Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

Kamayani Express - Late आना है काम तुम्हारा लेकिन मैं फिर भी हूँ तुम्हारा दीवाना - Aman

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Thu Jan 27 19:14:56 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Post PNRAdvanced Search

MTA/Mathela (2 PFs)
متھےلا     मथेला

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
SH 26, Punasa, Distt - Khandwa, PIN - 450551
State: Madhya Pradesh


Zone: WCR/West Central   Division: Bhopal

No Recent News for MTA/Mathela
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 14
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
0 Follows
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 13 of 13 News Items  
Nov 15 2021 (22:44) 446 करोड़ की लागत से तैयार मथेला-निमाड़खेड़ी ट्रैक लोकार्पित (www.naidunia.com)
IR Affairs
WR/Western
0 Followers
15068 views

News Entry# 470102  Blog Entry# 5124626   
  Past Edits
Nov 15 2021 (22:44)
Station Tag: Sanawad/SWD added by Adittyaa Sharma/1421836

Nov 15 2021 (22:44)
Station Tag: Nimar Kheri/NKR added by Adittyaa Sharma/1421836

Nov 15 2021 (22:44)
Station Tag: Mathela/MTA added by Adittyaa Sharma/1421836

Nov 15 2021 (22:44)
Station Tag: Khandwa Junction/KNW added by Adittyaa Sharma/1421836
खंडवा(नईदुनिया प्रतिनिधि)।
446 करोड़ रुपये की लागत से तैयार मथेला-निमाड़खेड़ी ट्रैक का वर्चुअल लोकार्पण भोपाल से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को किया है। इसमें विद्युतीकरण सहित आमान परिवर्तन कार्य शामिल है, लेकिन सनावद से मथेला को जोडकर भोपाल या इटारसी तक प्रस्तावित मेमू ट्रेन के लिए लोगों को अभी इंतजार करना पडेगा।
खंडवा से सनावद तक मेमू ट्रेन की राह एक बार फिर मुश्किल नजर आ रही है। पिछले दिनों सांसद ज्ञानेश्वर पाटील ने खंडवा व ओंकारेश्वर में संबोधित करते हुए मेमू ट्रेन चलाए जाने की जानकारी दी थी।
...
more...
जबकि प्रधानमंत्री ने मथेला से निमाड़खेड़ी तक विद्युतीकरण कार्य व आमान परिवर्तन का लोकार्पण किया है। 45 किलोमीटर का यह ट्रैक चार साल में 446 करोड़ रुपये की लागत से तैयार किया गया है। सनावद से निमाड़खेड़ी तक कार्य पूरा नहीं होने से फिलहाल मेमू ट्रेन जल्द शुरु होने की संभावना नहीं है।
30 व 31 मार्च को रतलाम रेल मंडल के डीआरएम ने टीम के साथ दौरा कर अधूूरे काम पूरा करने के लिए निर्देश दिए थे। इसके बाद आठ माह में भी यह कार्य पूरे नहीं हो सके। जिससे मेमू ट्रेन चलाने की अनुमति नहीं मिल रही। इस रेल रुट पर सिंगाजी थर्मल पावर प्लांट के लिए कोयले की आपूर्ति की जा रही है। इसी लाइन पर अहमदपुर खैगांव के पास से अलग लाइन लालचौकी होते हुए प्लेटफार्म नंबर चार व पांच से जोड़ा जाएगा। खंडवा से आगे भुसावल मंडल में भी ब्राडगेज लाइन का कार्य अधूरा ही है। इधर भाजपा नेता दीपक अग्रवाल ने इंदौर से अकोला के बीच गेज परिवर्तन में देरी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा व रेलमंत्री को ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा है कि गेज परिवर्तन का यह कार्य बहुत ही धीमी गति से हो रहा है। कुछ जगह अनुमति के अभाव में रुका भी है। नए मार्ग से दूरी भी कम होगी।
प्रधानमंत्री ने लिया नाम तो बजी तालियां
निमाड़खेड़ी व मथेला स्टेशन पर भोपाल में हुए आयोजन का सीधा प्रसारण किया गया था। इसमें सांसद व विधायक के नहीं पहुंचने पर उनके प्रतिनिधि पहुंचे। जब प्रधानमंत्री ने मथेला-निमाड़खेड़ी लाइन का लोकार्पण करते समय नाम लिया तो कार्यक्रम में मौजूद कार्यकर्ताओं व ग्रामीणों ने तालियां बजाकर उत्साह जताया। सांसद प्रतिनिधि के रुप में मौजूद पूर्व भाजपा जिला अध्यक्ष हरीश कोटवाले ने मंच से संबोधन देकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा यह कार्य यहां पूर्ण हो गए हैं। जल्द ही मेमू ट्रेन की सौगात भी मिलेगी। आने वाले समय में लंबी दूरी की ट्रेनें भी यहां से होकर गुजरेंगी।
समय सीमा में हो कार्य पूरा
मथेला रेलवे स्टेशन पर डा. राजेंद्र पलोड़ ने क्षेत्र की जनता की तरफ से अपनी बात रखी। उन्होंने कहा सांसद ने कहा था ट्रेन शुरु होगी, लेकिन विद्युतीकरण कार्य का लोकार्पण किया है। सनावद-खंडवा के बीच समय सीमा पर कार्य पूरा नहीं हो सका है। क्षेत्रवासियों की सुविधा के लिए जल्द से जल्ड मेमू ट्रेन शुरु होना चाहिए। सनावद रेलवे फाटक पर पुनासा की तरफ थोड़ा सा काम है उसे पूरा किया जाए। टोल के आगे 381 किलोमीटर नंबर पुलिया पर सब वे जरूरी है। इससे ट्रैफिक कंट्रोल होगा। कई बार एंबुलेंस भी जाम में फंस जाती है। आमान परिवर्तन का यह कार्य तेजी से होना चाहिए। इसकी प्राथमिकता के लिए सभी को मिलकर कार्य करना होगा।
Aug 27 2021 (01:55) रेलवे स्टेशन पर सफाई, माल गोदाम पर गंदगी (www.naidunia.com)
IR Affairs
CR/Central
0 Followers
9731 views

News Entry# 463010  Blog Entry# 5051627   
  Past Edits
Aug 27 2021 (01:55)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 27 2021 (01:55)
Station Tag: Mathela/MTA added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 27 2021 (01:55)
Station Tag: Khandwa Junction/KNW added by Adittyaa Sharma/1421836
खंडवा(नईदुनिया प्रतिनिधि)। खंडवा रेलवे स्टेशन को आदर्श रेलवे स्टेशन बनाने की तैयारी चल रही है। इधर 500 मीटर दूर माल गोदाम पर गंदगी पसरी रहती है। रैक खाली होने के बाद पटरी पर फैला कचरा भी कई दिनों तक नहीं हटाया जाता। पहुंच मार्ग बनाने के लिए सड़क से खोदी गई मिट्टी को पास ही में ढेर लगाया गया है। जिसके कारण वाहनों को आने जाने में भी दिक्कत होती...
more...
है। प्लेटफार्म का काम भी अधूरा है।
रेलवे स्टेशन से माल गोदाम पहुंचने के लिए पंधाना रोड से मुख्य गेट बनाया गया है। बस स्टेशन के पास से भी पहुंच मार्ग है। इस मार्ग पर गड्ढे होने से आने जाने में दिक्कत होती है। पंधाना रोड वाले मुख्य मार्ग पर गंदगी पसरी रहती है। कोरोना संक्रमण के कारण रैक प्रभावित हुए थे। अब फिर से यह शुरू हुए हैं। एक माह में 30 रैक पहुंच रहे हैं। यहां पर हम्माल व मजदूरों के लिए भी सुविधाओं की कमी है। रेलवे के आई डब्ल्यु पीएस भुसारी ने बताया डीआरएम के निर्देश के अनुसार सफाई व अन्य काम किया जा रहा है। अभी पूरे प्लेटफार्म के नवीनीकरण को लेकर भी प्लानिंग की जा रही है।
नए शेड का काम अधूरा
माल गोदाम के प्लेटफार्म पर 45 बाय 12 मीटर का एक शेड लगभग 20 लाख रुपये की लागत से बनाया जा रहा है। कोरोना संक्रमण के कारण लाकडाउन लगने से इसका काम भी अधूरा है। पिछले दिनों रतलाम मंडल के डीआरएम ने निरीक्षण के दौरान गुणवत्ता बनाए रखने व काम जल्द पूरा करने के निर्देश दिए थे। साथ ही अन्य व्यवस्थाओं का निरीक्षण भी किया था।
नया प्लेटफार्म की तैयारी
माल गोदाम की उपयोगिता व रेलवे गुड्स के प्रति व्यापारियों को आकर्षित करने के लिए रेलवे लगातार काम कर रहा है। इसी के तहत प्लेटफार्म का विस्तारिकरण व सुंदरीकरण की योजना है।
मथेला में भी बन रहा माल गोदाम
मथेला रेलवे स्टेशन पर भोपाल रेलमंडल द्वारा नया माल गोदाम बनाया जा रहा है। इसका काम शुरू हो चुका है। शहर के बाहर होने से यहां से लोडिंग- अनलोडिंग का काम भी आसानी से किया जा सकेगा।
Jul 29 2021 (06:40) रेलवे के सहयोग से छोटे व्यापारी भी भेज सकेंगे माल (www.naidunia.com)
IR Affairs
CR/Central
0 Followers
11760 views

News Entry# 460493  Blog Entry# 5027249   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
Stations:  Khandwa Junction/KNW   Mathela/MTA  
खंडवा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मथेला में बन रहे रेलवे के माल गोदाम का काम अब तेजी से किया जाएगा। इस माल गोदाम के बनने से खंडवा सहित आसपास के अन्य जिलों से छोटे व्यापारियों को फायदा होगा। सड़क मार्ग से परिवहन की तुलना में यह काफी मददगार साबित होगा। यहां एक फूल रेक की क्षमता का गोदाम बनाया जा रहा है।
यह बात बुधवार शाम मथेला रेलवे स्टेशन पहुंचे भोपाल रेल मंडल के सीनियर कमर्शियल मैनेजर विजय प्रकाश ने व्यापारियों के साथ चर्चा के दौरान कही। उन्होंने क्षेत्र में सब्जी, अनाज व अन्य सामग्रियों के बाहर भेजे जाने की स्थिति पर व्यापारियों से चर्चा की। वहीं उन्हें रेलवे द्वारा शुरु की गई स्कीमों की जानकारी भी दी। वहीं व्यापारियों को
...
more...
कम समय में, कम खर्च पर अधिक सामग्री भेजे जाने की स्थिति से भी अवगत कराया। सीनियर डीसीएम ने बताया मथेला में जो माल गोदाम तैयार हो रहा है वह फूल रेक क्षमता का है। शहर के बाहर होने से यह लोडिंग-अनलोडिंग में भी सुविधाजनक होगा। इसके लिए सभी व्यापारियों से चर्चा भी की गई। जल्द से जल्द इसका काम पूरा किया जाएगा। निरीक्षण के दौरान सीनियर डीओएम, सीनियर डीपीआरएम व अन्य अधिकारी मौजूद रहे।
Apr 28 2021 (07:53) पश्चिम रेलवे ने सुलगांव के निकट बंद किया समपार (www.naidunia.com)
Commentary/Human Interest
WR/Western
0 Followers
19357 views

News Entry# 450013  Blog Entry# 4949272   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
पुनासा (नईदुनिया न्यूज)। ग्राम सुलगांव के निकट खंडवा-इंदौर मीटरगेज रेलवे लाइन का गेज परिवर्तन क्षेत्रवासियों के लिए परेशानी की वजह बन गया है। मीटरगेज को ब्राडगेज में बदलने के बाद रेलवे में गांव के पास ने निकलने वाले रेलवे समपार (गेट) को बंद कर दिया है। इसके विकल्प के लिए रेलवे की ओर से कोई व्यवस्था नहीं करने से गांव के मुक्तिधाम जाने रास्ता बंद और 20 से अधिक किसानों को खेत तक पहुंचा मुश्किल हो गया है। इस परेशानी को लेकर क्षेत्र के प्रभावित किसानों ने भारतीय किसान संघ के माध्यम से एसडीएम को ज्ञापन सौंपा है। किसानों ने गेट खुलवाने या अंडरब्रिज बनाने की मांग की है।
इस रेलवे लाइन के दक्षिण-पश्चिम रेलवे द्वारा सुलगांव में
...
more...
समपार नंबर 278 को बंद कर दिया है। इस गेट से क्षेत्र के 20 से अधिक किसान आवाजाही करते है। इन किसानों व अन्य लोगों की सुविधा के लिए रेलवे प्रशासन ने पहले यहां समपार बना रखा था समपार बंद करने व खोलने के लिए
कर्मचारी भी नियुक्त थे। लेकिन खंडवा से सनावद तक मीटरगेज को ब्राडगेज में तब्दील करने का कार्य शुरू होने के बाद रेलवे ने यह समपार बंद कर दिया है। स्थायी रूप से बंद कर दिया है। गेट के दोनों ओर लोहे की पटरियों को वेल्डिंग कर आवागमन पूर्णतया प्रबंधित कर दिया है। ऐसे में यहां से साइकिल तक भी नहीं निकल पा रही है।
10 से 12 किमी का चक्कर लगाने को विवश किसान
ग्राम सुलगांव के किसान इंदरसिंह सिसोदिया, धनसिंह, देवी सिंह व दिलीप सिंह ने बताया कि गांव के बहुत से किसानों की जमीन और
एक मुक्तिधाम रेलवे गेट के उस पार है। खरीफ की फसल के लिए किसानों को अपने खेत तैयार करना है। रेलवे गेट बंद होने से पहले किसान अपने खेतों में एक से डेढ़ किलोमीटर की दूरी पारकर पहुंच जाया करते थे। लेकिन रेलवे गेट बंद होने से अब किसानों को अपने खेत मे जाने के लिए लगभग 10 से 12 किलोमीटर की दूरी तय करना पड़ रही है। यही दिक्कत मुक्तिधाम जाने वाली शवयात्रा में भी आएगी।
किसानों ने बताया कि रेलवे के अधिकारियों ने गेट बंद करते समय यह स्पष्ट नहीं किया कि किसानों को खेत व मुक्तिधाम जाने के
लिए अंडरब्रिज बनेगा या नहीं। पीड़ित किसानों ने भारतीय किसान संघ के राधेश्याम चाचरिया, सुभाष पटेल के नेतृत्व में बीती 19 अप्रैल को अपनी गुहार लेकर पुनासा एसडीएम चंदरसिंह सोलंकी से मुलाकात कर रेलवे गेट पुनः चालू करने या अंडरब्रिज बनाने की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा है।
ब्रॉडगेज कन्वर्जन के बाद मथेला के रास्ते सनावद तक यात्री ट्रेनें चलाने का रास्ता साफ होता नजर आ रहा है। क्योंकि पश्चिम रेलवे के रतलाम रेल मंडल के निमाड़खेड़ी-सनावद के बीच 12 किलोमीटर नए रेलमार्ग के निरीक्षण के लिए रेलवे चीफ कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) 31 मार्च और 1 अप्रैल को निरीक्षण करेंगे। सब कुछ ठीक रहा तो जल्द ही इस ट्रैक पर ट्रेनें दौड़ेंगीं। 1 जनवरी 2017 से मीटरगेज रेल मार्ग को गेज परिवर्तन करने के लिए ब्लॉक लिया था, जिसके बाद मथेला स्टेशन से निमाड़खेड़ी तक गेज परिवर्तन पूरा कर मालगाड़ियां चलाई जा रही है, जबकि निमाड़खेड़ी से सनावद के बीच बचे गेज परिवर्तन को रेलवे ने अब पूरा कर लिया है। इस मार्ग पर ट्रेनें चल सकें, इसके लिए रेलवे सेफ्टी ऑफ कमिश्नर की अनुमति अनिवार्य है। इसको लेकर 31 मार्च को चीफ कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी एसके पाठक नए गेज परिवर्तन रेलमार्ग का निरीक्षण करेंगे। इसके...
more...
बाद अनुमति मिलने पर मथेला के रास्ते सनावद तक यात्री ट्रेनें चलाने का रास्ता साफ हो जाएगा।
रक्सौल-पटना ट्रेनों के फेरे जुलाई तक बढ़ाए
रेलवे ने मुंबई से पटना और रक्सौल जाने वाली विशेष ट्रेनों के फेरे जून-जुलाई तक बढ़ा दिए है। जानकारी के मुताबिक ट्रेन नंबर 03260 छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस सीएमएसटी-पटना जंक्शन द्वि-साप्ताहिक (मंगलवार और शुक्रवार) सुपरफास्ट विशेष 6 अप्रैल से 2 जुलाई तक, 03259 पटना जंक्शन से सीएमएसटी द्वि-साप्ताहिक (रविवार और बुधवार) सुपरफास्ट विशेष 4 अप्रैल से 30 जून।
02546 एलटीटी से रक्सौल साप्ताहिक (शनिवार) सुपरफास्ट विशेष 3 अप्रैल से 26 जून, 02545 रक्सौल - एलटीटी साप्ताहिक (गुरुवार) सुपरफास्ट विशेष 1 अप्रैल से 24 जून, 05548 एलटीटी-रक्सौल साप्ताहिक (बुधवार) 7 अप्रैल से 30 जून, 05547 रक्सौल - एलटीटी साप्ताहिक (सोमवार) 5 अप्रैल से 28 जून, 05268 एलटीटी - रक्सौल साप्ताहिक (सोमवार) 5 अप्रैल से 28 जून, 05267 रक्सौल-एलटीटी साप्ताहिक (शनिवार) 3 अप्रैल से 26 जून तक चलेगी।
Page#    Showing 1 to 13 of 13 News Items  

Go to Full Mobile site