PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Brindavan Express - ರೈಲು ಹೆಸರು ಬೃಂದಾವನ್ ,ಇದು ಯಾವಾಗಲೂ Number 1 - Vijay Baradwaj

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sun Nov 29 17:07:46 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 1976632-0
Night Pic; Front Entrance - Outside; Large Station Board;
Entry# 3745420-0


BSP/Bilaspur Junction (8 PFs)
     बिलासपुर जंक्शन

Track: Triple Electric-Line

Show ALL Trains
Jn Point APR/R/CPH, SECR HQ, Nr Wireless Colony, Tarbahar Chowk,Bilaspur
State: Chhattisgarh

Elevation: 272 m above sea level
Zone: SECR/South East Central   Division: Bilaspur

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 8
Number of Halting Trains: 110
Number of Originating Trains: 32
Number of Terminating Trains: 33
Rating: 4.1/5 (278 votes)
cleanliness - excellent (36)
porters/escalators - good (35)
food - good (36)
transportation - good (34)
lodging - good (34)
railfanning - good (34)
sightseeing - good (34)
safety - excellent (35)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 3558 News Items  next>>
बिलासपुर। Railway News: जोनल स्टेशन के गेट क्रमांक एक पर लिफ्ट लगाने का काम एक- दो दिनों में शुरू हो जाएगा। निर्माण कंपनी ने शनिवार को सारे जरूरी उपकरण यहां ला कर रख दिए हैं। इसके बाद चलित सीढ़ी तैयार यानी लिफ्ट तैयार की जाएगी। जल्द ही यात्रियों को इसकी सुविधा मिलने लगेगी और चार अलग- अलग प्लेटफार्म पर पहुंचना आसान हाे सकेगा।
रेलवे यात्रियों की सुविधा पर जोर दे रही है। इसके तहत ही गेट क्रमांक के बाहर से लिफ्ट व चलित सीढ़ी बनाने निर्णय लिया। इससे उन यात्रियों को राहत मिलेगी जो प्लेटफार्म दो- तीन या चार- पांच पर जाना चाहते हैं। उन्हें प्लेटफार्म एक में जाने की आवश्यकता ही नहीं पडे़गी। वह गेट के बाहर से चारों प्लेटफार्म पर
...
more...
जा सकते हैं। रेलवे ने एक फुट ओवरब्रिज तैयार किया है। जिसे गर्डर लगाकर दो- तीन और चार- पांच प्लेटफार्म पर जाने वाले ब्रिज से जोड़ दिया गया है।
यात्रियों के चलने के लिए स्लीपर और बारिश- धूप से बचाने के लिए शेड लगाने का बाकी है। जिसे दिसंबर में पूरा कर लिया जाएगा। यात्री ब्रिज तक लिफ्ट व चलित सीढ़ी के जरिए आसानी से पहुंच सकते हैं। यह सुविधा उन यात्रियों के लिए राहत भरी रहेगी जो दिव्यांग, बीमार या फिर बुजुर्ग है। हालांकि इनके लिए बैटरी कार की सुविधा थी, लेकिन कोरोना काल में परिचालन नहीं होने के कारण कार बिगड़ गई। लिफ्ट का काम एक- दो दिनों में शुरू हो जाएगा।
रैंप की जगह बनेगी सीढ़ी
गेट क्रमांक एक के बाहर लिफ्ट व इलेक्ट्रिॉनिक चलित सीढ़ी के अलावा रैंप भी बनाने की योजना थी। इसके लिए पूरी तैयारी भी थी, लेकिन जगह की कमी और रैंप का उपयोग की आवश्यकता नहीं होने पर रेल प्रशासन ने फिलहाल रैंप बनाने की योजना स्थगित कर दी है। अब उसकी जगह पर सामान्य सीढ़ी बनाई जाएगी।
Today (08:19) Railway News: स्टेशन के स्टालों से मास्क और सैनिटाइजर गायब, चेहरे पर रूमाल बांधकर घूम रहे लोग (www.naidunia.com)
IR Affairs
SECR/South East Central
0 Followers
1858 views

News Entry# 426438  Blog Entry# 4794692   
  Past Edits
Nov 29 2020 (08:20)
Station Tag: Bilaspur Junction/BSP added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Bilaspur Junction/BSP  
शिव सोनी, बिलासपुर। Railway News: काेराेना वायरस संक्रमण के हालात को देखते हुए हर तरफ सतर्कता बरती जा रही है। खास कर रेलवे और हवाई यात्रा के दौरान और भी ज्यादा सतर्क रहना है। सड़कों पर जगह- जगह मास्क और सैनीटाइजर के स्टॉल दिख रहे हैं, लेकिन जोनल स्टेशन पर यदि आपको मास्क या सैनीटाइजर चाहिए तो वह आपको यहां शायद ही मिल पाए। स्टॉल में अगर मास्क सैनीटाइजर उपलब्ध भी हैं तो उन्हें किसी कोने में रखा गया है और वह किसी ग्राहक को नजर ही नहीं आ सकती। स्टॉल को पूरी तरह खाने- पीने की चीजों से सजा दिया गया है। जोनल अफसरों को भी स्टाॅल संचालकों की इस लापरवाही से कोई लेना- देना नहीं लगता, इसलिए कोई मुआयने के लिए नहीं आता। हालत यह हैं कि लोग यहां सुरक्षा के नाम पर मुंह में बेतरतीब तरीके से गमझा और रूमाल बांधकर घूमते नजर आ रहे हैं।
दरअसल
...
more...
स्टॉल संचालकों की मनमानी ही है और वे अपने हिसाब से ही स्टालों का संचालन करते हैं। इनमें उन्हें रेल यात्रियों की सुविधाओं और असुविधाओं से कोई भी सरोकार नहीं है। अक्सर स्टॉल पर सामानों की अंकित मूल्य से अधिक कीमत लिए जाने सहित अन्य अव्यवस्थाओं की शिकायतें आती रहती हैं। नईदुनिया की टीम ने स्टेशन के प्लेफार्म पर बने अलग- अलग स्टॉलों का मुआयना किया और इनमें से किसी में स्टॉल पर मास्क और सैनीटाइजर का डिस्प्ले नजर नहीं आया, वहां सिर्फ चिप्स- बिस्किट के पैकेट और सॉफ्ट ड्रिंक सहित खाने- पीने की अन्य चीजें ही नजर आईं।
कोरोना वायरस को देखते हुए रेलवे स्टाल संचालकों को मास्क व सैनिटाइजर रखने का आदेश दिया था। इस व्यवस्था को लागू करने के लिए शुरुआत में प्रशासन ने कड़ाई भी बरती। इस दौरान उन्हें स्टाल के सामने ही इन सामानों को रखने के लिए कहा था। संचालक कार्रवाई की डर से सामान भी रखे थे, लेकिन अब प्रशासन ने ढिलाई कर दी है। जिसकी वजह से संचालक मास्क व सैनिटाइजर को हटाकर पहले की तरह खाने- पीने की चीजों को सामने लटकाकर रख रहे हैं।
कर रहे नियमों का उल्लंघन
सामने नहीं दिखने से यात्रियों को जानकारी ही नहीं मिल पाती है। जबकि सफर से नियम का पालन करते हुए दोनों सामान रखना अनिवार्य है। संचालकों द्वारा खुलेआम लापरवाही की जा रही है। जांच नहीं होने के कारण संचालक भी बेख़ौफ़ नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं। इसकी वजह से कोरोना का खतरा बढ़ गया है। ट्रेन सभी जगह के यात्री रहते हैं। यदि एक भी यात्री संक्रमित है तो दूसरे यात्री प्रभावित हो सकते हैं। मालूम हो कि स्टेशन 30 से अधिक स्टाल है। इनमें से करीब तीन जूस स्टाल है। इन्हें ही छूट दी गई। बहुउद्देशीय स्टालों को खास तौर पर मास्क, सैनिटाइजर, तकिया आदि रखने का निर्देश है।
रूमाल बांधकर यात्रा
सफर के दौरान मापदंड के अनुरूप मास्क पहनना है। स्टेशन के मुख्य द्वार में तैनात कर्मचारियों को यह भी जांच करने का आदेश है, लेकिन अधिकांश यात्री रुमाल बांधकर स्टेशन पहुंच रहे हैं। इन यात्रियों को मना करने के बजाय प्रवेश दे दिया जाता है। इनमें वे यात्री शामिल है जो मजदूर वर्ग के हैं और कमाने- खाने के लिए फिर पलायन करने लगे हैं।
रेलवे प्रशासन द्वारा विभिन्न पूजा स्पेशल गाड़ियों का परिचालन 30 नवंबर तक किया जा रहा था। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे से होकर चलने व गुजरने वाली 6 जोड़ी गाड़ियों के परिचालन का विस्तार किया गया है। 02857 / 02858 विशाखापट्नम-एलटीटी-विशाखापट्नम पूजा स्पेशल ट्रेन का विस्तार 29 दिसम्बर तक किया गया है । अब यह गाड़ी विशाखापट्नम से प्रत्येक रविवार को 06 से 27 दिसम्बर तक तथा एलटीटी से प्रत्येक मंगलवार को 08 से 29 दिसम्बर तक चलेगी ।
विस्तारित की गई गाड़ियों की जानकारी इस प्रकार है -1. 02251 / 02252 यशवंतपुर–कोरबा–यशवंतपुर साप्ताहिक पूजा स्पेशल ट्रेन का विस्तार 27 दिसम्बर तक किया गया है । अब यह गाड़ी यशवंतपुर से प्रत्येक शुक्रवार को 04 से 25 दिसम्बर तक तथा कोरबा से प्रत्येक
...
more...
रविवार को 06 से 27 दिसम्बर तक चलेगी ।2. 02880 / 02879 भुवनेश्वर–एलटीटी-भुवनेश्वर द्वि-साप्ताहिक पूजा स्पेशल ट्रेन का विस्तार 02 जनवरी तक किया गया है। अब यह गाड़ी भुवनेश्वर से प्रत्येक सोमवार एवं गुरुवार को 03 से 31 दिसम्बर तक तथा एलटीटी से प्रत्येक बुधवार एवं शनिवार को 05 दिसम्बर से 02 जनवरी तक चलेगी ।3. 02866 / 02865 पुरी–एलटीटी-पुरी साप्ताहिक पूजा स्पेशल ट्रेन का विस्तार 31 दिसम्बर तक किया गया है। अब यह गाड़ी पुरी से प्रत्येक मंगलवार को 01 से 29 दिसम्बर तक तथा एलटीटी से प्रत्येक गुरुवार को 03 से 31 दिसम्बर 2020 तक चलेगी ।4. 02827 / 02828 पुरी–सूरत-पुरी साप्ताहिक पूजा स्पेशल ट्रेन का विस्तार 29 दिसम्बर तक किया गया है। अब यह गाड़ी पुरी से प्रत्येक रविवार को 06 से 27 दिसम्बर तक तथा सूरत से प्रत्येक मंगलवार को 08 से 29 दिसम्बर तक चलेगी।5. 02887 / 02888 विशाखापट्नम–निजामुद्दीन-विशाखापट्नम पूजा स्पेशल ट्रेन (सप्ताह में 05 दिन) का विस्तार 02 जनवरी तक किया गया है । अब यह गाड़ी विशाखापट्नम से प्रत्येक मंगलवार, बुधवार, गुरुवार, शनिवार एवं रविवार को 01 से 31 दिसम्बर तक तथा निजामुद्दीन से प्रत्येक गुरुवार, शुक्रवार, शनिवार, सोमवार एवं मंगलवार को 03 दिसम्बर से 02 जनवरी तक चलेगी।
इन दिनों लंबी रूट की ट्रेनों में जबरदस्त वेटिंग है। यात्रियों को कंफर्म टिकट के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। तत्काल टिकट भी मिनटों में ही फुल हो जा रहा है। इस स्थिति को देखते हुए रेलवे प्रशासन ने पहले से शुरू की गई 6 जोड़ी ट्रेनों का विस्तार कर दिया है, ताकि यात्रियों को कुछ राहत मिल सके। विभिन्न पूजा स्पेशल ट्रेनों का परिचालन 30 नवंबर तक किया जा रहा था। यात्रियों की सुविधा व मांग को ध्यान में रखते हुये रायपुर होकर गुजरने वाली 6 जोड़ी ट्रेनों के परिचालन का विस्तार करने का फैसला हुआ है। ये सभी ट्रेनें पूर्णतया आरक्षित है। जनरल कोच के लिए भी सेकंड सिटिंग का आरक्षण किया जा रहा है।
02251/02252 यशवंतपुर-कोरबा
...
more...
साप्ताहिक पूजा स्पेशल ट्रेन के परिचालन का विस्तार 27 दिसंबर तक किया गया है।अब यह ट्रेन यशवंतपुर से प्रत्येक शुक्रवार को 04 से 25 दिसंबर तक तथा कोरबा से प्रत्येक रविवार को 06 से 27 दिसंबर तक चलेगी।
02880/02879 भुवनेश्वर-एलटीटी द्वि-साप्ताहिक पूजा स्पेशल का विस्तार 02 जनवरी तक किया गया है। अब यह ट्रेन भुवनेश्वर से प्रत्येक सोमवार एवं गुरुवार को 03 से 31 दिसम्बर तक तथा एलटीटी से प्रत्येक बुधवार एवं शनिवार को 05 दिसंबर से 02 जनवरी तक चलेगी।
02866/02865 पुरी–एलटीटी साप्ताहिक पूजा स्पेशल अब 31 दिसंबर तक चलेगी। अब यह ट्रेन पुरी से प्रत्येक मंगलवार को 01 से 29 दिसंबर तक तथा एलटीटी से प्रत्येक गुरुवार को 03 से 31 दिसंबर तक चलेगी।
02827/02828 पुरी-सूरत साप्ताहिक पूजा स्पेशल का विस्तार 29 दिसंबर तक किया गया है। अब यह ट्रेन पुरी से प्रत्येक रविवार को 06 से 27 दिसंबर तक तथा सूरत से प्रत्येक मंगलवार को 08 से 29 दिसंबर तक चलेगी।
02887/ 02888 विशाखापट्नम-निज़ामुद्दीन पूजा स्पेशल ट्रेन (सप्ताह में 05 दिन) का विस्तार 02 जनवरी तक किया गया है। अब यह ट्रेन विशाखापट्नम से प्रत्येक मंगलवार, बुधवार, गुरुवार, शनिवार एवं रविवार को 01 से 31 दिसंबर तक तथा निज़ामुद्दीन से प्रत्येक गुरुवार, शुक्रवार, शनिवार, सोमवार एवं मंगलवार को 03 दिसंबर से 02 जनवरी 2021 तक चलेगी।
02857/02858 विशाखापट्नम-एलटीटी साप्ताहिक ट्रेन के 29 दिसंबर तक चलेगी। अब यह ट्रेन विशाखापट्नम से प्रत्येक रविवार को 06 से 27 दिसंबर तक तथा एलटीटी से प्रत्येक मंगलवार को 08 से 29 दिसंबर तक चलेगी।
Nov 27 (08:11) Bilaspur News: धरनास्थल से आरपीएफ ने टेंट उखाड़कर उम्मीदवारों को खदेड़ा (www.naidunia.com)
IR Affairs
SECR/South East Central
0 Followers
6680 views

News Entry# 426171  Blog Entry# 4792407   
  Past Edits
Nov 27 2020 (08:12)
Station Tag: Bilaspur Junction/BSP added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Bilaspur Junction/BSP  
बिलासपुर। Bilaspur News: रेलवे ग्रुप डी परीक्षा की सभी श्रेणी में पास होने के बाद भी नियुक्ति नहीं होने से नाराज उम्मीदवार गुरुवार को दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन कार्यालय के सामने धरने बैठे थे। इस बीच आरपीएफ ने उम्मीदवारों को खदेड़ते हुए टेंट उखाड़ दिया। उम्मीदवारों ने धक्का-मुक्की का भी आरोप लगाया है।
ये वे उम्मीदवार हैं जिन्होंने 2012 में रेलवे ग्रुप डी की लिखित परीक्षा के अलावा शारीरिक दक्षता, मेडिकल परीक्षा पास की है। वर्ष 2010 में जोन में ग्रुप डी के 5798 रिक्त पदों पर भर्ती निकाली गई थी। उस समय करीब 1335 उम्मीदवारों को रेलवे ने प्रतीक्षा सूची में रखा था। वर्तमान में पद रिक्त होने के बाद भी उनकी नियुक्ति नहीं हो पा रही है।
इसी
...
more...
के चलते उम्मीदवारों ने दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन कार्यालय के सामने धरना देने का नोटिस दिया। इसी के तहत सभी सुबह 11 बजे जोन कार्यालय के सामने पहुंचे। धरना टेंट लगाकर दिया जा रहा था। अभी विरोध की शुरुआत हुई ही थी कि आरपीएफ पहुंच गई। इसके बाद उन्हें खदेड़ने लगी।
आरपीएफ का डंडा देख उम्मीदवार भी सहम गए। हालांकि उन्होंने नहीं हटने की बात कही, लेकिन आरपीएफ की सख्ती के आगे उम्मीदवार नहीं टिक सके। इस दौरान टेंट उखाड़ दिए गए। धरनास्थल से भगाए जाने के बाद उम्मीदवार सेकरसा मैदान के पास बैठक करते नजर आए।
अलग-अलग राज्यों से पहुंचे थे
उम्मीदवार बिहार, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ समेत विभिन्न राज्यों के थे। कुछ तो धरना में शामिल होने के लिए बाइक से पहुंचे थे। उनका कहना है कि यदि उन्हें नौकरी पर नहीं रखा गया तो आने वाले दिनों में बड़ा आंदोलन करेंगे। इसमें प्रतीक्षा सूची में शामिल सभी उम्मीदवार शामिल होंगे।
Page#    Showing 1 to 20 of 3558 News Items  next>>

Go to Full Mobile site