Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Ganga Sagar Express - सारे तीर्थ बार-बार, गंगासागर एक बार - Rahul Kumar

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Fri Apr 23 05:03:39 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search

MTA/Mathela (2 PFs)
متھےلا     मथेला

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
SH 26, Punasa, Distt - Khandwa, PIN - 450551
State: Madhya Pradesh


Zone: WCR/West Central   Division: Bhopal

No Recent News for MTA/Mathela
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 10
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 9 of 9 News Items  
ब्रॉडगेज कन्वर्जन के बाद मथेला के रास्ते सनावद तक यात्री ट्रेनें चलाने का रास्ता साफ होता नजर आ रहा है। क्योंकि पश्चिम रेलवे के रतलाम रेल मंडल के निमाड़खेड़ी-सनावद के बीच 12 किलोमीटर नए रेलमार्ग के निरीक्षण के लिए रेलवे चीफ कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) 31 मार्च और 1 अप्रैल को निरीक्षण करेंगे। सब कुछ ठीक रहा तो जल्द ही इस ट्रैक पर ट्रेनें दौड़ेंगीं। 1 जनवरी 2017 से मीटरगेज रेल मार्ग को गेज परिवर्तन करने के लिए ब्लॉक लिया था, जिसके बाद मथेला स्टेशन से निमाड़खेड़ी तक गेज परिवर्तन पूरा कर मालगाड़ियां चलाई जा रही है, जबकि निमाड़खेड़ी से सनावद के बीच बचे गेज परिवर्तन को रेलवे ने अब पूरा कर लिया है। इस मार्ग पर ट्रेनें चल सकें, इसके लिए रेलवे सेफ्टी ऑफ कमिश्नर की अनुमति अनिवार्य है। इसको लेकर 31 मार्च को चीफ कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी एसके पाठक नए गेज परिवर्तन रेलमार्ग का निरीक्षण करेंगे। इसके...
more...
बाद अनुमति मिलने पर मथेला के रास्ते सनावद तक यात्री ट्रेनें चलाने का रास्ता साफ हो जाएगा।
रक्सौल-पटना ट्रेनों के फेरे जुलाई तक बढ़ाए
रेलवे ने मुंबई से पटना और रक्सौल जाने वाली विशेष ट्रेनों के फेरे जून-जुलाई तक बढ़ा दिए है। जानकारी के मुताबिक ट्रेन नंबर 03260 छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस सीएमएसटी-पटना जंक्शन द्वि-साप्ताहिक (मंगलवार और शुक्रवार) सुपरफास्ट विशेष 6 अप्रैल से 2 जुलाई तक, 03259 पटना जंक्शन से सीएमएसटी द्वि-साप्ताहिक (रविवार और बुधवार) सुपरफास्ट विशेष 4 अप्रैल से 30 जून।
02546 एलटीटी से रक्सौल साप्ताहिक (शनिवार) सुपरफास्ट विशेष 3 अप्रैल से 26 जून, 02545 रक्सौल - एलटीटी साप्ताहिक (गुरुवार) सुपरफास्ट विशेष 1 अप्रैल से 24 जून, 05548 एलटीटी-रक्सौल साप्ताहिक (बुधवार) 7 अप्रैल से 30 जून, 05547 रक्सौल - एलटीटी साप्ताहिक (सोमवार) 5 अप्रैल से 28 जून, 05268 एलटीटी - रक्सौल साप्ताहिक (सोमवार) 5 अप्रैल से 28 जून, 05267 रक्सौल-एलटीटी साप्ताहिक (शनिवार) 3 अप्रैल से 26 जून तक चलेगी।
Mar 13 (11:18) सुविधा:ओंकारेश्वर के लिए भोपाल से सनावद वाया मथेला मेमू ट्रेन चलाने के लिए स्वीकृति का इंतजार (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
CR/Central
0 Followers
6641 views

News Entry# 444412  Blog Entry# 4906232   
  Past Edits
Mar 13 2021 (11:18)
Station Tag: Mathela/MTA added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 13 2021 (11:18)
Station Tag: Sanawad/SWD added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 13 2021 (11:18)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Anupam Enosh Sarkar/401739
कोरोना संक्रमण के दौर में रेलवे अप-डाउनर्स के साथ पास के स्टेशनों तक जाने वाले यात्रियों के लिए मेमू (मेन लाइन इलेक्ट्रिक मल्टीपल यूनिट) ट्रेन चलाएगा। भुसावल मंडल से मेमू ट्रेन इटारसी तक चलाई जाएगी। इसके लिए खंडवा स्टेशन पर तैनात तीन लोको पायलेट को मंडल द्वारा मेमू ट्रेन चलाने का प्रशिक्षण दिया गया। हालांकि ओंकारेश्वर के लिए सनावद तक भोपाल से वाया मथेला मेमू ट्रेन चलाने भोपाल रेल मंडल की स्वीकृति का इंतजार है। वही रेलवे के अधिकारियों ने मेमू ट्रेन के संचालन का रोड मैप बना लिया है।
जानकारी के मुताबिक यह मेमू ट्रेन 6 से 8 डिब्बों की होगी। भुसावल से खंडवा और खंडवा से इटारसी तक अलग-अलग लोको पायलेट ट्रेन को लेकर जाएंगे। गौरतलब है कोरोना काल के
...
more...
दौरान खंडवा से भोपाल, इटारसी, जबलपुर, बुरहानपुर, हरदा, भुसावल, जलगांव के लिए यात्रियों को टिकट नहीं मिल पा रहे हैं। क्योंकि.. रिजर्वेशन वाली ट्रेनों में पहले ही वेटिंग चल रहा है। फिलहाल अप व डाउन ट्रैक पर खंडवा से लगभग 52 विशेष व त्योहार स्पेशल ट्रेनें गुजर रही हैं। इसमें से 40 से अधिक ट्रेनें नियमित हैं, जो 24 घंटे के भीतर खंडवा रूट से गुजरती हैं।
आसपास के जिलों में ठप पड़ा है व्यापार
खंडवा से मुंबई व दिल्ली रूट के शहरों व कस्बों तक जाने के लिए सबसे सुगम साधन रेलवे है। कोरोना संक्रमण में दौरान ट्रेनें बंद हुईं। इसमें बाद जून से कुछ ट्रेनें चलीं, लेकिन अप-डाउनर्स के लिए कोई रियायत नहीं मिली। इसके कारण आसपास के जिलों में व्यापार ठप हो गया है। क्योंकि... जैसे खंडवा शहर में लोग काम के लिए बाहरी जिलों से आते थे, वैसे ही यहां के लोग भुसावल और भोपाल तक अपने काम के लिए अप-डाउन कर आते-जाते थे।होली पर भीड़ कम करने के लिए चलेगी अतिरिक्त यात्री ट्रेनेंहोली पर यात्रियों की सुविधा और कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए रेलवे अतिरिक्त ट्रेनें चलाएगा। फिलहाल यूपी और बिहार जाने वाली ट्रेनों के फेरों को अप्रैल तक रेलवे विस्तार दे रहा है। यूपी के कुछ जिलों को जोड़ने के लिए भी रेलवे साप्ताहिक ट्रेनें चला रहा है।
Jan 01 (10:17) सुविधा...:ब्रॉडगेज पर इस साल दौड़ेगी पहली यात्री ट्रेन (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
CR/Central
0 Followers
20327 views

News Entry# 431278  Blog Entry# 4830270   
  Past Edits
Jan 01 2021 (10:17)
Station Tag: Sanawad/SWD added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 01 2021 (10:17)
Station Tag: Mathela/MTA added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 01 2021 (10:17)
Station Tag: Dr. Ambedkar Nagar (Mhow)/DADN added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 01 2021 (10:17)
Station Tag: Nimar Kheri/NKR added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 01 2021 (10:17)
Station Tag: Khandwa Junction/KNW added by Anupam Enosh Sarkar/401739
मीटरगेज ट्रैक बंद होने के तीन साल बाद एक बार फिर इस रूट पर पैसेंजर ट्रेन चलने की उम्मीद दौड़ पड़ी है। तीर्थनगरी ओंकारेश्वर के लिए खंडवा से वाया मथेला-सनावद तक यह ट्रेन चलाई जाएगी। यहां तक ब्रॉडगेज ट्रैक तैयार हो चुका है। सीआरएस (कमिशन ऑफ रेलवे सेफ्टी) द्वारा ट्रैक का निरीक्षण कर हरी झंडी मिलने की उम्मीद है। इसके साथ ही खंडवा से वाया मथेला-सनावद (73 किमी) तक ट्रेन चालू हो जाएगी। जनमंच एवं लोगों की मांग पर सेंट्रल रेलवे भुसावल मंडल व पश्चिम रेलवे रतलाम मंडल के अधिकारी भी सहमत हैं। सबकुछ ठीक रहा तो निमाड़खेड़ी-सनावद (14 किमी) ट्रैक के साथ ओवर हेड इलेक्ट्रिक लाइन (ओएचई) की कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी द्वारा हरी झंडी के देने के बाद ट्रेन चलाने का रास्ता साफ हो जाएगा। फिलहाल वाया मथेला-निमाड़खेड़ी (44 किमी) तक इलेक्ट्रिक इंजन से सेल्दा प्लांट के लिए कोयला लेकर मालगाड़ियां जा रही हैं।
खंडवा
...
more...
स्टेशन से बड़ा है निमाड़खेड़ी का प्लेटफार्म
खंडवा स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर-1 और 2 की वर्तमान लंबाई 550-550 मीटर है, जो आगे बढ़कर 600-600 मीटर तक की जाएगी। मीटरगेज से ब्रॉडगेज में कन्वर्ट होने के बाद निमाड़खेड़ी स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर-1 व 2 की लंबाई 800-800 मीटर है। यहां पर प्लेटफार्म नंबर 2 की ओर रेलवे क्वाटर्स एवं गार्ड व ड्राइवर के रनिंग रूम बने गुए हैं। प्लेटफार्म नं.1 व 2 को जोड़ने के लिए रैंप व सीढ़ियों वाला फुट ओवरब्रिज भी बना है।
अब महाराष्ट्र तक बेच सकेंगे अपनी उपज
सनावद-खंडवा वाया मथेला ब्रॉडगेज रेलवे ट्रैक के खुलने से किसानों को अपनी उपज महाराष्ट्र तक बेचने का नया रास्ता मिलेगा। क्योंकि.. निमाड़खेड़ी क्षेत्र के किसान कपास, सोयाबीन, गेहूं, मिर्च, गन्ना सहित अन्य फसलों की पैदावार होती है। किसान अभी लोकल की मंडियों में अपनी उपज बेच रहे हैं।
खंडवा में रुकेंगी ट्रेनें
खंडवा स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर-6 पर रेलवे ट्रैक का काम पूरा हो चुका है। ट्रैक पर कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी का निरीक्षण इसी साल होगा। जिसके बाद प्लेटफार्म नंबर-6 पर अप रूट इटारसी की ओर से आने वाली ट्रेनें रुकेंगी। फिलहाल प्लेटफार्म पर यात्री सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है।
2017 से बंद है खंडवा से महू मीटरगेज ट्रेन
रेलवे ने गेज कन्वर्जन के लिए 1 जनवरी 2017 से खंडवा-महू मीटरगेज ट्रैक बंद कर दिया है। इसके बाद रेलवे ने सनावद से महू के ट्रैक पर भी मीटरगेज ट्रैक का संचालन बंद कर दिया। फिलहाल तीर्थनगरी ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग दर्शन के लिए श्रद्धालुओं को निजी वाहनों से आना पड़ रहा है।
यह भी जानिए
2003 तक खंडवा-महू रेलवे ट्रैक ब्रॉडगेज कन्वर्जन होना था।
355 करोड़ रुपए का बजट मिला पिछले साल ब्रॉडगेज के लिए
21 किमी (महू-चोरल) कुल 14 टनल बनाए जाएंगे
नया निमाड़खेड़ी
निमाड़खेडी रेलवे स्टेशन का नया कलेवर सभी को आकर्षित कर रहा है। मेट्रो सिटी की तर्ज पर इसे बनाया है।
Aug 14 2019 (18:38) नई ब्रॉडगेज लाइन पर गुड्स ट्रेन (www.patrika.com)
IR Affairs
WR/Western
0 Followers
23625 views

News Entry# 388758  Blog Entry# 4401677   
  Past Edits
Aug 14 2019 (18:38)
Station Tag: NTPC Khargone/NSPN added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Aug 14 2019 (18:38)
Station Tag: Mathela/MTA added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Aug 14 2019 (18:38)
Station Tag: Nimar Kheri/NKR added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
इंदौर.रतलाम-खंडवा गेज कन्वर्जन प्रोजेक्ट में महू-खंडवा मीटरगेज लाइन को ब्रॉडगेज में बदलने का काम तेजी से पूरा किया जा रहा है। इस कड़ी में खंडवा से निमाडख़ेड़ी तक ब्रॉडगेज लाइन सोमवार से शुरू कर दी गई है। हालांकि इस लाइन को फिलहाल एनटीपीसी के लिए शुरू किया गया, जिसका उपयोग गुड्स ट्रेन के संचालन के लिए किया जा रहा है। सोमवार दोपहर इस ट्रैक पर पहली गुड्स ट्रेन को रवाना किया गया।
छह घंटे में ट्रेन एनटीपीसी प्लांट पहुंची।
जुलाई माह में मथेला से निमाडख़ेड़ी स्टेशन तक मुख्य सरंक्षा आयुक्त ने निरीक्षण
...
more...
किया था। इसके बाद ट्रैक को गुड्स ट्रेन के संचालन के लिए अनुमति मिली थी। उल्लेखनीय है कि 2016 में सनावद-खंडवा रेलखंड को ब्रॉडगेज लाइन में तब्दील करने के लिए बंद कर दिया गया था। इस ट्रैक के शुरू होने के बाद मार्च 2020 तक खंडवा-सनावद रेल लाइन भी यात्रियों के लिए शुरू कर दी जाएगी।
सोमवार को मथेला-निमाड़ खेड़ी स्टेशन से पहली मालगाड़ी एनटीपीसी प्लांट रवाना की गई। महू-खंडवा सेक्शन में आमान परिवर्तन के बाद पहली ट्रेन चली है। खंडवा जिले के मथेला स्टेशन से पहली मालगाड़ी सोमवार दोपहर 12 बजे माथेला से एनटीपीसी के लिए रवाना हुई। 58 कोच के इस रैक में चार हजार टन कोयला भरा था। शाम 6.20 बजे मालगाड़ी प्लांट पहुंची। इस गुट्स ट्रेन की स्पीड 20 किमी प्रति घंटा ही रखी गई। बता दें कि इससे पहले इस प्लांट में कोयले को 150 किमी दूर नेपानगर से लाया जाता था। इसी कारण इस लाइन को तेजी से पूरा किया गया है।

Jun 23 2019 (09:59) पटरी पर फोड़ा नारियल, फिर ट्रॉली पर बैठकर देखा ट्रैक (naidunia.jagran.com)
New Facilities/Technology
WR/Western
0 Followers
17818 views

News Entry# 384875  Blog Entry# 4349762   
  Past Edits
Jun 23 2019 (09:59)
Station Tag: Mathela/MTA added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Jun 23 2019 (09:59)
Station Tag: Nimar Kheri/NKR added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
Stations:  Mathela/MTA   Nimar Kheri/NKR  
फोटो केएचए-29-मथेला रेलवे स्टेशन पर बने नए रेलवे ट्रैक पर अधिकारियों ने फोड़ा नारियल। नईदुनिया
फोटो केएचए-30-ट्रॉली पर सवार होकर रेलवे ट्रैक का जायजा लेते हुए सीआरएस सुशील चंद्रा व अन्य अधिकारी। नईदुनिया
फोटो केएचए-31-रेलवे ट्रैक से ट्रॉलियां गुजरने के बाद खुले मूंदी रोड पर रेलवे फाटक के पास जाम की स्थिति बनी। नईदुनिया
निरीक्षण : सीआरएस सुशील चंद्रा ने कहा-
...
more...
फाटक के पास सही ढंग से नहीं बना रोड, ट्रैक में भी खामियां
- मथेला से निमाड़खेड़ी 55 किमी लंबे बायपास ट्रैक की जांची गुणवत्ता, इससे जुड़े हैं दो थर्मल पॉवर
- सीआरएस की स्वीकृति के बाद ही ट्रैक पर हो सकेगा ट्रेनों का संचालन
खंडवा/सिहाड़ा। नईदुनिया प्रतिनिधि
मथेला से निमाड़खेड़ी के 55 किलोमीटर के रेलवे ट्रैक का जायजा लेने के लिए शनिवार को मुंबई से कमीश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) सुशील चंद्रा आए। सुबह करीब 9.30 बजे से शुरू हुए निरीक्षण में पहले उन्होंने नए ट्रैक पर नारियल फोड़ा, इसके बाद ट्रॉली में सवार होकर रेलवे ट्रैक का जायजा लिया। खंडवा-मूंदी रोड पर बने रेलवे फाटक के पास रोड सरफेस और ट्रैक की कटिंग को देखकर उन्होंने अधिकारियों को फटकार लगाई। इसके साथ ही रेलवे फाटक की चेन नहीं मिलने पर भी नाराजगी जताई। रेलवे फाटक के पास से अधिकारियों की ट्रॉलियां गुजरने के बाद रोड पर जाम लग गया। इससे लोगों को आवाजाही में परेशानी हुई।
सनावद-खंडवा गेज कन्वर्जन के साथ यहां मथेला से निमाड़खेड़ी तक बायपास ट्रैक बनाया गया है। इस ट्रैक से खंडवा जिले के संत सिंगाजी और खरगोन जिले के सेल्दा थर्मल पॉवर प्लांट जुड़े हैं। करीब 55 किलोमीटर के इस रेलवे ट्रैक में 46 किलोमीटर का हिस्सा खंडवा-सनावद ट्रैक का हिस्सा है, वहीं मथेला से अहमदपुरखैगांव तक नौ किलोमीटर बायपास ट्रैक बनाया गया है। दोनों थर्मल पॉवर के बीच ट्रेनों के संचालन सीआरएस की अनुमति के बाद ही हो सकता है। ऐसे में इस निरीक्षण को काफी अहम माना जा रहा है।
तीन बार बंद किया फाटक, फिर खोला
मथेला स्टेशन से करीब आधा किलोमीटर दूर खंडवा-मूंदी रोड पर रेलवे फाटक बनाकर ट्रैक की क्रॉसिंग की गई है। यहां अधिकारियों की ट्रॉली आते देख रेलकर्मियों ने फाटक बंद कर दिया। ऐसे में यहां जाम की स्थिति बन गई और अधिकारी ट्रैक को लेकर कुछ दूरी पर ही चर्चा करने लगे। ऐसे में फाटक खोल दिया गया। दोनों ओर लगी वाहनों की कतार से लोग जाम में फंस गए। यह स्थिति तीन बार बनी, इसके बाद यहां से ट्रॉलियां रवाना हुईं।
-बॉक्स-
थर्मल पॉवर के बीच चलेगी कोयले की मालगाड़ी
सीआरएस की रिपोर्ट के बाद मथेला से निमाड़खेड़ी तक ट्रेनों की आवाजाही शुरू हो जाएगी। बीड़ और सेल्दा के बीच कोयले की मालगाड़ियों की आवाजाही हो सकेगी। इससे बिजली उत्पादन सुचारु हो सकेगा।
सनावद तक चल सकती है पैसेंजर ट्रेनें
खंडवा से सनावद के बीच गेज कन्वर्जन पूरा नहीं हुआ है। ऐसे में मथेला से सनावद तक पैसेंजर ट्रेनें चलाकर यात्रियों को सुविधा दी जा सकती है। इसको लेकर कई संस्थाएं मांग कर रही हैं।
110 किलोमीटर की गति से दौड़ सकेंगी ट्रेनें
सीआरएस अपनी रिपोर्ट में रेलवे ट्रैक को ठीक बता देते हैं तो यहां ट्रेनों की आवाजाही 110 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से शुरू हो जाएगी। अभी ट्रैक पर 30 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से इंजन व ट्रेन चलाकर टेस्टिंग की जा रही थी।
बॉक्स
सीआरएस ने निरीक्षण के दौरान कहा-
- रेलवे फाटक के पास रोड खराब क्यों है, जब यह सड़क रेलवे ने बताई तो सरफेस खराब क्यों है।
- खंडवा-मूंदी रोड के फाटक के पास रेलवे ट्रैक की कटिंग सही ढंग से नहीं की गई है। यहां सुधार कार्य करो।
- निरीक्षण से पहले उन्होंने कहा किसी भी ट्रॉली में ओवर लोड नहीं होना चाहिए, बाकी लोग कार से आएं।
- फील्ड पर लगे कर्मचारी और निरीक्षण के लिए आए अमले के लिए दोपहर 12 बजे खाना तैयार हो जाना चाहिए। एक नजर इधर भी
- खंडवा से सनावद तक 56 किलोमीटर रेलवे ट्रैक का काम ढाई साल में भी पूरा नहीं हो सका है।
- खंडवा जंक्शन पर अब तक प्लेटफॉर्म नंबर चार और पांच की मीटरगेज पटरियां भी नहीं उखड़ी हैं।
- खंडवा जंक्शन के दोनों छोर पर दक्षिण मध्य रेलवे द्वारा गेज कन्वर्जन का काम अब तक शुरू नहीं हुआ है।
- खंडवा से इंदौर जाने वाले लोग परेशान हैं, जानकारी के अनुसार इंदौर तक ट्रैक बिछने में पांच साल लगेंगे।
- खंडवा से इंदौर तक रोड पर 130 किलोमीटर का सफर पांच घंटे में पूरा होता है, ऐसे में लोग परेशान हैं।
- यात्रियों का कहना है कि रेलवे ने थर्मल पॉवर के ट्रैक पर फोकस किया लेकिन पैसेंजर ट्रेनों के लिए ध्यान नहीं दिया।




Page#    Showing 1 to 9 of 9 News Items  

Go to Full Mobile site