Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

RailFanning is a gift you give yourself. - Varun

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Wed Jan 20 03:56:21 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Scenic; Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 3415378-0
Scenic; Large Station Board;
Entry# 3453528-0


DEOS/Deoria Sadar (3 PFs)
دیوریا سدر     देवरिया सदर

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Station Rd, Deoria- 274001
State: Uttar Pradesh

Elevation: 78 m above sea level
Zone: NER/North Eastern   Division: Varanasi

No Recent News for DEOS/Deoria Sadar
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 98
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 3.3/5 (69 votes)
cleanliness - good (9)
porters/escalators - average (9)
food - average (9)
transportation - good (9)
lodging - average (9)
railfanning - good (8)
sightseeing - good (8)
safety - good (8)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 109 News Items  next>>
Dec 31 2020 (13:28) रेल टिकट काउंटर बंद, परेशान हो रहे सैकड़ों लोग Gorakhpur News (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
4065 views

News Entry# 431128  Blog Entry# 4829450   
  Past Edits
Dec 31 2020 (13:29)
Station Tag: Deoria Sadar/DEOS added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 31 2020 (13:29)
Station Tag: Barhaj Bazar/BHJ added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Deoria Sadar/DEOS   Barhaj Bazar/BHJ  
डाक घरों में भी आरक्षित रेल टिकट बनाने की सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं। देवरिया में दस माह से इन काउंटरों पर ताला लटक रहे हैं जिसके चलते रेल यात्रियों को तो रेलवे स्टेशनों तक टिकट के लिए दौड़ लगानी पड़ रही है
गोरखपुर, जेएनएन: रेल यात्रियों की सुविधाओं के लिए डाक घरों में भी आरक्षित रेल टिकट बनाने की सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं। देवरिया में दस माह से इन काउंटरों पर ताला लटक रहे हैं, जिसके चलते रेल यात्रियों को तो रेलवे स्टेशनों तक टिकट के लिए दौड़ लगानी पड़ रही है या फिर टिकट दलालों के संपर्क में जाना पड़ रहा है। डाक घरों के रेल टिकट काउंटर बंद होने के चलते लाखों रुपये के राजस्व का नुकसान
...
more...
भी हो रहा है। 2016 में खोले गए थे डाक घरों में टिकट काउंटर वर्ष 2016 में जिले के चार डाक घर पथरदेवा, चकरा गोसाई, रुद्रपुर व बरहज में रेल टिकट काउंटर खोले गए। इसके अलावा कुशीनगर के कुशीनगर व हाटा में काउंटर खोले गए। बरहज रेलवे स्टेशन पर आरक्षण काउंटर खुलने के बाद बरहज डाक घर में यह सुविधा बंद कर दी गई, जबकि 2019 में रुद्रपुर में भी डाक घर में लगे सिस्टम को रेलवे के अधिकारी उठा ले गए। अब केवल कुशीनगर, हाटा, पथरदेवा व चकरा गोसाई में ही यह सिस्टम लगा हुआ है।
कोरोना संक्रमण काल में किए गए थे बंद
डाक घर में खुले टिकट काउंटर पर टिकट बन जाता था, लेकिन कोरोना संक्रमण काल में 15 मार्च के बाद इन काउंटरों को रेलवे के निर्देश पर बंद कर दिया गया। इसके बाद इन काउंटरों पर किसी की नजर नहीं पड़ी। आंकड़ों पर नजर दौड़ाएं तो चकरा गोसाई में फरवरी माह में 233 लोगों ने अपना टिकट बनवाया और एक लाख 26 हजार रुपये का राजस्व विभाग को मिला। जबकि मार्च माह में 98 हजार रुपये के टिकट बिके। यही स्थिति पथरदेवा डाक घर में भी रही।
कोरोना काल में अधिकारियों के निर्देश पर बंद किए गए थे काउंटर
डाक अधीक्षक फूलचंद यादव ने बताया कि सभी काउंटरों से अच्छा रेल टिकट बिक जाता था, कोरोना संक्रमण काल में इन काउंटरों को रेल अधिकारियों के निर्देश पर बंद किया गया था, आज भी यह काउंटर बंद है। दिशा-निर्देश मिलने पर इन काउंटरों को पुन: खोला जाएगा।
Dec 25 2020 (01:59) ट्रेनों में सीट फुल, मुश्किल में रेल यात्री (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
4754 views

News Entry# 429958  Blog Entry# 4822836   
  Past Edits
Dec 25 2020 (01:59)
Station Tag: Deoria Sadar/DEOS added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Deoria Sadar/DEOS  
कोरोना संक्रमण के चलते अधिकांश ट्रेनों का संचलन बंद है कुछ चुनिदा ट्रेनें ही चलाई जा रही है। इन ट्रेनों में पहले से ही टिकट फुल है।
देवरिया: त्योहार व लगन समाप्त होने के बाद रेल यात्रा करना मुश्किल हो गया है। लंबी दूरी की ट्रेनों में सीट फुल है। ऐसे में लोगों के सामने तत्काल टिकट ही एक सहारा है। काउंटर पर आधी रात से लाइन लगाने के बाद भी अधिकांश लोगों को तत्काल टिकट नहीं मिल पा रहा है और हर दिन काउंटर से लोग बैरंग घर लौट रहे हैं। ऐसे में लोगों को टिकट दलाल या फिर बस तथा हवाई जहाज से यात्रा करनी पड़ रही है। कोरोना संक्रमण के चलते अधिकांश ट्रेनों का संचलन बंद है, कुछ
...
more...
चुनिदा ट्रेनें ही चलाई जा रही है। इन ट्रेनों में पहले से ही टिकट फुल है। जबकि गोरखपुर से मुम्बई को जाने वाली दादर एक्सप्रेस में तो तत्काल टिकट की सुविधा ही नहीं है। जो ट्रेनें त्योहार को लेकर चलाई गई है, उन ट्रेनों में तत्काल की सुविधा नहीं है। खास बात यह है कि दादर एक्सप्रेस में कब टिकट बनेगा, यह समय निर्धारित नहीं है। ऐसे में काउंटर से कम, बल्कि ई-टिकट लगभग 80 प्रतिशत बनाया जा रहा है। तीन गुना तक रुपया वसूल रहे दलाल
इस समय टिकट दलालों की चांदी हो गई है। पहले से ही ट्रेनों के टिकट फर्जी नाम पर बुक कर दलाल रख लिए हैं। जबकि कोई उनके पास पहुंच रहा है तो संबंधित टिकट देने के साथ ही उस नाम का फर्जी आधार कार्ड भी बना दे रहे हैं। एक-एक टिकट पर तीन गुना तक रुपये की वसूली दलाल कर रहे हैं। स्टेशन अधीक्षक आइ अंसारी ने बताया कि दादर एक्सप्रेस में अभी तत्काल टिकट का आदेश नहीं हुआ है। दो से तीन तत्काल टिकट अन्य ट्रेनों के लिए हर दिन काउंटर से बन जा रहे हैं।
सिर्फ एक से दो टिकट बन रहा
आरक्षण काउंटर पर ऐसे तो हर दिन पचास से अधिक लोग टिकट के लिए लाइन लगाते हैं, बमुश्किल एक से दो टिकट ही तत्काल का बन पा रहा है। ऐसे में अन्य लोगों को बैरंग ही वापस लौटना पड़ रहा है।
साधारण टिकट न मिलने से बढ़ी परेशानी देवरिया: वाराणसी-भटनी रेल खंड पर सवारी गाड़ी व अन्य ट्रेनों का संचालन नहीं होने से दैनिक यात्रियों की मुश्किलें बढ़ गई है। दादर, कृषक व चौरीचौरा के अलावा अन्य कोई ट्रेन संचालित नहीं होने से रेलवे की आमदनी भी आधे से कम हो गई है। दैनिक यात्रियों को सड़क मार्ग का सहारा है। साधन के अभाव में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लार रोड व सलेमपुर से करीब तीन हजार से अधिक यात्री प्रतिदिन बेल्थरा रोड, मऊ, वाराणसी, भटनी, देवरिया व गोरखपुर के लिए आते जाते हैं। जिसमें सरकारी सेवा के अलावा मजदूर, अधिवक्ता व शिक्षक आदि शामिल हैं। कोरोना संक्रमण के चलते ट्रेनों का संचालन 23 मार्च से बंद है। वर्तमान में दादर, कृषक व चौरीचौरा ट्रेनें संचालित हैं। लिच्छवी ट्रेन भी कुछ दिन चली। रेलवे ने उसे बंद कर दिया है। सलेमपुर के स्टेशन अधीक्षक अनिल कुमार यादव ने बताया कि ट्रेनों की संख्या कम होने से रेलवे की आय पर काफी असर पड़ा है। यात्रियों की संख्या काफी कम हो गई है। कोरोना के पूर्व जो आय थी वह घट कर आधे से भी कम हो गई है। विभाग के नियमों के तहत कार्य किया जा रहा है। रेल टिकट के लिए एक दिन पहले यात्रियों को टिकट लेना होगा।
यात्रियों की सुनिए : यात्री दिनेश कुमार सिंह ने कहा कि सवारी गाड़ियों का संचालन बंद है। कृषक, दादर व चौरीचौरा ट्रेनों से यात्रा के लिए साधारण टिकट नहीं मिल रहा है। सड़क मार्ग से यात्रा में कठिनाइयां आ रही है। बाल मुकुंद मिश्र ने कहा कि स्टेशन के करीब घर होने के चलते ट्रेन से यात्रा आसान रहती थी। मासिक टिकट बनवाकर तीन सौ रुपये में एक माह यात्रा कर लेते थे। अब तीन हजार रुपये प्रतिमाह बस का भाड़ा देना पड़ रहा है।अनिल कुमार ने कहा कि ट्रेन की सुविधा न होने से धन के साथ समय भी बर्वाद हो रहा है। कोहरे में बस या आटो से यात्रा करना खतरे से खाली नहीं है।
Dec 25 2020 (01:55) देवरिया सीमा में हथुआ-भटनी रेललाइन परियोजना निरस्त (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
4283 views

News Entry# 429956  Blog Entry# 4822834   
  Past Edits
Dec 25 2020 (01:55)
Station Tag: Deoria Sadar/DEOS added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Deoria Sadar/DEOS  
देवरिया जिले में इसकी लंबाई 12.45 किमी. व कुल रकबा 41.902 हेक्टेयर अधिग्रहण किया जाना था। इस परियोजना के व्यवहार्यता को लेकर एक खेमे के किसान शुरू से ही आंदोलनरत थे।
देवरिया : शासन ने हथुआ-भटनी रेललाइन परियोजना को जनता के लिए अनुपयोगी होने व धन की कमी होने के कारण निरस्त कर दिया। यूपी के भीतर देवरिया जिले की सीमा में रेलवे लाइन नहीं बिछाई जाएगी। मुआवजे के लिए जिला प्रशासन को उपलब्ध कराए गए 9.24 करोड़ में 10 फीसद भूमि अर्जन व्यय की कटौती कर रेलवे को लौटाने की प्रक्रिया चल रही है। जल्द ही रकम वापस कर दी जाएगी। हथुआ-भटनी रेललाइन परियोजना लंबाई करीब 80 किलोमीटर वर्ष 2005-06 में स्वीकृत हुई थी। देवरिया जिले में इसकी लंबाई
...
more...
12.45 किमी. व कुल रकबा 41.902 हेक्टेयर अधिग्रहण किया जाना था। इस परियोजना के व्यवहार्यता को लेकर एक खेमे के किसान शुरू से ही आंदोलनरत थे। किसानों का कहना था कि पूर्व रेलमंत्री लालू प्रसाद यादव ने अपने गांव, ससुराल व रिश्तेदारियों के गांव को जोड़ने के लिए परियोजना स्वीकृत कराई। प्रस्तावित रेल मार्ग की अपेक्षा सड़क मार्ग से दूरी आधी है।
वहीं दूसरे खेमे के किसान वर्तमान सर्किल रेट का चार गुना मुआवजा मांग रहे थे। रेलवे ने परियोजना की लागत 230.03 से बढ़कर 770 करोड़ रुपये होने के कारण हाथ खड़े कर दिए। रेलवे किसानों को चार गुना मुआवजा देने को तैयार नहीं था। डीएम अमित किशोर ने कहा कि देवरिया सीमा में हथुआ-भटनी रेललाइन परियोजना को कुछ व्यवहारिक दिक्कत के चलते निरस्त कर दिया गया है। धन वापस किया जा रहा है। भूमि बचाओ किसान संघर्ष समिति भटनी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष त्रिवेणी यादव ने बताया कि यह किसानों की जीत है। परियोजना जनता के लिए अनुपयोगी थी। इस परियोजना से छोटे-छोटे किसान प्रभावित हो रहे थे। इससे किसानों में खुशी है। शासन में बैठक के बाद लिया गया निर्णय दो मार्च 2020 को इस परियोजना को लेकर लखनऊ में बैठक हुई थी, जिसमें राजस्व विभाग की अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार, डीएम अमित किशोर, मुख्य इंजीनियर निर्माण पूर्वोत्तर रेलवे गोरखपुर कैलाश सिंह, विशेष कार्याधिकारी भूमि अध्याप्ति निदेशालय अंशुमालिका सिंह शामिल हुई थीं। उस बैठक में मुख्य इंजीनियर ने परियोजना की व्यवहार्यता व धन कमी से शासन को अवगत कराया। जिसके बाद निरस्त करने की कार्रवाई आगे बढ़ पाई।
Dec 24 2020 (07:34) डीआरएम ने किया सदर रेलवे स्टेशन का निरीक्षण, दिए निर्देश (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NR/Northern
0 Followers
3994 views

News Entry# 429788  Blog Entry# 4821622   
  Past Edits
Dec 24 2020 (07:34)
Station Tag: Bhatni Junction/BTT added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 24 2020 (07:34)
Station Tag: Deoria Sadar/DEOS added by Anupam Enosh Sarkar/401739
मंडलीय रेल प्रबंधक पंजियार सबसे पहले प्लेटफार्म का निरीक्षण किया और साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने व कोरोना संक्रमण में जागरूकता के साथ बचाव करने का निर्देश दिया।
देवरिया: डीआरएम वाराणसी विजय कुमार पंजियार ने बुधवार को देवरिया सदर रेलवे स्टेशन का औचक निरीक्षण किए। इस दौरान कुछ कमियां मिली तो उसमें सुधार करने का निर्देश दिए। लगभग एक घंटे तक डीआरएम सदर रेलवे स्टेशन पर रहने के बाद कुसुम्ही के लिए रवाना हो गए।
मंडलीय रेल प्रबंधक पंजियार सबसे पहले प्लेटफार्म का निरीक्षण किया और साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने
...
more...
व कोरोना संक्रमण में जागरूकता के साथ बचाव करने का निर्देश दिया। इसके बाद अस्पताल परिसर में गए। वहां कुछ कमियां दिखीं तो उसमें सुधार लाने का निर्देश दिए। इसके बाद वह बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट, वाराणसी के सदस्यों के साथ मालगोदाम का निरीक्षण किया। इस दौरान वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक रोहित गुप्ता, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक संजीव शर्मा, वरिष्ठ मंडल इंजीनियर प्रथम जके सिंह, वरिष्ठ मंडल यांत्रिक इंजीनियर (समाडी) एसपी श्रीवास्तव, वरिष्ठ मंडल विद्युत इंजीनियर (सामान्य) सत्येंद्र यादव समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।
भटनी रेलवे स्टेशन का भी डीआरएम ने किया निरीक्षण
देवरिया: दोपहर बाद डीआरएम भटनी रेलवे स्टेशन पहुंचे और हो रहे निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। निर्माण कार्य पूरा करने का निर्देश दिया। पायलट गार्ड विश्रामालय में साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया।
Dec 22 2020 (12:39) गोरखपुर खिचड़ी मेला के लिए चलेंगी आधा दर्जन स्पेशल पैसेंजर ट्रेनें Gorakhpur News (www.jagran.com)
New/Special Trains
NER/North Eastern
0 Followers
15424 views

News Entry# 429521  Blog Entry# 4819954   
  Past Edits
Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Deoria Sadar/DEOS added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Kaptanganj Junction/CPJ added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Basti/BST added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Barhni/BNY added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Nautanwa/NTV added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Nakaha Jungle/JEA added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by Anupam Enosh Sarkar/401739
खिचड़ी मेला के लिए गोरखपुर और नकहा से नौतनवां बढऩी बस्ती कप्तानगंज और देवरिया रेलमार्ग पर आधा दर्जन स्पेशल पैसेंजर ट्रेनें चलाई जा सकती हैं। स्टेशन प्रबंधन ने ट्रेनों का प्रस्ताव तैयार कर मुख्यालय को भेज दिया है।
गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर के खिचड़ी मेला में गोरक्षनाथ मंदिर पहुंचने वाले श्रद्धालुओं के लिए राहत भरी खबर है। गोरखपुर और नकहा से नौतनवां, बढऩी, बस्ती, कप्तानगंज और देवरिया रेलमार्ग पर आधा दर्जन स्पेशल पैसेंजर ट्रेनें चलाई जा सकती हैं। स्टेशन प्रबंधन ने ट्रेनों का प्रस्ताव तैयार कर मुख्यालय को भेज दिया है। रेलवे प्रशासन की हरी झंडी मिलते ही स्टेशन प्रबंधन ट्रेनों के संचालन को लेकर तैयारी शुरू कर देगा। स्पेशल ट्रेनें कोविड-19 प्रोटोकाल के तहत ही चलेंगी।
गोरखपुर
...
more...
और नकहा से नौतनवां, बढऩी व बस्ती रूट पर चलाई जाएंगी ट्रेनें
स्टेशन डायरेक्टर आशुतोष गुप्ता ने वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक को पत्र लिखकर खिचड़ी मेला ही नहीं मौनी अमावस्या, बसंत पंचमी और महाशिवरात्रि पर्व पर नौतनवां-गोरखपुर, बलरामपुर-बढऩी- गोरखपुर, बेतिया- कप्तानगंज- गोरखपुर, छपरा- देवरिया- गोरखपुर और गोंडा- बस्ती- सहजनवां रूट पर स्पेशल के रूप में पैसेंजर ट्रेनों को संचालित करने का अनुरोध किया है। जानकारों के अनुसार ट्रेनों को चलाने की अनुमति मिलने के बाद जनरल टिकटों की बिक्री और निर्धारित स्टेशनों के काउंटरों को खोलने की व्यवस्था सुनिश्चित कर ली जाएगी। जनरल टिकटों की बिक्री के लिए पहले से ही सिस्टम तैयार है। हालांकि, रेलवे बोर्ड ने अभी भारतीय रेलवे स्तर पर पैसेंजर ट्रेनों को चलाने और जनरल टिकटों की बुकिंग पर रोक लगाई हुई है।
अभी बंद है पैसेंजर ट्रेनों का संचालन
दरअसल, कोरोना काल में नौतनवां, बढऩी, बस्ती, कप्तानगंज और देवरिया रूट पर पैसेंजर और डेमू ट्रेनों का संचालन बंद हैं। इन मार्गों पर स्पेशल के नाम पर गिनती की लंबी दूरी की ट्रेनें ही चल रही हैं। यह ट्रेनें भी छोटे स्टेशनों और हाल्टों पर नहीं रुकती हैं। ऐसे में प्रत्येक वर्ष खिचड़ी पर्व पर बाबा गोरक्षनाथ को खिचड़ी चढ़ाने वाले लाखों श्रद्धालुओं की परेशानी बढ़ गई है। उनकी समझ में नहीं आ रहा कि इसबार बाबा को खिचड़ी कैसे चढ़ेगी। खैर, पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए लोकल रूट पर चलने वाली पैसेंजर ट्रेनों को चलाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।
रेलवे स्टेशनों पर स्थापित होगी हेल्प डेस्क और हेल्थ बूथ
श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए गोरखपुर और नकहा स्टेशन पर अतिरिक्त व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। ट्रेनों और अन्य साधनों की जानकारी के लिए हेल्प डेस्क तथा हेल्थ बूथ स्थापित होगी। दोनों स्टेशनों पर अतिरिक्त टिकट काउंटर खोले जाएंगे। गोरखपुर में उत्तरी द्वार का टिकट काउंटर भी खुल जाएगा। स्टेशनों पर यात्रियों को ट्रेनों के अलावा अन्य आवश्यक सूचनाएं मिलती रहेंगी। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए दिशा-निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित कराया जाएगा। इसके लिए अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती की जाएगी।
किसान आंदोलन के चलते निरस्त रहेगी जननायक स्पेशल
पंजाब में चल रहे किसान आंदोलन के चलते जननायक एक्सप्रेस दो दिन और निरस्त रहेगी। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार 22 दिसंबर को चलने वाली 05211 दरभंगा-अमृतसर तथा 24 दिसंबर को चलने वाली 05212 अमृतसर-दरभंगा स्पेशल एक्सप्रेस नहीं चलेगी। इसके अलावा कुछ ट्रेनों का मार्ग परिवर्तन भी किया गया है।
Page#    Showing 1 to 20 of 109 News Items  next>>

Go to Full Mobile site