Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Eat-Sleep-Railfanning 🔄 Repeat - Shankar Mehani

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sat Feb 27 22:09:24 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 3654806-0

RJL/Rajmahal (2 PFs)
راجمحل     राजमहल

Track: Single Electric-Line

Show ALL Trains
State Highway 10
State: Jharkhand

Elevation: 34 m above sea level
Zone: ER/Eastern   Division: Malda Town

No Recent News for RJL/Rajmahal
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 0
Number of Originating Trains: 8
Number of Terminating Trains: 8
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 15 of 15 News Items  
Feb 19 (13:48) ट्रेन चलाने की मांग:राजकीय माघी पूर्णिमा मेला को लेकर ट्रेन के परिचालन की मांग (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
ER/Eastern
0 Followers
5394 views

News Entry# 440021  Blog Entry# 4882327   
  Past Edits
Feb 19 2021 (13:48)
Station Tag: Rajmahal/RJL added by Adittyaa Sharma/1421836

Feb 19 2021 (13:48)
Station Tag: Tinpahar Junction/TPH added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Tinpahar Junction/TPH   Rajmahal/RJL  
राजकीय माघी पूर्णिमा मेला राजमहल को देखते हुए नगर पंचायत अध्यक्ष केताबुद्दिन शेख ने गुरुवार को मालदा रेल प्रमंडल के डीआरएम यतीन्द्र कुमार को तीनपहाड़ रेलवे स्टेशन में ब्रह्मपुत्र मेल, मालदा पटना इंटरसिटी व गया कामाख्या एक्सप्रेस ट्रेन के ठहराव को करने एवं राजमहल तीनपहाड़ टीआर पैसेंजर ट्रेन का परिचालन प्रारंभ करने की मांग की है। नपं अध्यक्ष द्वारा स्टेशन प्रबंधक राजमहल के माध्यम से दिए आवेदन में उल्लेख किया गया है कि राजमहल उत्तरवाहिनी गंगा तट पर आदिवासियों का महाकुंभ राजकीय माघी पूर्णिमा मेला 24 फरवरी से प्रारंभ हो रही है. जिससे दूरदराज से आने वाले श्रद्धालुओं को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा. ट्रेन के ठहराव के तीनपहाड़ स्टेशन में हो जाने से श्रद्धालुओं को सुविधा मिलेगी. वही कोविड-19 के कारण राजमहल-तीनपहाड़ सवारी गाड़ी का परिचालन बीते 11 माह से बंद है. श्रद्धालुओं के हित को देखते हुए 20 फरवरी से 4 मार्च तक उक्त ट्रेनों का ठहराव व...
more...
टीआर पैसेंजर ट्रेन का परिचालन प्रारंभ की जाए. उक्त मेले में झारखंड, बिहार, बंगाल के अलावे नेपाल से श्रद्धालु गंगा स्नान करने आते हैं.
धनबाद, जेएनएन। अगर आप तीनपहाड़ से राजमहल और हंसडीहा से पोड़ैयाहाट वाले रेल रूट पर सफर करने वाले हैं तो बेहतर होगा कि पहले ट्रेनों से जुड़ी जानकारी ले लें। 26 से 29 दिसंबर तक संताल के अलग-अलग हिस्से में रेलसेवा प्रभावित रहेगी।
हंसडीहा-पोड़ैयाहाट के बीच होगा नॉन इंटरलॉकिंग : हंसडीहा-पोड़ैयाहाट के बीच नॉन इंटरलॉकिंग को लेकर 26 से 28 दिसंबर तक ट्रैफिक ब्लॉक लिया जाएगा। सुबह 11.30 से दोपहर 3.30 तक ब्लॉक के कारण टे्रनें प्रभावित रहेंगी। हंसडीहा के लाइन नंबर-2 पर 29 दिसंबर को सुबह 10 से दोपहर दो बजे तक ट्रैफिक ब्लॉक रहेगा।
इन
...
more...
ट्रेनों को किया गया रद
53561/53562 दुमका-पोड़ैयाहाट पैसेंजर 26 व 27 को हंसडीहा तक
53561/53562 दुमका-पोड़ैयाहाट पैसेंजर 28 व 29 को रद
73444 भागलपुर-हंसडीहा पैसेंजर 28 को लेट से चलेगी
29 दिसंबर को 12 घंटे का ट्रैफिक ब्लॉक : तीनपहाड़ स्टेशन पर फूट ओवरब्रिज तीनपहाड़ स्टेशन में फूट ओवरब्रिज निर्माण के लिए 29 दिसंबर को 12 घंटे का ट्रैफिक ब्लॉक लिया जाएगा। पहले चरण में सुबह 8.30 से दोपहर ढाई बजे और फिर दोपहर तीन से रात नौ बजे तक ब्लॉक के कारण इस रूट की टे्रनें प्रभावित रहेंगी। इस वजह से तीनपहाड़-राजमहल के बीच चलने वाली सात पैसेंजर टे्रनें रद रहेंगी। रामपुरहाट-तीनपहाड़ पैसेंजर तिभिता तक चलेगी और वहीं से वापस लौटेगी।
इन ट्रेनों को किया गया रद
53063/53064 रामपुरहाट-तीनपहाड़ पैसेंजर 29 को तिभिता तक
53485 तीनपहाड़-राजमहल पैसेंजर
53488/53487 राजमहल-तीनपहाड़ पैसेंजर
53490/53489 राजमहल-तीनपहाड़ पैसेंजर
53492/53491 तीनपहाड़-राजमहल पैसेंजर
53494 राजमहल-तीनपहाड़ पैसेंजर
अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप




Nov 15 2019 (22:32) ऐतिहासिक धरोहर बनेगा राजमहल स्टेशन (m.jagran.com)
Other News
ER/Eastern
0 Followers
7935 views

News Entry# 394944  Blog Entry# 4489219   
  Past Edits
Nov 15 2019 (22:32)
Station Tag: Tinpahar Junction/TPH added by Amish Kumar^~/1702584

Nov 15 2019 (22:32)
Station Tag: Rajmahal/RJL added by Amish Kumar^~/1702584
Stations:  Tinpahar Junction/TPH   Rajmahal/RJL  
राजमहल (साहिबगंज): पूर्व रेलवे के सीआरएस मो. लतीफ खान एवं डीआरएम तनु चंद्रा ने शुक्रवार को तीनपहाड़-राजमहल रेल मार्ग में इलेक्ट्रिक लाइन का ट्रायल किया। सीआरएस के आगमन पर डीआरएम एवं स्टेशन प्रबंधक एमके सिंह ने उनका स्वागत किया। रेल पदाधिकारियों ने स्टेशन परिसर सहित एसएम. कक्ष एवं नियंत्रण कक्ष का भी निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिया। सीआरएस मो. लतीफ खान ने राजमहल स्टेशन के बाहरी हिस्से को देख कहा कि यह स्टेशन ऐतिहासिक धरोहर के समान है। इसे हैरिटेज स्टेशन के रूप में विकसित करने की प्रक्रिया चल रही है। हैरिटेज स्टेशन का सही रूप प्राप्त होने पर इस रेलवे स्टेशन का महत्व बढ़ेगा और यहां के राजस्व में वृद्धि होगी। निरीक्षण के क्रम में स्टेशन प्रबंधक एवं अन्य कर्मियों पर स्टेशन परिसर में सभी यंत्र एवं सामान के साथ उपलब्ध रहने एवं कार्य के प्रति ईमानदारी बरतने का निर्देश दिया। मौके पर सीनियर डीएमओ, सीनियर डीएन, आरपीएफ कमांडेट,...
more...
आरपीएफ इन्सपेक्टर बरहड़वा सोमेन मल्लिक, एसएम. मनोज कुमार सिंह सहित अन्य पदाधिकारी एवं कर्मी भी मौजूद थे।
Sep 04 2019 (14:28) जलमार्ग से कनेक्टिविटी के लिए बना था राजमहल रेलवे स्टेशन (m.livehindustan.com)
Commentary/Human Interest
ER/Eastern
0 Followers
6406 views

News Entry# 390230  Blog Entry# 4418377   
  Past Edits
Sep 04 2019 (14:28)
Station Tag: Rajmahal/RJL added by Amish Kumar^~/1702584
Stations:  Rajmahal/RJL  
राजमहल स्टेशन अब चमकता-दमकता दिख रहा है। मालदा रेल मंडल के प्रभारी डीआरएम पीके मिश्रा ने इस स्टेशन के स्वरूप में बिना कोई बदलाव किए हैरिटेज लुक में ही विकसित कराया है। वह भी महज कुछ दिनों के अंदर।प्रभारी डीआरएम ने बताया राजमहल डिवीजन का सबसे पुराना और हैरिटेज स्टेशन है। इसकी बिल्डिंग आज भी उसी तरह है, जैसा बनने के वक्त थी। मोटी ईंट, ऊंची छत और लोहे के स्ट्रक्चर पर टिकी छत। ईस्ट इंडिया कंपनी ने 1860 में इस स्टेशन का निर्माण कराया था। गौरव की बात यह है कि पहली बार राजमहल से कोलकाता के लिए ट्रेन चली थी। चार जुलाई 1860 को राजमहल से हावड़ा के लिए पहली ट्रेन दौड़ी थी। यह रेलवे के इतिहास में दर्ज है।दरअसल, गंगा के तट पर अवस्थित राजमहल को मुगल काल में बिहार बंगाल और उड़ीसा के राजधानी होने का गौरव प्राप्त है। राजमहल के गौरवशाली विरासत को लौटाने की दिशा...
more...
में रेलवे कार्य कर रही है जिससे कि राजमहल की खोई हुई पहचान पुन: वापस मिल सके।व्यापार को बढ़ावा देने और जलमार्ग से रेल को जोड़ने के लिए ईस्ट इंडिया कंपनी और ईस्ट इंडिया रेलवे ने संयुक्त रूप से एकरारनामा कर 17 अगस्त 1849 को एक मिलीयन यूरो की लागत से हावड़ा से वाया वर्द्धमान-राजमहल रेलखंड का निर्माण करवाया था। देश की दूसरी ट्रेन यहां चली थी।

Sep 02 2019 (18:23) Malda’s oldest station building Rajmahal restored (www.thestatesman.com)
New Facilities/Technology
ER/Eastern
0 Followers
4729 views

News Entry# 390078  Blog Entry# 4416810   
  Past Edits
Sep 02 2019 (18:23)
Station Tag: Rajmahal/RJL added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
Stations:  Rajmahal/RJL  
The old station building, with its thick brick mortar walls, high roof and iron structures constructed during 1860, was in a dilapidated condition.
The old station building, with its thick brick mortar walls, high roof and iron structures constructed during 1860, was in a dilapidated condition.
The heritage station building of Rajmahal, the oldest station of the Malda Division of Eastern Railways, which was also once the capital of Bengal during the Mughal period has been restored completely. The first train in this section from Howrah to Rajmahal had started on 4 July
...
more...
1860.
The old station building, with its thick brick mortar walls, high roof and iron structures constructed during 1860, was in a dilapidated condition. Talking to The Statesman, Mr Prashant Kumar Mishra, chief workshop engineer of Eastern Railways, who is also holding the additional charge of divisional railway manager (DRM) of Malda informed that the division took it as a challenge and embarked on intensive rehabilitation including comprehensive roof attention.
“The entire roof has been given APP treatment and problem of water seepage was addressed. The whole building was given a fresh lease of life. Heritage plaque and framed photographs will be provided in the first ever heritage station building of the Malda Division,” Mr Prashant Kumar Mishra added. Historical texts of the time note that the Ganges was continuously navigable at all seasons of the year at Rajmahal for steamers for a distance of five hundred miles. The river traffic was estimated at more than two million tonnes, while road traffic was estimated only 33,370 tonnes.
It was expected that rail connectivity between Calcutta and Rajmahal would avoid the five hundred and twenty eight miles of a long circuitous route of “rapid and ever tortuous Bhaugerrutte, long labyrinth of Soonderbunds, which would be navigable only eight months of the year”. The river traffic was extremely dangerous due to frequent ship wrecks and total loss of large amounts of property, according to historians. A contract was signed between the East India Company and the East Indian railway Company on 17 August 1849, entitling the latter to construct and operate an “experimental” line between Calcutta ~ the existing seat of power of British India and Rajmahal, old capital of Bengal.
“The expenditure of £ 1,000,000 was sanctioned for the first section: from Howrah, opposite Calcutta, to Raneegunge, via Pandooah and Burdwan. The line is to be continued from Burdwan, in a northernly direction, to Rajmahal, and hence probably along the right bank of the Ganges to Patna, Mirzapore and Allahabad. A further sum of £1,000,000 has been sanctioned for the purpose of continuing the extended line to Rajmahal”, one historical text notes. At present, only one passenger train runs between Tinpahar Junction to Rajmahal station, which is about eight kilometres, three times daily. The railways has been continuously reviving its old dilapidated heritage buildings in the country.
Page#    Showing 1 to 15 of 15 News Items  

Go to Full Mobile site