Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

पश्चिम रेलवे की शान, पश्चिम सुपरफास्ट एक्सप्रेस मेरी जान - Abdul Rehman

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Thu Oct 28 05:09:34 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 2129536-157
Close-up; Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 2187590-0


MTC/Meerut City Junction (5 PFs)
میرٹھ سِٹی جنکشن     मेरठ नगर जंक्शन

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
City Railway Station Rd, Meerut
State: Uttar Pradesh


Zone: NR/Northern   Division: Delhi

No Recent News for MTC/Meerut City Junction
Nearby Stations in the News
Type of Station: Junction
Number of Platforms: 5
Number of Halting Trains: 117
Number of Originating Trains: 11
Number of Terminating Trains: 11
Rating: 3.9/5 (108 votes)
cleanliness - good (14)
porters/escalators - good (12)
food - good (14)
transportation - excellent (14)
lodging - good (13)
railfanning - good (14)
sightseeing - good (13)
safety - good (14)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 596 News Items  next>>
Oct 26 (06:33) 28 को मेरठ-हापुड़ होकर आएगी अमृतसर स्पेशल (www.livehindustan.com)
IR Affairs
ECR/East Central
0 Followers
4732 views

News Entry# 468526  Blog Entry# 5103459   
  Past Edits
Oct 26 2021 (06:34)
Station Tag: Saharanpur Junction/SRE added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 26 2021 (06:34)
Station Tag: Meerut City Junction/MTC added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 26 2021 (06:34)
Station Tag: Hapur Junction/HPU added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 26 2021 (06:34)
Station Tag: Haridwar/HW added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 26 2021 (06:34)
Station Tag: Laksar Junction/LRJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 26 2021 (06:33)
Station Tag: Moradabad Junction/MB added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 26 2021 (06:33)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by Adittyaa Sharma/1421836
धनबाद।
मुरादाबाद मंडल के हरिद्वार एवं लक्सर जंक्शन के बीच होने वाले दोहरीकरण कार्य के मद्देनजर कई ट्रेनों के परिचालन में फेरबदल किया गया है। रेलवे ने 28 अक्तूबर को अमृतसर से खुलने वाली 02358 अमृतसर-कोलकाता स्पेशल को सहारनपुर-मेरठ सिटी-हापुड़-मुरादाबाद होते हुए चलाने की घोषणा की है। एक दिन पूर्व 27 अक्तूबर तक हावड़ा-योग नगरी ऋषिकेश स्पेशल को बरेली तक चलाने का निर्णय लिया गया था।
Oct 25 (11:06) Rapid Rail : यात्रियों को हवाईजहाज के सफर का अहसास कराएंगे कोच, पहला फेज के लिए ट्रैक बिछना शुरू (www.patrika.com)
Metro
RRTS/Rapid Train
0 Followers
2985 views

News Entry# 468438  Blog Entry# 5102855   
  Past Edits
Oct 25 2021 (11:06)
Station Tag: Meerut City Junction/MTC added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 25 2021 (11:06)
Station Tag: Old Delhi Junction/DLI added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688
गाजियाबाद. दिल्ली-मेरठ रैपिड रेल के अत्याधुनिक कोच यात्रियों हवाई जहाज के सफर का अहसास कराएंगे। यात्रियों को इस ट्रेन में तमाम सुविधाएं मिलेंगी। इसके लिए दुहाई डिपो में रैपिड ट्रेन कोच उतरने से पहले एक किमी लंबे ट्रायल ट्रैक सहित कुल 13 ट्रैक को बिछाने के काम ने रफ्तार पकड़ ली है। रैपिड रेल का पहला चरण पूरा करने के लिए अब ट्रैक बिछना शुरू हो गया है। डिपो के यार्ड में 12 और आखिरी रनिंग ट्रैक को बिछाने का काम दिसंबर तक पूरा होने की उम्मीद है। रनिंग ट्रैक पर 880 ग्रेड की उच्च क्षमता की पटरियों को बिछाया जा रहा है। डिपो में स्टैंडर्ड गेज की तीन निरीक्षण और दो वर्कशॉप लाइन होंगी।बता दें कि दुहाई डिपो में रैपिड का मुख्य कंट्रोल और बैकअप ऑपरेशनल सेंटर होगा। रैपिड कॉरिडोर सभी गतिविधियों की निगरानी डिपो से होगी। डिपो में आरआरटीएस ट्रेनों को खड़ा करने को यार्ड का कार्य भी जारी...
more...
है। डिपो में एनसीआरटीसी का मुख्य प्रशासनिक भवन होगा। इसके साथ ही रैपिड ट्रेन के रखरखाव और तकनीकी दिक्कतों के समाधान के लिए इंजीनियरिंग ट्रेन यूनिट स्थापित होगी। डिपो का निर्माण कार्य दुहाई के साथ भिक्कनपुर और बसंतपुर सैंथली गांव की 51 हेक्टेयर जमीन पर किया जा रहा है।यह भी पढ़ें- देश की पहली पॉड टैक्सी का रूट प्लान तय, 100 किमी की होगी रफ्तार, इन सेक्टरों को करेगी कवररैपिड रेल में कम रखरखाव खर्च और उच्च स्तरीय क्षमता वाले प्री-कास्ट ट्रैक स्लैब को बिछाया जा रहा है। रैपिड रेल के ट्रैक को तैयार करने के लिए मेरठ के शताब्दीनगर में प्री-कास्ट ट्रैक स्लैब फैक्ट्री की स्थापना की गई है। वहीं से सीमेंट के प्री-कास्ट रेल ट्रैक (सीमेंट के बड़े ब्लॉक) को ट्रक से साइट पर लाकर बिछाने का कार्य किया जा रहा है।रैपिड कोच का निर्माण तेज गति से है जारीएनसीआरटीसी के सीपीआरओ पुनीत वत्स ने बताया कि गुजरात के सावली स्थित संयंत्र में रैपिड ट्रेनों का निर्माण कार्य तेजी से जारी है। ऐसे में ट्रेन कोच आने से पहले दुहाई डिपो में सभी ट्रैक को तय समय सीमा में पूरा करने का काम शुरू कर दिया गया है। मेरठ तक रैपिड के पिलर खड़े का काम लगभग पूरा होने को तैयार है।यह भी पढ़ें- दिवाली और छठ पूजा के लिए रेलवे की सौगात, कल से चलेगी त्योहार स्पेशल ट्रेन, जानें टाइमिंग और रूटBy- KP Tripathi
Oct 18 (11:37) RAIL ROKO Andolan Today: संयुक्त किसान मोर्चा का रेल रोको आंदोलन आज, रेलवे के साथ पुलिस-प्रशासन ने की तैयारी (www.patrika.com)
Other News
NR/Northern
0 Followers
8399 views

News Entry# 467802  Blog Entry# 5097839   
  Past Edits
Oct 18 2021 (11:37)
Station Tag: Shamli/SMQL added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 18 2021 (11:37)
Station Tag: Baghpat Road/BPM added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 18 2021 (11:37)
Station Tag: Ghaziabad Junction/GZB added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 18 2021 (11:37)
Station Tag: Meerut Cantt./MUT added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 18 2021 (11:37)
Station Tag: Meerut City Junction/MTC added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688
RAIL ROKO Andolan Today: आज तेज बारिश के बीच किसान लखीमपुर खीरी प्रकरण को लेकर रेल यातायात रोकेंगे। इसको लेकर जहां किसान संगठनों ने आज अपनी तैयारी की है वहीं दूसरी ओर रेलवे और पुलिस प्रशासन भी अलर्ट मोड पर है।यह भी पढ़ें : पारंपरिक खेती छोड़ किसान लिख रहे कामयाबी की नई इबारत, सिंघाड़ा की खेती से हो रहे मालामालपश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिलों मेरठ, गाजियाबाद, हापुड, बुलंदशहर, नोएडा, बागपत, शामली, मुजफ्फरनगर और सहारनपुर आदि जिलों में संयुक्त किसान मोर्चा ने रेल रोको आंदोलन को लेकर तगड़ी रणनीति बनाई है। जिसके तहत मोर्चा के कार्यकर्ता और पदाधिकारी आज सुबह 10 से शाम चार बजे के बीच छह घंटे के लिए रेल यातायात बाधित करेंगे।मोर्चा ने स्पष्ट किया है कि इस दौरान रेल संपत्ति को किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाया जाएगा और विरोध पूरी तरह शांतिपूर्ण बनाए रखने की सभी संगठनों से अपील की है। वहीं मेरठ सहित सभी प्रमुख...
more...
स्टेशनो पर पुलिस बल तैनात किया किया गया है। जीआरपी और आरपीएफ को भी रेल पटरियों की सुरक्षा और गश्त के निर्देश दिए गए हैं।बता दे कि लखीमपुर खीरी में हुए बवाल में किसानों की मौत मामले और केंद्रीय राज्यमंत्री को बर्खास्त करने सहित दूसरी मांगों के समर्थन में किसानों ने रेल रोको कार्यक्रम की घोषणा की थी। लखीमपुर खीरी में अपनी जान गंवाने वाले किसानों की अस्थियों के साथ उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब सहित अन्य राज्यों में कलश यात्राएं निकाली जाएंगी।आज निकाली जाएंगी कलश यात्राएंवहीं लखीमपुर कांड मामले में न्याय की मांग करते हुए संयुक्त किसान मोर्चा ने केंद्रीय राज्यमंत्री को बर्खास्त कर, गिरफ्तार करने की मांग की है। खीरी में जान गंवाने वाले किसानों की अस्थियों के साथ उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब और दूसरे राज्यों में शहीद कलश यात्राएं निकाली जा रही है।इस बीच भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा है कि सरकार आंदोलन का माहौल खराब करने का लंबे समय से प्रयास कर रही है। टिकैत ने कहा हम लोग शांति के साथ रेल यातायात रोककर अपना प्रदर्शन करेंगे। रेलवे की किसी संपत्ति को नुकसान नहीं पहुंचाया जाएगा।यह भी पढ़ें : सोतीगंज के वाहन चोर बाजार के कुख्यात कबाड़ी हाजी गल्ला की 4 करोड़ की कोठी हुई कुर्क
मेरठ में सिटी स्टेशन पर चेकिंग के दौरान तीन फर्जी रेलवे कर्मचारियों को पकड़ा गया। इनके पास से रेलवे मुख्यालय के फर्जी पहचान पत्र और ज्वाइनिंग लेटर मिले हैं। रेलवे अधिकारियों ने तीनों को जीआरपी को सौंप दिया है। आरोपियों का कहना है कि पांच-पांच लाख लेकर तीनों को दिल्ली से ज्वाइनिंग दी गई है। मामले की जांच शुरू हो गई है। इस मामले के पीछे किसी गैंग का हाथ माना जा रहा है।विज्ञापनवाणिज्य निरीक्षक गुरजीत सिंह और मुख्य टिकट पर्यवेक्षक सुनील शुक्रवार को चेकिंग कर रहे थे। सिटी स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर एक पर तीनों युवक ज्वाइनिंग के लिए आ रहे थे। इनके पास रेलवे का अधिकृत पहचान पत्र था। मुजफ्फरनगर जिले के गांव रुकनपुर निवासी आशीष कुमार के पास जूनियर क्लर्क, रुकनपुर के ही अनुज कुमार का सहायक लोको पायलट, पानीपत के गांव रमरा निवासी भोला के पास जूनियर क्लर्क का पहचान पत्र मिला। मुख्यालय से जांच कराई तो...
more...
तीनों के कागजात फर्जी मिले।तीनों ने बताया कि पांच-पांच लाख रुपये लेकर डीआरमए कार्यालय दिल्ली से दीपक नाम के युवक ने पहचान पत्र और ज्वाइनिंग लेटर जारी किया है। रेलवे अधिकारियों ने दीपक नाम के युवक के मोबाइल नंबर पर कॉल किया तो वह स्विच ऑफ आता रहा। अब रेलवे में फर्जी नियुक्ति कराने वाले गैंग पर पुलिस की जांच शुरू हो गई है।
Oct 01 (15:36) Delhi-Meerut RRTS Project: देश के इंजी‍न‍ियर‍िंग इतिहास में पहली बार हो रहे हैं ऐसे काम... जानें इनके बारे में... (hindi.news18.com)
New Facilities/Technology
RRTS/Rapid Train
0 Followers
11582 views

News Entry# 466439  Blog Entry# 5082130   
  Past Edits
Oct 01 2021 (15:36)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 01 2021 (15:36)
Station Tag: Meerut City Junction/MTC added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688
नई द‍िल्‍ली. दिल्ली-मेरठ रीजनल रेल ट्रांजिट सिस्टम (Delhi-Meerut RRTS) रूट पर पर बन रहे पहले रीजनल रेल कॉर‍िडोर के निर्माण को डेडलाइन के भीतर पूरा करने के ल‍िए गत‍िव‍िध‍ियां और तेज कर दी गई हैं. साथ ही इस कॉर‍िडोर के न‍िर्माण में ऐसे कार्य भी क‍िए जा रहे हैं जोक‍ि देश के इंजी‍न‍ियर‍िंग में पहली बार हो रहे हैं. कुल 82 क‍िमी लंबे कॉर‍िडोर में 70 क‍िमी ह‍िस्‍सा एल‍ि‍वेट‍िड है और 12 क‍िमी भाग अंडरग्राउंड है.इस कॉर‍िडोर के अंडरग्राउंड स्टेशनों का निर्माण कार्य भी शुरू हो गया है. दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ आरआरटीएस कॉरिडोर के साहिबाबाद से दुहाई के बीच 17 किमी के प्राथमिकता खंड को मार्च 2023 तक और पूरे कॉर‍िडोर को 2025 तक चालू करने का लक्ष्य है.राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र परिवहन निगम (National Capital Region Transport Corporation) ने इस प्रोजेक्‍ट को समय सीमा के भीतर पूरा करने की कवायद को और तेज करते हुए पहले रीजनल रेल कॉरीडोर के चुनौतीपूर्ण सेक्शन के...
more...
लिए स्पेशल स्पैन की स्थापना प्रारम्भ कर दी है. यह भारत का पहला आरआरटीएस कॉरिडोर है जो दिल्ली को गाजियाबाद, मुराद नगर, मोदी नगर और मेरठ के रीजनल नोड्स से जोड़ता है. वहीं, दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ आरआरटीएस कॉरिडोर का अधिकांश एलिवेटेड सेक्शन सड़क मार्ग के साथ और घनी आबादी वाले क्षेत्रों के मध्य से होकर गुजर रहा है, जहां बहुत व्यस्त यातायात भी रहता है.ये भी पढ़ें: NCRTC Project: RRTS कॉरिडोर पर तैयार की जा रही है मेट्रो स्टेशनों से भी लंबी सुरंग, जानिए दिल्ली में कहां बन रही है ये? एलिवेटेड वायडक्ट के निर्माण के लिए, एनसीआरटीसी करीब 34 मीटर की औसत दूरी पर पिलर्स बना रहा है. इसके बाद, इन पिलर्स को लॉन्चिंग गैन्ट्री (तारिणी) की मदद से प्री-कास्ट सेगमेंट से जोड़ा जाता है और एक वायडक्ट स्पैन तैयार किया जाता है. अब तक इन पिलर्स के बीच 37 मीटर की लंबाई तक के वायाडक्ट स्पैन ही बनाए गए हैं. कुछ क्षेत्रों में पिलर्स के बीच के लगभग नियत दूरी को बनाए रखना संभव नहीं है जहां कॉरिडोर नदियों, पुलों, रेल क्रॉसिंग, मेट्रो कॉरिडोर, एक्सप्रेसवे आदि को पार कर रहा है. NCRTC के पहले RRTS सेक्शन के लिए स्पेशल स्पैन को स्‍था‍प‍ित करने का काम शुरू हो गया है.आरआरटीएस प्रोजेक्‍ट अध‍िकार‍ियों के मुताब‍िक ऐसे क्षेत्रों और भीड़भाड़ वाले इलाकों में पिलर्स को जोड़ने के लिए स्पेशल स्पैन का उपयोग किया जा रहा है. ये स्पेशल स्पैन विशाल संरचनाएं होती हैं जिनमें स्टील से बने बीम होते हैं. जिनका निर्माण पहले ही एक फैक्टरी में कर लिया गया है, जिसे व्यस्त ट्रैफिक को ध्यान में रखते हुए रात में ट्रेलरों द्वारा साइट पर ले जाया जाता है. वहीं विशेष क्रेन की मदद से व्यवस्थित तरीके से इन्स्टाल किया जाता है. इन स्टील स्पैन के आकार और संरचना को निर्माण, स्थापना और उपयोग की समग्र आवश्यकताओं के अनुरूप एडवांस स्तर पर डिजाइन किया गया है.साहिबाबाद से गाजियाबाद के बीच स्थापित क‍िए जा रहे दो स्पेशल स्पैनअध‍िकार‍ियों के मुताब‍िक एनसीआरटीसी साहिबाबाद से गाजियाबाद (Sahibabad-Ghaziabad) के बीच ऐसे दो स्पेशल स्पैन स्थापित कर रहा है. इनमें से एक स्पैन वसुंधरा (Vasundhra) में स्थापित किया जा रहा है, जो रेलवे क्रॉसिंग (Railway Crossing) को पार करने के लिए है और 73 मीटर लंबा और 850 टन वजन का है. एनसीआरटीसी (NCRTC) यह सुनिश्चित करने के लिए सभी उपाय कर रही है कि नीचे चलने वाली भारतीय रेलवे (Indian Railways) की सेवाएं प्रभावित न हों और निर्माण कार्य समय से पूरा हो.ये भी पढ़ें: Delhi-Meerut RRTS कॉरिडोर पर इन नई‌ तकनीकों से हो रहा काम, खड़े हो चुके हैं 900 पिलर RRTS Project का सबसे ऊंचा स्‍टेशन है गाज‍ियाबादएक और विशाल स्पैन की स्थापना आरआरटीएस कॉरिडोर (NCRTC Corridor) के सबसे ऊंचे स्टेशन गाजियाबाद आरआरटीएस स्टेशन (Ghaziabad RRTS Station) के लिए किया जा रहा है जो दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) की रेड लाइन और रोड ओवरब्रिज को पार करता हैं. गाजियाबाद में मेट्रो वायडक्ट और रोड ओवरब्रिज के दोनों ओर स्पेशल स्पैन लगाने के लिए पोर्टल पिलर्स बनाया गया है. इस पोर्टल पिलर्स पर लगभग 150 मीटर लंबा विशेष स्पैन स्थापित किया जाना है. इसका वजन करीब 3200 टन होगा और इसे जमीन से करीब 26 मीटर की ऊंचाई पर स्थापित किया जाएगा. आरआरटीएस वायडक्ट के नीचे मेट्रो वायडक्ट और रोड ओवरब्रिज होने के कारण इस मेगा स्पैन को असेंबल करने में विशेष सावधानी बरती जा रही है.स्‍पेशल स्‍पैन को स्‍थाप‍ित करने के बाद फिनिशिंग की आवश्यकता नहींगाजियाबाद और वसुंधरा रेल क्रॉसिंग पर विंच और रोलर व्यवस्था की मदद से पिलर्स के एक तरफ से विशेष स्पैन को पुश तकनीक द्वारा स्थापित किया जाएगा. स्पेशल स्पैन के ये टुकड़े फैक्ट्री-निर्मित, चित्रित संरचनाएं हैं, और सीधे स्थापित करने के लिए तैयार हैं. इसलिए, वे समय बचाते हैं और आसपास के परिवेश के सामंजस्य को प्रभावित नहीं करते हैं चाहे वह जनसंख्या, यातायात या मौजूदा संरचनाएं हों. स्ट्रक्चरल स्टील से बने इन विशेष स्पैन का निर्माण इतना अच्छा है कि स्थापित करने के बाद उन्हें किसी भी फिनिशिंग की आवश्यकता नहीं है और ट्रैक बिछाने के अगले चरण को तुरंत पूरा किया जा सकता है.इस तकनीक से घनी आबादी एर‍िया में काम करने में भी नहीं आ रही परेशानीसाथ ही, इतने बड़े पैमाने पर निर्माण कार्य के लिए भारी मशीनों, कच्चे माल और बड़ी संख्या में श्रमिकों की साइट पर तैनाती व्यावहारिक रूप से संभव नहीं है. घनी आबादी वाले क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर जटिल निर्माण गतिविधि सुरक्षा मुद्दों का कारण बन सकती है, मौजूदा सुविधाओं के नियमित संचालन को प्रभावित कर सकती है और आम लोगों के लिए असुविधा पैदा कर सकती है. इन पहलुओं को ध्यान में रखते हुए, एनसीआरटीसी ने इस अनूठी तकनीक को सक्रिय रूप से अपनाया है जिससे जनता को न्यूनतम असुविधा होगी, सुचारू यातायात प्रबंधन और संचालन और सुरक्षित निर्माण सुनिश्चित होगा.ये भी पढ़ें: RRTS Project: दिल्ली-मेरठ रूट पर 2023 से दौडे़गी Rapid Rail, इस सेक्शन को पहले खोलने की तैयारी, जानिए इस रूट की खासियत वर्तमान में, 82 किमी लंबे आरआरटीएस कॉरिडोर पर करीब 11,000 से अधिक श्रमिक काम कर रहे हैं. वहीं 1100 इंजीनियरों के प्रयासों से अब तक 40 किमी का फाउंडेशन और 10 किमी वायडक्ट के साथ एलिवेटेड सेक्शन के करीब 900 पियर पहले ही पूरे हो चुके हैं. इनमें से अधिकांश हिस्सा प्रायोरटी सेक्शन में स्थित है.पांच स्‍टेशनों का न‍िर्माण कार्य एडवांस लेवल में चल रहाप्रायोरटी सेक्शन में वायडक्ट के निर्माण के साथ सभी पांच स्टेशनों साहिबाबाद, गाजियाबाद, गुलधर, दुहाई और दुहाई डिपो के सुपरस्ट्रक्चर का निर्माण कार्य एडवांस लेवल में है. गुलधर से दुहाई के बीच वायडक्ट पर ट्रैक बिछाने के लिए रेल पटरी को जोड़ने का काम चल रहा है, जिसके लिए मोबाइल फ्लैश वेल्डिंग प्लांट स्थापित किया गया है.अंडरग्राउंड स्टेशनों का निर्माण कार्य भी हो चुका है शुरूकॉरिडोर में एलिवेटेड सेक्शन के संचालन में 16 लॉन्चिंग गैन्ट्री (तारिणी) के साथ एनसीआरटीसी की टीम दिन-रात काम कर रही है. अंडरग्राउंड स्टेशनों का निर्माण कार्य भी शुरू हो गया है. साहिबाबाद से दुहाई के बीच 17 किमी के प्राथमिकता खंड को मार्च 2023 तक और पूर्ण गलियारे को 2025 तक चालू करने का लक्ष्य है.
Page#    Showing 1 to 20 of 596 News Items  next>>

Go to Full Mobile site