PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Gaya's Mahabodhi: Tumse Milne Ko Dil Karta hai, Tumhi Ho Jispe Dil Marta hai - Ashwani Kumar

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Fri Nov 27 15:09:48 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 407615-0
Medium; Platform Pic; Large Station Board;
Pic credit. Akhilesh C Chaurasia
Entry# 670207-0

CRK/Charkhera (2 PFs)
     चारखेड़ा

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Madhya Pradesh State Highway 15, Barkalan
State: Madhya Pradesh


Zone: WCR/West Central   Division: Bhopal

No Recent News for CRK/Charkhera
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 4
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 1 of 1 News Items  
Aug 13 2015 (07:00) 70 किमी. दूर से उल्टे पहियों पर लौटी सचखंड, झेलम और हावड़ा मेल! (naidunia.jagran.com)
Major Accidents/Disruptions
WCR/West Central

News Entry# 237575   
  Past Edits
Aug 13 2015 (7:00AM)
Station Tag: Lokmanya Tilak Terminus/LTT added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Station Tag: Mumbai CST/CSTM added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Station Tag: Nagpur Junction/NGP added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Station Tag: Bhusaval Junction/BSL added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Station Tag: Charkhera/CRK added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Station Tag: Harda/HD added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Station Tag: Itarsi Junction/ET added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Train Tag: Mumbai CST - Howrah Mail (via Allahabad)/12322 added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Train Tag: Mahanagari Express/11093 added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Train Tag: Mumbai LTT - Varanasi SF Express/12167 added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Train Tag: Jhelum Express/11077 added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Train Tag: Punjab Mail/12137 added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Train Tag: Howrah - Mumbai CST Mail (via Allahabad)/12321 added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Train Tag: Jhelum Express/11078 added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Train Tag: Sachkhand Express/12716 added by Parshwa/132859

Aug 13 2015 (7:00AM)
Train Tag: Jabalpur - Mumbai CST Garib Rath Express/12187 added by Parshwa/132859
Posted by: xxx 148 news posts
इटारसी(ब्यूरो)। हरदा के पास हुए रेल हादसे के बाद किस्मत और मानसून भी रेलवे का साथ नहीं दे रहा है। सोमवार देर रात जैसे-तैसे अप ट्रेक शुरू किया गया था, लेकिन गरीबरथ और मालगाड़ी निकलने के बाद यहां ओएचई लाइन का पोल धंसने की वजह से फिर रूट बाधित हो गया। इस हादसे से चंद घंटे पहले इटारसी से मुबंई की ओर रवाना हुई सचखंड, झेलम एवं हावड़ा मेल घटना के बाद 70 किमी. का फासला तय कर उल्टे पहियों वापस इटारसी लाई गईं। इस वजह से तीनों ट्रेनों के हजारों यात्री जंगल में चार-पांच घंटे फसे रहे। तीनों ट्रेनों को इटारसी लाकर डायवर्ट रूट से गंतव्य की ओर रवाना किया गया। इधर मुबंई से इटारसी आ रही पंजाबमेल, झेलम, दादर-बनारस, महानगरी, हावड़ा समेत अन्य ट्रेनों को भी वापस लेकर डायवर्ट रूट से इटारसी लाया गया। इस घटना के बाद रेलवे द्वारा नए सिरे से मौके पर काम शुरू कराया गया...
more...
है। मंगलवार को भारी बारिश के चलते रेलवे को काम करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।
लगाए गए अतिरिक्त पॉवर
तीनों ट्रेनों को बेक लेने के लिए इटारसी से पॉवर भेजा गया। एक ही रूट चालू होने की वजह से मौके पर पॉवर चेंज करना संभव नहीं था। इसे देखते हुए तीनों ट्रेनों में यहां से पॉवर भेजकर उन्हें वापस खींचा गया।
पूरे जोन में अफरा-तफरी
सोमवार रात अप ट्रेक चालू होने का मैसेज पूरे जोन में भेजा गया। फील्ड पर काम कर रहे अधिकारियों को अपने सीनियर्स से वैरीगुड के मैसेज मिलने लगे, लेकिन अधिकारियों की यह खुशी ज्यादा देर नहीं टिकी और वॉकी-टॉकी पर हरदा से मैसेज चला कि अप ट्रेक फिर बाधित हो गया है। हालात का जायजा लेने के लिए मंगलवार को जोन महाप्रबंधक रमेश चंद्रा भी राजकोट एक्सप्रेस से इटारसी होकर हरदा पहुंचे। डीआएम आलोक कुमार समेत मंडल के सारे अधिकारी देर रात हरदा पहुंच गए थे।
क्या है मामला
सोमवार रात 11ः50 मिनट पर हावड़ा-मुबंई मेल यहां से रवाना की गई। इसके बाद मंगलवार तड़के 5ः45 मिनट पर यहां से झेलम एवं 6ः25 मिनट पर सचखंड एक्सप्रेस प्रापर रूट पर चलाई गई। तीनों गाड़ियों से पहले ट्रायल के रूप में जबलपुर-मुबंई गरीब रथ एवं एक गुड्स रैक मुबंई रवाना हुआ। दोनों गाड़ियां अप ट्रेक से आगे बढ़ गईं, लेकिन इसके बाद ओएचई पोल गिर गया। हादसे के बाद मैसेज इटारसी पहुंचा कि यातायात फिर बाधित हो गया है इसलिए अब ट्रेनें न भेजी जाएं। हरदा से पहले सचखंड एक्स. को चारखेड़ा स्टेशन पर करीब 3ः30 घंटे खड़ा रखा गया। दोपहर 12ः39 पर प्लेटफार्म एक पर सचखंड, दोपहर 1 बजे दो नंबर पर झेलम एवं इसके बाद हावड़ा मेल को बेक लेकर नागपुर की ओर से भुसावल चलाया गया। सचखंड के पॉयलेट जेडी पंथी ने बताया कि सुबह 8ः11 मिनट पर चारखेड़ा स्टेशन पर ट्रेन रूकी, इसके बाद ट्रेन को वापस लेने का मैसेज आया।
ऊपर से है भारी दबाब
अधिकारिक सूत्रों की मानें तो इस हादसे के बाद जल्द ही ट्रेफिक सुचारू करने के लिए रेलमंत्री, रेलवे बोर्ड से जोन के अधिकारियों पर भारी दबाब है। इसे लेकर रेलवे के आला अधिकारी 24 घंटे बेपटरी हुए यातायात को सुचारू करने में दिन-रात एक कर रहे हैं।
यात्रियों की हुई फजीहत
हावड़ा, सचखंड और झेलम के यात्रियों को इटारसी आकर खुशी हुई कि वे मूल ट्रेक से जल्दी अपने गंतव्य तक पहुंच जाएंगे लेकिन हरदा स्टेशन से पहले एक के बाद एक उनकी गाड़ियां आउटर पर रोक दी गईं। सुबह यहां से रवाना हुई ट्रेनों के यात्री जंगल एवं छोटे स्टेशनों पर घंटों फसे रहे। यहां चाय-नाश्ता तक नसीब नहीं हुआ। अमृतसर से हुजूर नांदेड़ जा रहे कृष्णगोपाल ने बताया कि उन्हें बुधवार को नांदेड़ पहुंचना था लेकिन चार घंटे गाड़ी फसी रही, अब बेक होकर आठ घंटे का लंबा फेर नागपुर होकर लगाना पड़ेगा। दिल्ली से नांदेड़ जा रहे डीडी पांडेय ने बताया चार घंटे जंगल में ट्रेन खड़ी रही। कोच में सवार महिलाओं और बच्चों की हालत खराब हो गई। ट्रेन चलने के इतंजार में फसे यात्रियों को पता चला कि अब ट्रेन वापस इटारसी आएगी। सुबह यहां से निकले तीनों ट्रेनों के यात्रियों को चार घंटे बाद फिर इटारसी आना पड़ा।
वापस लेना पड़ा
देर रात अप रूट क्लियर हो गया था। यहां से गरीब रथ एवं एक मालगाड़ी भुसावल के लिए रवाना की गई। इसके बाद रूट बाधित हो गया। यहां से रवाना हो चुकीं सचखंड, झेलम और हावड़ा को बेक लेकर डायवर्ट रूट से चलाया गया। फिलहाल सभी ट्रेनें नागपुर होकर ही चलेंगी।
वायएस बघेल, स्टेशन प्रबंधक।
Page#    Showing 1 to 1 of 1 News Items  

Go to Full Mobile site