Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

WAP-7 - तेरे जैसा यार कहाँ , कहाँ ऐसा याराना , याद करेगी दुनियां तेरा मेरा अफसाना. - Arjun Rai

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sun Feb 28 07:18:26 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Medium; Platform Pic;
Entry# 2376059-0
Close-up; Large Station Board;
Entry# 2376059-0
Platform Pic;
Entry# 2376059-0

NWD/Nawadah (2 PFs)
نوادہ     नवादा

Track: Construction - Electric-Line Doubling

Show ALL Trains
06324-212412, Station Rd, Nawada
State: Bihar

Elevation: 93 m above sea level
Zone: ECR/East Central   Division: Danapur

No Recent News for NWD/Nawadah
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 20
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 4.4/5 (40 votes)
cleanliness - good (5)
porters/escalators - good (5)
food - excellent (5)
transportation - excellent (5)
lodging - excellent (5)
railfanning - excellent (5)
sightseeing - good (5)
safety - good (5)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 93 News Items  next>>
Feb 21 (11:57) सुविधा:125 किलोमीटर लंबी किऊल-गया रेललाइन दोहरीकरण परियोजना मार्च 2023 में होगी पूरी, ट्रेनों की बढ़ेगी रफ्तार, पूरे क्षेत्र में औद्यौगिक विकास भी होगा तेज (dainik-b.in)
Other News
ECR/East Central
0 Followers
17205 views

News Entry# 440165  Blog Entry# 4884005   
  Past Edits
Feb 21 2021 (11:57)
Station Tag: Warisale Ganj/WRS added by अमीष कुमार/1702584

Feb 21 2021 (11:57)
Station Tag: Gaya Junction/GAYA added by अमीष कुमार/1702584

Feb 21 2021 (11:57)
Station Tag: Nawadah/NWD added by अमीष कुमार/1702584

Feb 21 2021 (11:57)
Station Tag: Sheikhpura Junction/SHK added by अमीष कुमार/1702584

Feb 21 2021 (11:57)
Station Tag: Kiul Junction/KIUL added by अमीष कुमार/1702584
किऊल-गया के बीच 125 किलोमीटर सेक्शन में डबलिंग का काम मार्च 2023 में पूरा होगा। काम तेजी से हो रहा है। इसीआर जोन के जीएम ललित चंद्र त्रिवेदी एवं रेल परियोजना कार्य में लगे इरकॉन के निदेशक (प्रोजेक्ट) के साथ शुक्रवार को हुई बैठक में जोन में रेलवे की चल रही रेल परियोजनाओं की समीक्षा में तय हुआ कि इस सेक्शन में डबलिंग मार्च 2023 में चार चरणों में पूरा हो जाएगा। पहले चरण में मानपुर से वजीरगंज के बीच 18.15 किमी में डबलिंग का काम दिसंबर 2019 में ही पूरा कर ट्रेनें भी दौड़ रही है। किऊल-शेखपुरा 25 किमी रेल लाइन डबलिंग दिसंबर 2021 में पूरा होगा। इस साल दूसरे एवं तीसरे चरण में काम पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित हुआ। इससे ट्रेनें पूरी रफ्तार से दौड़ेंगी। ट्रेनों को क्रॉसिंग के झंझट से निजात मिलेगी। यात्रियों का समय बचेगा। बता दें कि इस सिंगल लाइन की डबलिंग योजना को 2016...
more...
के रेल बजट में मंजूरी मिली थी। हालांकि इसे मार्च 2022 तक पूरा करना था। लेकिन बिलंब से चल रही है। एक साल की देर से परियोजना को पूरा करने का डेड लाइन मार्च 2023 तक निर्धारित किया गया है।
इस साल मई में 8 किमी का कामपरियोजना के दूसरे चरण में वजीरगंज से तिलैया 18 किलोमीटर डबलिंग का काम इस साल मई तक पूरा कर लिया जाएगा। इसी प्रकार शेखपुरा-वारिसलीगंज 25 किलोमीटर में निर्माण कार्य मार्च 2022 एवं वारिसलीगंज से तिलैया 36 किलोमीटर में डबलिंग का कार्य दिसंबर 2023 तक पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
राजेन्द्र पुल के समकक्ष दूसरे रेल पुल के निर्माण से सुगम होगा यात्रियों का आवागमन
किऊल-बरौनी सेक्शन में 18 किमी रेल लाइन डबल हो रही है। गंगा पर बने सिंगल राजेन्द्र पुल के पास दूसरा रेल पुल निर्माण पर काम चल रहा है। इसीआर के सीपीआरओ राजेश कुमार ने बताया कि डबलिंग परियोजना में 18 में से 13 वेल फाऊंडेशन कार्य प्रगति पर है। उत्तर दिशा में 95 प्रतिशत मिट्‌टी भराई हुई। कार्य पूरा होने के बाद उत्तर और दक्षिण बिहार के बीच रेल आवागमन और भी सुगम होगा। अभी सिंगल लाइन के चलते ट्रेनों का परिचालन बाधित हो रहा है। किऊल-गया रेल सेक्शन में डबलिंग का काम पूरा होने के बाद ट्रेनों की स्पीड बढ़ेगी। क्षेत्र की औद्याेगिक विकास एवं व्यवसायिक गतिविधियों में तेजी आएगी। यह रेल सेक्शन वर्तमान में ग्रेंडकाॅर्ड एवं मेनलाइन के ट्रैफिक दबाव को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।
जीएम व कंपनी के बीच बैठक किऊल-गया के बीच 125 किलोमीटर सेक्शन में डबलिंंग का काम दिसंबर 2323 में पूरा किया जाएगा। इसीआर के जीएम एवं निर्माण कंपनी के बीच हुई बैठक में परियोजना को पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
राजेश कुमार, सीपीआरओ इसीआर हाजीपुर।
Copyright © 2020-21 DB Corp ltd., All Rights Reserved
This website follows the DNPA Code of Ethics.
Feb 15 (06:52) रेल का चक्का 27 से जाम करने की चेतावनी (www.livehindustan.com)
Commentary/Human Interest
ECR/East Central
0 Followers
2772 views

News Entry# 439100  Blog Entry# 4877064   
  Past Edits
Feb 15 2021 (06:52)
Station Tag: Benipur Halt/BPAH added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 15 2021 (06:52)
Station Tag: Nawadah/NWD added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Nawadah/NWD   Benipur Halt/BPAH  
दरभंगा | एक प्रतिनिधिश्रमदान एवं जनसहयोग से निर्मित मां जगदंबा हॉल्ट, नवादा, बेनीपुर में जनहित में गाड़ियों के ठहराव के लिए पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत 12 फरवरी से जारी आमरण सत्याग्रह रविवार को मंडल रेल प्रबन्धक, समस्तीपुर द्वारा प्रतिनियुक्ति एसीएम के साथ वार्ता के बाद तत्काल स्थगित किया गया। एसीएम ने सत्याग्रहियों से कहा कि गाड़ी ठहराव को लेकर स्थानीय रेल प्रशाशन द्वारा सभी प्रक्रिया पूर्ण कर रेलवे बोर्ड को भेजा गया था। कोरोना के कारण कुछ बिलंब हुआ। अब रेलवे बोर्ड से भी ठहराव के लिए निर्देश आ गया है। इसके अनुसार सभी प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है। रेल प्रशाशन हॉल्ट संचालन के लिए अधिसूचना जारी करने की कारवाई कर रहा है। इसे अतिशीघ्र जारी कर दिया जाएगा। सत्याग्रहियों का पक्ष रखते हुए जिला पार्षद सह संघर्ष समिति के सचिव रामकुमार झा बबलू ने कहा कि विगत 12 वर्षों से व्यापक जनहित व पर्यटन महत्व की इस मांग के...
more...
लिए स्थानीय लोग संघर्षरत हैं। कई बार रेल प्रशासन द्वारा लिखित आश्वाशन दिया गया है तथा समझौता पत्र का निष्पादन किया गया है, पर अभी तक इस पर अमल नहीं हुआ है। रेल प्रशाशन समझौता पत्र का अनुपालन कर आगामी 26 फरवरी तक ठहराव सुनिश्चित करे। अब बहानेबाजी नहीं चलेगी। 26 फरवरी तक ठहराव सुनिश्चित नहीं होने पर 27 फरवरी से पुन: सत्याग्रह एवं रेल चक्का काम किया जाएगा। मौके पर संघर्ष समिति के अध्यक्ष कृष्णानंद झा दादा, यूथ इंडिया डेवलपमेंट बोर्ड के अध्यक्ष राजेश यादव, गणेशी ठाकुर, प्रेमकांत झा, रतिकांत झा, युकेश पासवान, सुमन झा, जय कृष्णा पासवान आदि थे।
Feb 13 (17:52) बौद्ध स्तूप की शक्ल में दिखेंगे किउल-गया के स्टेशन, दूर से ही नजर आएगा मगध साम्राज्य का इतिहास (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
ECR/East Central
0 Followers
13206 views

News Entry# 438887  Blog Entry# 4875967   
  Past Edits
Feb 13 2021 (17:52)
Station Tag: Nawadah/NWD added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 13 2021 (17:52)
Station Tag: Warisale Ganj/WRS added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 13 2021 (17:52)
Station Tag: Gaya Junction/GAYA added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 13 2021 (17:52)
Station Tag: Kiul Junction/KIUL added by Anupam Enosh Sarkar/401739
चंद्रशेखर, पटना। किउल-गया के सभी रेलवे स्टेशनों को बौद्ध कला की शक्ल में विकसित किया जाएगा। इस रेलखंड के सरारी, कजरा, शेखपुरा, काशीचक, वारीसलीगंज, नवादा, हिसुआ, तिलैया, वजीरगंज, मानपुर स्टेशनों के भवन जल्द ही बौद्ध स्तूप की शक्ल में दिखेंगे। इतना ही नहीं, वैशाली व दूसरे स्टेशनों के भवनों को भी बौद्ध कला की शक्ल देने की कोशिश की जा रही है। पूर्व मध्य रेल के महाप्रबंधक ललित चंद्र त्रिवेदी एवं दानापुर मंडल के तत्कालीन मंडल रेल प्रबंधक रंजन प्रकाश ठाकुर की ओर से ओर से सभी स्टेशनों को स्थानीय ऐतिहासिक लुक देने की कोशिश की शुरू की गई थी। इसी क्रम में पटना साहिब को तख्त श्री हरिमंदिर की शक्ल दी गई है। पाटिलपुत्र स्टेशन को अशोककालीन बौद्ध स्तूप की शक्ल में बनाया गया है। बक्सर स्टेशन पर बिस्मिल्लाह खान की झलक दर्शाई गई है। 
मार्या
...
more...
काल के भवनों को रखा गया ध्यान
अन्य भवनों से कम कीमत पर इस तरह के ऐतिहासिक लुक देते हुए स्टेशन भवन का निर्माण कराया गया है। रेलवे लाइन के दोहरीकरण के बाद सभी प्लेटफॉर्म, फुट ओवर ब्रिज के साथ ही सभी रेलवे क्रासिंग की केबिन को नया बनाने की जरूरत थी। नए स्टेशन भवनों के निर्माण में मौर्य काल के भवनों को ध्यान में रखा गया। पुराने मगध साम्राज्य के गौरवकालीन इतिहास को इन भवनों के माध्यम से दर्शाने की कोशिश की गई है। 
स्टेशन भवन के निर्माण पर खर्च होंगे 10 करोड़
इन स्टेशनों के भवनों के निर्माण पर लगभग दस करोड़ की राशि खर्च हो रही है। इसमें स्टेशन भवन से लेकर दो प्लेटफॉर्म होंगे। लंबा व ऊंचा प्लेटफॉर्म के साथ ही सभी स्टेशनों पर कम से कम एक फुट ओवरब्रिज तथा बड़े स्टेशनों पर दो फुट ओवरब्रिज बनाए जा रहे हैं। इसके साथ ही रेलवे क्रॉसिंग का भी नए सिरे से निर्माण कराया जा रहा है। सबसे बड़ी खासियत यह है कि इन भवनों को पूरी तरह व्हाइट रंग से रंगा जा रहा है। इससे दूर से ही इसकी खूबसूरती देखते बन रही है।
नहीं खर्च करनी पड़ी अतिरिक्त राशि

इस संबंध में दानापुर मंडल के वरीय मंडल अभियंता सुजीत कुमार झा ने बताया कि किउल-गया रेलखंड के दोहरी करण के लिए 1200 करोड़ से अधिक की राशि महाप्रबंधक के प्रयास से रेलवे को मिली थी। इस रेलखंड के दोहरीकरण का काम चालू होने के बाद पुराने सारे स्टेशनों के भवनों को तोड़ कर नए भवन का निर्माण करना था। नया भवन बनाने की बात आई तो इसे ऐतिहासिक लुक देने की कोशिश की गई। इन भवनों को निर्माण में रेलवे को कोई अतिरिक्त राशि खर्च नहीं करनी पड़ी।


Feb 05 (10:24) केंद्रीय बजट में केजी रेलखंड को रखा गया उपेक्षित, न विकास के लिए मिली राशि और न ही बढ़ाई गई सुविधा (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
ECR/East Central
0 Followers
19323 views

News Entry# 437211  Blog Entry# 4867505   
  Past Edits
Feb 05 2021 (10:49)
Station Tag: Warisale Ganj/WRS added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 05 2021 (10:49)
Station Tag: Nawadah/NWD added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 05 2021 (10:24)
Station Tag: Kiul Junction/KIUL added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 05 2021 (10:24)
Station Tag: Gaya Junction/GAYA added by Anupam Enosh Sarkar/401739
जागरण संवाददाता, नवादा। केंद्र सरकार की ओर से एक फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा आम बजट पेश किया गया। बजट में शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, रेलवे समेत सभी विभाग के विकास के लिए ऐलान किया गया। रेलवे विभाग के लिए एक लाख 58 हजार 658 करोड़ रुपये की घोषणा की गई है। साथ ही बंगाल, दिल्ली, मुंबई समेत अन्य राज्यों में विकास के लिए जोड़ा गया है। लेकिन इस बजट में किउल-गया रेलखंड को उपेक्षित रखा गया है। इस रेलखंड के विकास के लिए कोई लाभ नहीं दिया गया। साथ ही यात्री सुविधा के नाम पर ना ही कोई नई ट्रेन चलाने की घोषणा की गई है। ऐसे पूर्व से केजी रेलखंड का विद्युतीकरण व दोहरीकरण का कार्य चल रहा है। विद्युतीकरण का कार्य पूरा हो चुका है। दोहरीकरण कार्य काफी तेजी से चल रहा है।
2021
...
more...
तक दोहरीकरण का है लक्ष्य
केजी रेलखंड पर मानपुर से लक्खीसराय तक 129 किलोमीटर दोहरीकरण कार्य होना है। दोहरीकरण का कार्य इरकॉन कंपनी को सौंपा गया है। जिसे वर्ष 2021 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। दोहरीकरण का कार्य काफी तेजी से चल रहा है। इस रेलखंड पर कुल 342 पुल-पुलिया का निर्माण होना है। जिसमें 200 पुल-पुलिया का निर्माण हो चुका है। इसके अलावा मिट्टी भराई का कार्य पूरा कर लिया गया है। रेल लाईन बिछाने का कार्य जारी है। कंपनी के अधिकारी व कर्मी रात-दिन एक कर कार्य को ससमय पूरा कराने में जुटे हैं।
दस की जगह दो जाड़ी ट्रेन का परिचालन
केजी रेलखंड पर दस माह पूर्व एक्सप्रेस समेत दस जोड़ी पैसेंजर ट्रेन का परिचालन हो रहा था। इसी बीच मार्च 2020 में कोविड-19 संक्रमण का दौर शुरू हो गया। सरकार की ओर से अप्रैल माह से सभी ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया था। जिससे केजी रेलखंड के यात्रियों को काफी परेशानी उठानी पड़ी। आमजनों की मांग पर जनवरी 2021 में एक जोड़ी मेमू टेन का परिचालन शुरू किया गया। इसके बाद 3 फरवरी से गया-हावड़ा एक्सप्रेस की जगह स्पेशल ट्रेन का परिचालन शुरू किया गया है। दस माह बाद बुधवार को गया-हावड़ा स्पेशल एक्सप्रेस नवादा पहुंची। ट्रेन के रुकते ही चढ़ने के लिए यात्रियों की भीड़ जुट गई। लोग आपाधापी करने लगे। लेकिन विभाग की ओर से एक्प्रेस में सफर करने के लिए नियम व शर्त लागू किया गया है। इसके लिए यात्रियों को एक दिन पूर्व टिकट रिजर्वेशन कराना होगा। सीट से अधिक यात्रियों को चढ़ने की इजाजत नहीं होगी। टिकट रिजर्वेशन कराने को लेकर काउंटर पर भी लोगों की भीड़ देखी जा रही है। फिलहाल दस की जगह दो जोड़ी ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है।
कहते हैं अधिकारी
प्रशाखा अभियंता तारकेश्‍वर प्रसाद ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से पेश आम बजट में केजी रेलखंड के लिए कोई घोषणा नहीं की गई है। इस रेलखंड के विद्युतीकरण व दोहरीकरण के लिए पूर्व में 12 सौ करोड़ की राशि आवंटित की गई थी। विद्युतीकरण का कार्य पूरा हो चुका है। दोहरीकरण का कार्य भी काफी तेजी से चल रहा है। इस रेलखंड पर कुल 342 पुल-पुलिया का निर्माण होना है। जिसमें 200 पुल-पुलिया का निर्माण हो चुका है। रेल लाईन बिछाने के लिए मिट्टी भराई का कार्य लगभग पूरा हो चुका है। रेल लाईन बिछाने का कार्य किया जा रहा है। वर्ष 2021 में दोहरीकरण कार्य पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। निर्माण कंपनी के अधिकारी व कर्मी कार्य को ससमय पूरा कराने में जुटे हैं। इस रेलखंड पर दस जोड़ी एक्सप्रेस समेत पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन होता था। कोविड-19 संक्रमण को लेकर यात्री ट्रेनों का परिचालन ठप था। इस समय एक्सप्रेस समेत दो जोड़ी ट्रेन का परिचालन किया जा रहा है। ऐसे उम्मीद है कि ट्रेनों की संख्या बढ़ सकती है।



Jan 31 (08:23) नवादा में रेलवे ओवरब्रिज का नहीं हो सका निर्माण, लोग परेशान (www.jagran.com)
Other News
ECR/East Central
0 Followers
6658 views

News Entry# 436005  Blog Entry# 4862386   
  Past Edits
Jan 31 2021 (08:23)
Station Tag: Nawadah/NWD added by ANIKET/1490219
Stations:  Nawadah/NWD  
नवादा: इस समय शहरवासियों के लिए जाम की समस्या गंभीर बनी हुई है। रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण नहीं होने से शहर में नित्य दिन जाम लगता है। ट्रेन आने पर फाटक बंद होते ही वाहनों की लंबी कतार लग जाती है। लोग घंटो जाम में फंसे रहते हैं। इसके अलावा स्कूली वाहन भी जाम में फंसा रहता है। ट्रेन आने पर जाम की समस्या उत्पन्न हो जाती है। शहर के बीच में नवादा-जमुई पथ पर स्थित मिर्जापुर तीन नंबर रेलवे गुमटी के पास से इंदिरा चौक तक वाहनों की लंबी कतार लग जाती है। स्थिति इतनी बदतर हो जाती है कि आमलोगों को पैदल चलना भी मुश्किल हो जाता है। इधर नवादा-गोसांयबिगहा पथ स्थित मिर्जापुर दो नंबर रेलवे गुमटी पर भी प्रतिदिन जाम की समस्या से लोग परेशान हैं। वहीं पार नवादा स्थित एक नबंर रेलवे गुमटी फाटक बंद होते ही घंटो जाम लगा रहता है। इसके अलावा शहर हरेक चौक-चौराहों...
more...
समेत अन्य सड़कों पर भी सुबह के दस बजते ही जाम की समस्या उत्पन्न हो जाती है। शहरवासियों के समक्ष जाम की समस्या गंभीर बनी हुई है।
Page#    Showing 1 to 20 of 93 News Items  next>>

Go to Full Mobile site