रेल मार्ग पर स्थित कोटा रेल मंडल से होकर रोजाना लगभग 90 ट्रेन चलती है। जिसमें सभी 65 ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है। यह सभी ट्रेनें स्पेशल ट्रेनों के नाम से चल रही हैं। इन स्पेशल ट्रेनों में केवल यात्री आरक्षित टिकट लेकर यात्रा कर सकता है। कोटा रेल मंडल में मध्यम
...
more...
श्रेणी के स्टेशन पर केवल एक ही टिकट बुकिंग विंडो है जो भी सुबह 8:00 बजे से दोपहर 2:00 बजे तक की खोली जा रही है।
इसके कारण यात्रियों को टिकट लेने के लिए ही लंबी लाइन लगानी पड़ रही है। भवानी मंडी रामगंज मंडी शामगढ़ चोमहला मैं सिंगल विंडो होने के कारण यात्रियों को परेशानी हो रही है। रेलवे को जब तक स्पेशल ट्रेन चले तब तक मध्यम श्रेणी के स्टेशनों पर लिस्ट ऑफ बढ़ाकर टिकट विंडो की संख्या भी बढ़ानी चाहिए। आरक्षित टिकट बुकिंग का समय 8:00 से 2:00 की बजाय रात 8:00 बजे तक किया जाना चाहिए।
इन स्टेशनों पर सिंगल विंडो
कोटा रेल मंडल के रामगंजमंडी ,भवानी मंडी शामगढ़, चौमहला, महिदपुर सुवासरा, झालावाड़, मोड़क,लाखेरी ,इंदरगढ़, बूंदी , छबड़ा,बयाना, बारा अंता मैं सिंगल टिकट विंडो है।
Feb 02 (21:07) पत्रिका अभियान: सबकुछ अनलॉक...रेल सफर क्यों लॉक (www.patrika.com)
Commentary/Human Interest
WCR/West Central
0 Followers
15759 views

News Entry# 436586  Blog Entry# 4864825   
  Past Edits
Feb 02 2021 (21:07)
Station Tag: Shamgarh/SGZ added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 02 2021 (21:07)
Station Tag: Mandsor/MDS added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 02 2021 (21:07)
Station Tag: Garoth/GOH added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 02 2021 (21:07)
Station Tag: Suwasra/SVA added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Mandsor/MDS   Suwasra/SVA   Shamgarh/SGZ   Garoth/GOH  
टीम मंदसौर.कहते है जिंदगी चलने का नाम है, लेकिन मंदसौर जिले के २५ हजार से ज्यादा लोगों की आवाजाही का माध्यम ही रोक दिया गया है। कोरोनाकाल में जब सबकुछ लॉक हुआ तो ट्रेनों की गति भी थम गई, फिर अनलॉक का दौर आया तो रेलवे ने कुछ ट्रेनों का संचालन शुुरू कर दिया, उम्मीद बंधी कि थमी रफ्तार लौटेगी, लेकिन रेलवे के फैसलों से करीब 200 गांव के लोग स्तब्ध से हो गए हैं। एक के बाद एक ट्रेन का स्टॉपेज मालवा की धरा के इस जिले से वापस लिया जा रहा है, अब तो हालात ये हो गए है कि जिन स्टेशनों पर दिन-रात ट्रेनों की आवाज गूंजती थी, वहां अब सन्नाटा पसरा रहता है। रेलवे खुद तो आर्थिक नुकसान झेल रहा है, साथ ही आम यात्री को भी अनेकों परेशानियां सामने आ रही है।
मंदसौर:
...
more...
अब यात्रियों की संख्या रह गई महज 15 प्रतिशत
मंदसौर रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की संख्या में भारी कमी आई है। सामान्य दिनों में 7 से 8 हजार यात्री की प्रतिदिन मंदसौर स्टेशन से आवाजाही होती थी, लेकिन अब संख्या 1000 तक भी नहीं पहुंच पा रही है। यात्रियों की संख्या कम होने के कारण कोविड है, लेकिन इसके साथ ही स्टॉपेज भी बड़ी वजह है। वहीं बिना रिजर्वेशन के यात्री यात्रा भी नहीं कर पा रहे हैं। लॉकडाउन के पहले मंदसौर स्टेशन पर अप और डाउन में 21 यात्री गाडिय़ों का स्टॉपेज होता था लेकिन लॉकडाउन के बाद जब ट्रेनों का आवागमन शुरू हुआ तो मंदसौर स्टेशन पर सिर्फ स्पेशल ट्रेनें ही रुक रही है वह उनकी संख्या भी महज आठ है। पिपलिया मंडी स्टेशन पर तो अभी मात्र एक ही ट्रेन का स्टॉपेज हो रहा है। इससे पहले 6 ट्रेनों का स्टॉपेज था और यहां यात्रियों की संंख्या 100 के अंदर तक सिमट गई है।
महज छह जोड़ा टे्रनों का संचालन
कोरोनाकाल से पहले शामगढ़ में कुल 23 जोड़ा ट्रेन यानि 46 ट्रेनों का परिचालन हो रहा था। वर्तमान में प्रतिदिन 6 जोड़ा ट्रेनें अर्थात कुल 12 चल रही है। जिनमें पश्चिम एक्सप्रेस, जमू तवी, इंटरसिटी एक्सप्रेस, कोटा रतलाम एक्सप्रेस, देहरादून एक्सप्रेस गोल्डन टेंपल मेल, जोधपुर इंदौर है। इनके अलावा सप्ताह में एक दिन आसनसोल से भावनगर शुक्रवार को आती है तथा चेन्नई से जयपुर जो पहले कुल सप्ताह में 4 दिन चल रही थी उनमें से 3 दिन का स्टॉपेज शामगढ़ बंद करके सप्ताह में सिर्फ 2 दिन शुक्रवार और रविवार को स्टॉपेज किया गया है। पहले सवा लाख रूपए से अधिक की आवक थी। वह अब बहुत कम हो गई है। अब अधिकारियों को भी जानकारी नहीं है कि स्टॉपेज खत्म कर सुविधा में कटौती क्यों कर दी गई है, वे अब नफे नुकसान का आंकलन कर रहे हैं।
गरोठ: एक ट्रेन के भरोसे अहम स्टेशन
कोरोना से पहले गरोठ स्टेशन पर इंटरसिटी एक्सप्रेस, कोटा रतलाम पैसेंजर, देहरादून बांद्रा एक्सप्रेस, कोटा वडोदरा पैसेंजर, अवध एक्सप्रेस, रतलाम मथुरा पैसेंजर, जोधपुर इंदौर एक्सप्रेस सभी गाडिय़ां अपडाउन थी। हालांकि जोधपुर का स्टॉपेज पहले ही बंद कर दिया गया था और अब महज एक ही इंटरसिटी एक्सप्रेस का स्टॉपेज गरोठ में है। 20 हजार रुपए रोजाना की अर्निंग थी और स्टेशन से 500 यात्री रोजाना यात्रा करते थे। गरोठ, बोलिया खड़ावदा, बर्डिया अमरा, दुधाखेडी, सहित १५० से ज्यादा गांव के लोग इससे प्रभावित हुए है। टे्रनों के स्टॉपेज बंद होने के बाद यह विरान पड़ा है। इन विरान रेलवे स्टेशन होने का सबसे बड़ा कारण है कि बड़ी संख्या में यात्री गाडिय़ों के स्टॉपेज खत्म हो गए हैं। लोगों को अब निजी या सड़क मार्ग से ही परिवहन करना पड़ रहा है।
सुवासरा: दो ट्रेन ही अब ठहरती है
सुवासरा स्टेशन पर अब महज दो गाडिय़ां रूक रही है। इसमें इंटरसिटी एक्सप्रेस और कोटा नागदा एक्सप्रेस है। वहीं देहरादून एक्सप्रेस, बांद्रा गोरखपुर अवध एक्सप्रेस, बांद्रा मुजफरपुर अवध एक्सप्रेस जयपुर मुंबई एक्सप्रेस, जोधपुर इंदौर एक्सप्रेस, जयपुर पूणे एक्सप्रेस, फिरोजपुर मुंबई जनता एक्सप्रेस मथुरा लोकल पैसेंजर, कोटा बड़ौदा पार्सल सहित अन्य गाडिय़ां बंद हो गई है। इस स्टेशन से जिले के साथ-साथ राजस्थान के झालावाड़ जिले के यात्री भी प्रभावित हुए है। इन स्टेशनों पर यात्रियों के कारण जिन लोगों का रोजगार चल रहा था। उनके रोजगार पर भी बड़ा असर पड़ा है। इन गाडिय़ों के स्टॉपेज खत्म होने से आम आदमी में रोष व्याप्त है। सुविधाएं बढ़ाने के बजाए रेलवे द्वारा सुविधाएं छिनने का काम किया। इसे लेकर सुवासरा नगर बंद का आव्हान भी किया गया था।
Jan 23 (21:15) नई रेल लाइन की मांग, सुवासरा मुकम्मल बंद रहा (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
WCR/West Central
0 Followers
10179 views

News Entry# 434806  Blog Entry# 4854768   
  Past Edits
Jan 23 2021 (21:15)
Station Tag: Mandsor/MDS added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 23 2021 (21:15)
Station Tag: Suwasra/SVA added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Mandsor/MDS   Suwasra/SVA  
सुवासरा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर स्थित सुवासरा स्टेशन पर रेलवे ने कई ट्रेनों का स्टॉपेज समाप्त कर दिया है। वहीं लगभग साल पहले रेल बजट में ली गई सुवासरा-मंदसौर रेल लाइन का सर्वे पूरा कर डीपीआर बनने के बाद भी राशि स्वीकृत नहीं हो रही है। इसके विरोध में शुरू किए गए चरणबद्ध आंदोलन के तहत शनिवार को सुवासरा नगर मुकम्मल बंद रहा। रात में भी लोगों ने प्रतिष्ठान और दुकानें नहीं खोली। रेलवे परिसर में धरना भी दिया गया। आंदोलन का श्रीगणेश संभव डपकरा ने शंख बजाकर किया। रेलवे परिसर में सुबह 11 बजे से शुरू हुआ धरना शाम पांच बजे समाप्त हुआ। इसके बाद केंद्रीय रेलमंत्री, रेलवे महाप्रबंधक, सांसद के नाम ज्ञापन सौंपे गए। धरने में सामाजिक धार्मिक संगठन, आपदा प्रबंध समिति के पदाधिकारियों सहित अनेक लोग मौजूद थे।
सुबह
...
more...
से ही सुवासरा नगर के प्रमुख बाजार बंद ही रहे। नगर में एक भी दुकान नहीं खुली। सभी सामाजिक व धार्मिक संगठनों के संयुक्त आह्वान पर रखे गए बंद का व्यापारी संगठनों ने भी समर्थन किया। नगर में चाय पान की होटल भी नहीं खुली। इधर रेलवे स्टेशन के बाहर सुबह 11 बजे से शाम पांच बजे तक सांकेतिक धरना भी दिया गया। इसके बाद केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल, सांसद सुधीर गुप्ता के नाम एक ज्ञापन तहसीलदार सुनील डाबर को सौंपा गया। पश्चिगम मध्य रेलवे जबलपुर जोन के महाप्रबंधक, चेयरमेन रेलवे बोर्ड, कोटा मंडल रेल प्रबंधक के नाम ज्ञापन सुवासरा स्टेशन अधीक्षक रामराजसिंह सोलंकी को सौंपा गया। धरने के दौरान उपस्थित लोगों से चर्चा करने आरपीएफ थाना प्रभारी प्रतापसिंह भी पहुंचे। धरने में पदाधिकारियों ने संबोधित भी किया। यहीं आंदोलन को लेकर आगे की योजना भी बनाई गई। इस दौरान रामगोपाल सोनी, भगवतीलाल टेलर, कमल जैन, रामसिंह मेहर, पन्नाालाल सोनी, भगवतीलाल मोदी, अलीभाई, वसीम खां, ललित देवड़ा मुबारिक मंसूरी, राहुल जैन, जगदीश राठौर, लोकेंद्र मांदलिया, चांदमल फरक्या, अशोक जैन, बाबूलाल लोहार सहित कई लोग मौजूद थे।
वर्ष-1980 से हो रही है सुवासरा-मंदसौर रेल लाइन की मांग
ज्ञापन में कहा गया कि वर्ष 1980 से ही सुवासरा-मंदसौर रेल लाइन के लिए संघर्ष जारी है। मुंबई- दिल्ली रेलमार्ग पर सुवासरा मुख्य स्टेशन है। सुवासरा शहरी क्षेत्र होने के साथ ही मंदसौर और राजस्थान के झालावाड़ जिले का सबसे निकटतम महत्वपूर्ण स्टेशन है। लोगों की मांग है कि क्षेत्र में विकास के नए आयाम स्थापित करने वाली मंदसौर-सुवासरा रेल लाइन के लिए आगामी बजट में पर्याप्त राशि आवंटित की जाए। जिससे सुवासरा नगर मंदसौर-प्रतापगढ़-भीलवाड़ा-बांसवाड़ा आदि क्षेत्रों से सीधा जुड़ सके। पूर्व में सुवासरा स्टेशन पर रुकने वाली जयपुर- पुणे एक्सप्रेस, इंदौर-जोधपुर एक्सप्रेस, बांद्रा-देहरादून एक्सप्रेस, बिलासपुर-बीकानेर एक्सप्रेस सहित अन्य ट्रेनों का ठहराव भी किया जाए। मांगे नही मानने पर क्रमबद्ध धरना, भूख हड़ताल, चक्काजाम एवं रेल रोको आंदोलन किया जाएगा।
दो और ट्रेनों का स्टॉपेज बंद अब दो ट्रेन ही बची
इधर नगर में रेल सुविधाएं बंद करने के विरोध में आंदोलन चल रहा था और रेलवे प्रशासन ने सुवासरा स्टेशन पर अवध एक्संप्रेस औरर जयपुर-मुंबई एक्सप्रेस जैसी महत्वपूर्ण ट्रेनों का स्टॉपेज भी बंद करने के आदेश जारी कर दिए। अब सुवासरा स्टेशन पर 24 घंटे में महज दो ट्रेन निजामुद्दीन-इंदौर इंटरसिटी एक्सप्रेस व कोटा-नागदा मेला गाडी का ही स्टॉपेज बचा है।
Jan 21 (20:24) सुवासरा-मंदसौर रेल लाइन की मांग, कल बंद रहेगा सुवासरा (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
WCR/West Central
0 Followers
9887 views

News Entry# 434428  Blog Entry# 4852523   
  Past Edits
Jan 21 2021 (20:24)
Station Tag: Mandsor/MDS added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 21 2021 (20:24)
Station Tag: Suwasra/SVA added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Mandsor/MDS   Suwasra/SVA  
सुवासरा (नईदुनिया न्यूज)। रेलवे द्वारा सुवासरा स्टेशन पर लगातार रेल सुविधाएं कम की जा रही हैं। कई ट्रेनों के स्टॉपेज बंद कर दिए गए हैं तो 2013 के रेल बजट में स्वीकृत सुवासरा-सीतामऊ-मंदसौर रेल लाइन का काम भी शुरू नहीं किया जा रहा है। इसे लेकर सामाजिक, धार्मिक संगठनों एवं आपदा प्रबंध समिति की महापंचायत ने रेल प्रशासन के विरुद्ध चरणबद्ध आंदोलन की घोषणा की है। सबसे पहले 23 सितंबर को सुवासरा नगर को बंद रखा जाएगा। इसके पश्चात क्रमबद्ध धरना भूख हड़ताल, चक्काजाम एवं रेल रोको आंदोलन किया जाएगा।
सुवासरा-मंदसौर रेल लाइन की डीपीआर बनने के बाद भी काम शुरू नहीं किया जा रहा है। सुवासरा स्टेशन पर लगातार एक्सप्रेस व अन्य ट्रेनों का स्टॉपेज बंद किया जा रहा है।
...
more...
इस उपेक्षा से त्रस्त सामाजिक कार्यकर्ता बहुत आक्रोशित हैं। गुरुवार को सभी ने मिलकर चरणबद्ध आंदोलन की रूपरेखा तैयार की है। आपदा प्रबंध समिति संरक्षक भगवतीलाल टेलर ने कहा कि मालवा-मेवाड़ और हाड़ौती को जोड़ने वाली सुवासरा-मंदसौर रेल लाइन की उपेक्षा बर्दाश्त नहीं की जाएगी। पहले ठहरने वाली ट्रेनों का स्टॉपेज हो और सुवासरा-मंदसौर रेल लाइन के लिए राशि स्वीकृत की जाए। पोरवाल समाज अध्यक्ष पीरूलाल डपकरा ने कहा कि बांसवाड़ा, भीलवाड़ा, नीमच, मंदसौर को सीधे दिल्ली-मुंबई से जोड़ने वाली रेल लाइन जीवन रेखा साबित होगी। बैठक में समाजसेवी कमल जैन, राजेश गुप्ता, भगवतीलाल मोदी, रामसिंह मेहर, अशोक शर्मा, राकेश वर्मा, रोमी होंडा, अली बोहरा, राहुल जेन सहित कई गणमान्य लोगों ने भी संबोधित किया। पुराने बस स्टैंड पर हुई बैठक में सुवासरा के समस्त सामाजिक, धार्मिक संगठन सदस्य उपस्थित रहे। बैठक में सुवासरा सीतामऊ मंदसौर सहित पूरे अंचल की उपेक्षा से आक्रोशित जनसामान्य ने चरणबद्ध तरीके से आंदोलन की रूपरेखा तैयार की है। पहले चरण में पूरी तरह 23 जनवरी को नगर बंद रहेगा। इसके बाद चरणबद्ध धरना आयोजित होगा। दूसरे चरण में भूख हड़ताल और चक्काजाम किया जाएगा।
क्यों आवश्यक है सुवासरा-मंदसौर रेल लाइन
सुवासरा-मंदसौर रेल लाइन की मांग लगभग 40 साल पुरानी है। 1980 से ही जनसामान्य द्वारा मांग की जा रही है कि सुवासरा-मंदसौर व्हाया सीतामऊ लाइन बिछाई जाए। इसी दौरान पुष्कर-मेड़ता, बेर-बिलाड़ा लाइन की भी मांग उठी थी। वर्तमान में दोनों लाइनों पर रेल आवागमन चल रहा है। जबकि सुवासरा-मंदसौर रेल लाइन अधर में चली गई। 2013 में तत्कालीन सांसद मीनाक्षी नटराजन के प्रयास से सर्वे हेतु घोषित हुई थी। 2016 में वर्तमान सांसद सुधीर गुप्ता के प्रयासों से सर्वे पूर्ण हुआ। 62 किमी लंबी इस रेल लाइन के मध्य कुल आठ स्टेशन तय हुए। अनुमानित राशि 485 करोड़ रुपये का खर्च आंकलन किया गया। अब रेलवे जोन जबलपुर में डीपीआर के लिए स्वीकृति का इंतजार है।
Jan 10 (01:32) देहरादून एक्सप्रेस 11 से होगी शुरू, गरोठ-सुवासरा में नहीं रुकेगी (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
WCR/West Central
0 Followers
24945 views

News Entry# 432663  Blog Entry# 4839761   
  Past Edits
Jan 10 2021 (01:32)
Station Tag: Suwasra/SVA added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 10 2021 (01:32)
Station Tag: Garoth/GOH added by Anupam Enosh Sarkar/401739
शामगढ़ (नईदुनिया न्यूज)। दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर गरीब मध्यम वर्ग के लिए अभी तक सस्ती सुलभ रही देहरादून एक्सप्रेस का संचालन 11 जनवरी से प्रारंभ हो रहा है, पर अब यह ट्रेन बांद्रा से हरिद्वार तक ही चलेगी और मंदसौर जिले में केवल शामगढ़ में ही रुकेगी। गरोठ व सुवासरा सहित ट्रेन के पूरे मार्ग पर कई स्टेशनों पर स्टॉपेज खत्म कर दिए गए हैं। स्पेशल बनाकर चलाने के साथ ही ट्रेन के आने व जाने का समय भी बदल दिया गया है। वहीं कोटा में लिंक होने वाली मेरठ-मंदसौर लिंक एक्सेप्रेस को भी अभी चालू नहीं किया जा रहा है।
कोटा रेल मंडल कार्यालय में शुक्रवार देर शाम को इसके संचालन के लिए पत्र आ गया है। स्पेशल
...
more...
के नाम से चलाई जा रहीं देहरादून एक्सप्रेस ट्रेन के समय में परिवर्तन के साथ ही कई छोटे-छोटे स्टेशनों पर इसका स्टॉपेज खत्म कर दिया है। शामगढ़ में इसका स्टॉपेज दिया गया है, मगर आसपास के सुवासरा एवं गरोठ में इसका स्टॉपेज खत्म कर दिया है। हरिद्वार जाने के लिए एक मात्र सीधी ट्रेन है। पहले यह देहरादून से चलती थी मगर अब यह हरिद्वार से बांद्रा तक चलेगी। देहरादून तक नहीं जाएगी। इसका नाम जरूर देहरादून एक्सप्रेस रहेगा मगर बांद्रा हरिद्वार से तक ही चलेगी। कोटा रेल मंडल के सहायक वाणिज्य प्रबंधक नंदकिशोर मीणा ने बताया हरिद्वार-बांद्रा देहरादून स्पेशल ट्रेन में 20 कोच रहेंगे। 2 सेकंड एसी, 2 थर्ड एसी, 10 स्लीपर व 4 जनरल कोच रहेंगे।
मंदसौर-मेरठ लिंक एक्सप्रेस अभी कोटा में नहीं जुड़ेगी
मिली जानकारी के अनुसार मंदसौर-मेरठ लिंक एक्सीप्रेस को अभी बंद ही रखा गया है। पहले इस ट्रेन के छह कोच कोटा में देहरादून एक्सप्रेस से जुड़ते थे। इससे मंदसौर-नीमच के लोगों को दिल्ली, कोटा, मथुरा, मेरठ व हरिद्वार तक जाने की सुविधा थी। पर अभी रेलवे ने इस लिंक एक्सप्रेस को प्रारंभ करने की घोषणा नहीं की है।
इस तरह चलेगी ट्रेन
ट्रेन नंबर 09019 बांद्रा टर्मिनस- हरिद्वार 10 जनवरी की रात 12.05 बजे बांद्रा से चलेगी। 11 जनवरी की सुबह 11ः40 बजे रतलाम आऐगी। यहां से दोपहर 1ः05 बजे नागदा जाएगी। फिर 1.58 बजे विक्रमगढ़ आलोट, 2ः28 बजे चौमहला होते हुए दोपहर 2ः58 बजे शामगढ़, 3ः35 बजे भवानी मंडी, 4 बजे रामगंज मंडी होते हुए शाम 5ः25 बजे कोटा पहुंचेगी। यह ट्रेन 12 जनवरी को सुबह 8ः20 बजे देहरादून पहुंचेगी।
इसी प्रकार ट्रेन नंबर 09020 हरिद्वार-बांद्रा टर्मिनस 12 फरवरी से प्रतिदिन दोपहर 1ः30 बजे हरिद्वार से चलेगी। जो शाम 6ः55 बजे हजरत निजामुद्दीन होते हुए 13 फरवरी को सुबह 4 बजे कोटा आएगी। यहां से सुबह 5ः28 बजे रामगंज मंडी, 5ः53 बजे भवानीमंडी होते हुए सुबह 6ः23 बजे शामगढ़ आएगी।
Page#    Showing 1 to 17 of 17 News Items  

Go to Full Mobile site